नागपुर से झारखंड के दो लोगों के शव पहुंचते ही हजारीबाग और गिरिडीह के गांव में पसरा मातम

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

रांची/हजारीबाग : महाराष्ट्र के नागपुर से झारखंड के दो लोगों के शव पहुंचते ही हजारीबाग के दो गांवों में मातम पसर गया. दोनों शव गुरुवार को हजारीबाग पहुंचे. दो दिन पहले नागपुर में बिजली के ट्रांसमिशन टावर से गिरने की वजह से इनकी मृत्यु हो गयी थी. मृतकों में एक हजारीबाग के विष्णुगढ़ के भेलवारा का रहने वाला है, जबकि दूसरा गिरिडीह के सरिया का.

शव के घर पहुंचते ही पूरे गांव में मातम पसर गया. नागपुर में ट्रांसमिशन टावर से गिरकर जिन दो मजदूरों की मृत्यु हुई थी, उनमें से एक का नाम महेश विश्वकर्मा (25) है. वह हजारीबाग जिला के विष्णुगढ़ प्रखंड के भेलवारा का रहने वाला है. महेश का शव देखते ही उसकी पत्नी सुनीता देवी बेहोश हो गयी. 5 माह की गर्भवती सुनीता और महेश के परिजनों की चीत्कार से वहां मौजूद लोगों की आंखें भी नम हो गयीं.

दूसरी तरफ, गिरिडीह जिला के तेजो महतो (30) का शव देख उसके गांव में भी कोहराम मच गया. वह बगोदर थाना क्षेत्र के देवराडीह के गम्हरिया टांड़ गांव का रहने वाला था. तेजो के परिजनों को सांत्वना देने बगोदर के पूर्व विधायक विनोद कुमार सिंह समेत कई नेता पहुंचे. परिजनों ने आक्रोश जताया है कि कंपनी ने मृतकों को कोई मुआवजा नहीं दिया.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें