ध्वस्त किये जायेंगे अवैध कब्जे वाले क्वार्टर

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

आदित्यपुर : दक्षिण-पूर्व रेलवे चक्रधरपुर मंडल की आदित्यपुर रेलवे कॉलोनी के काफी बड़े हिस्से पर वर्षों से अतिक्रमण है. जहां रेलवे की बिजली-पानी का उपयोग भी आराम से किया जाता है. रेलवे की खाली पड़ी जमीन ही नहीं रेलवे कर्मचारियों के लिए बनाये गये कई क्वार्टर पर बाहरी लोगों का कब्जा है.

जहां अतिक्रमणकारी या तो खुद रहते हैं या घरों को भाड़े पर लगाकर वर्षों से मोटी कमायी कर रहे हैं. रेलवे प्रशासन ने अवैध रूप से क्वार्टरों में रहने वाले लोगों से मुक्ति पाने के लिए नयी युक्ति लगायी है. इसमें अवैध कब्जा वाले क्वार्टर को जर्जर बताकर उन्हें ध्वस्त करने का निर्णय लिया गया है.
यूनियन चुनाव की सक्रियता बढ़ी. रेलवे कर्मचारियों की यूनियनों के बीच 28-29 अगस्त को होने वाले चुनाव को लेकर इन दिनों सक्रियता बढ़ गयी है.
यूनियन नेताओं का कर्मचारियों से संपर्क करने व उनके साथ बैठक करने का दौर चल रहा है. यहां कर्मचारियों की तीन यूनियनें कार्यरत है. सक्रिय यूनियनों में साउथ इस्टर्न रेलवे मेंस कांग्रेस, साउथ इस्टर्न रेलवे मेंस यूनियन व दक्षिण-पूर्व रेलवे मजदूर संघ शामिल हैं. यूनियन नेताओं के अनुसार पूरे मंडल में 33 प्रतिशत मत प्राप्त करने वाली यूनियन को पांच सालों के लिए मान्यता मिलती है.
जर्जर क्वार्टर के निवासियों को नोटिस
रेलवे अधिकारियों ने उनकी पहचान छुपाने की शर्त पर बताया कि कंडम क्वार्टर में रहने वाले लोगों को सुरक्षा के दृष्टिकोण से घर खाली करने की नोटिस दी गयी है. जिनमें रहना असुरक्षित है. वैसे रेलवे सूत्रों का कहना है कि फिलहाल छह ऐसे क्वार्टर में रहने वाले लोगों को नोटिस दी गयी है.
जिनमें से दो में रेलवे कर्मचारी निवास कर रहे हैं, लेकिन बाकी चार में बाहरी लोगों का कब्जा है. इन घरों को आसपास के कुछ लोगों ने भाड़ा पर लगा दिया है. नोटिस से इनमें खलबली मची है. समझा जा रहा है कि रेलवे प्रशासन ऐसे घरों को खाली करवाकर उन्हें ध्वस्त करवा देगा.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें