36.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

सुशील मोदी का पार्थिव शरीर पंचतत्व में विलीन, दीघा घाट पर राजकीय सम्मान के साथ दी गई विदाई

बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम सुशील मोदी का अंतिम संस्कार मंगलवार की रात पटना में किया गया. उनके अंतिम संस्कार में भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा भी पहुंचे थे. इससे पहले सुशील मोदी के पार्थिव शरीर को बिहार विधानमंडल और भाजपा कार्यालय ले जाया गया.

Sushil Modi Funeral: बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और दिग्गज बीजेपी नेता सुशील कुमार मोदी का अंतिम संस्कार मंगलवार शाम को पटना के दीघा घाट पर हुआ. जहां उन्हें उनकी अनंत यात्रा के लिए राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई. उनके बड़े बेटे ने उन्हें मुखाग्नि दी. इस दौरान भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा सहित विभिन्न राजनीतिक दलों व सामाजिक संगठनों के लोग बड़ी संख्या में मौजूद रहे.

पैतृक आवास पर आम लोगों ने किए दर्शन

72 वर्षीय सुशील मोदी का सोमवार की रात दिल्ली एम्स में इलाज के दौरान निधन हो गया था. वे पिछले छह माह से गले के कैंसर की गंभीर बीमारी से पीड़ित थे. इससे पहले मंगलवार को दोपहर करीब 2.45 बजे परिवार के सदस्य और उनके करीबी सुशील मोदी के पार्थिव शरीर को विमान से पटना लेकर पहुंचे. उनके पार्थिव शरीर को सबसे पहले आम लोगों के दर्शन के लिए राजेंद्र नगर रोड नंबर 6 स्थित उनके पैतृक घर लाया गया. इसके बाद विजय निकेतन (संघ कार्यालय) में उन्हें विदाई दी गई. संघ कार्यालय से सुशील मोदी का पार्थिव शरीर बिहार विधानमंडल लाया गया. यहां दोनों सदनों के सदस्यों ने उन्हें पुष्पांजलि अर्पित की.

भाजपा कार्यालय में दी गई श्रद्धांजलि

विधानमंडल परिसर से पार्थिव शरीर वीरचंद पटेल पथ स्थित भाजपा प्रदेश मुख्यालय लाया गया. यहां पर मौजूद भाजपा के तमाम मंत्री, सांसद, विधायक, विधान पार्षदों सहित कार्यकर्ताओं ने उनको अश्रुपूर्ण विदाई दी. देर शाम भाजपा कार्यालय से अंतिम यात्रा निकाली गयी, जो आयकर गोलंबर, पुनाईचक, विश्वेश्वरैया भवन, अटल पथ होते हुए दीघा घाट पर पहुंच कर समाप्त हो गयी.

अंतिम विदाई में तमाम नेता रहे मौजूद

सुशील मोदी को अंतिम विदाई देने वालों में बिहार विधान सभा अध्यक्ष नंदकिशोर यादव, बिहार विधान परिषद के सभापति देवेश चंद्र ठाकुर, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी, उपमुख्यमंत्री विजय कुमार सिन्हा, मंत्री मंगल पांडेय, हरि सहनी, जदयू के वरिष्ठ नेता व मंत्री विजय कुमार चौधरी, अशोक चौधरी, हरि सहनी, प्रेम कुमार, रेणु देवी, रविशंकर प्रसाद, राजीव प्रताप रुढ़ी, राधामोहन सिंह, अश्विनी कुमार चौबे आदि शामिल रहे.

सीएम नीतीश कुमार नहीं हो पाए शामिल

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अस्वस्थ होने के कारण सुशील मोदी के अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो पाए. हालांकि इससे पहले मुख्यमंत्री ने सुशील मोदी की धर्मपत्नी जेसिस जार्ज से फोन पर बात कर उन्हें सांत्वना दी. मुख्यमंत्री ने दिवंगत आत्मा की चिर शांति और स्व सुशील कुमार मोदी के परिजनों, समर्थकों और प्रशंसकों को दुख की इस घड़ी में धैर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से कामना की है.

Also Read: सुशील मोदी क्यों नहीं बनना चाहते थे प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष, गोविंदाचार्य ने बताए कई अनछुए राज

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें