24.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

सस्ते मोबाइल का झांसा देकर ठगी करने वाले साइबर फ्रॉड गिरोह का खुलासा, 5 गिरफ्तार, पाकिस्तान से है कनेक्शन

मोतिहारी से एक साइबर फ्रॉड गिरोह के पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है. इस गिरोह के लोग सस्ते मोबाइल फोन का झांसा देकर उनसे ठगी करते थे. पुलिस को अब तक इन अपराधियों के 31 बैंक खातों के बारे में पता चला है.

Bihar News : मोतिहारी से अंतर्राष्ट्रीय साइबर फ्रॉड गिरोह के पांच बदमाशों को पुलिस ने दबोचा है. इनके पास से पुलिस को 11 मोबाइल व एक लैपटॉप बरामद हुआ है. अपराधियों के पास से बरामद मोबाइल की जांच व उनसे पूछताछ में कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं. इन गिरफ्तार अपराधियों के पाकिस्तान से तार जुड़े होने के सबूत मिले हैं.

मोबाइल फोन ने खोले साइबर फ्रॉड के कई राज

पुलिस ने जब गिरफ्तार अपराधियों के मोबाइल फोन को खंगाला तो पता चला कि सभी अपराधी एक ऐसे गिरोह के लिए काम कर रहे थे, जो लोगों के बैंक खातों से धोखाधड़ी कर पैसे की निकासी करते थे. इस गिरोह के लोग सोशल मीडिया के जरिए लोगों को बेवकूफ बनाते थे. पहले सस्ते मोबाइल देने का लालच देकर पैसे मंगवाते थे. इस बाद लोगों द्वारा उपलब्ध कराये गये बैंक खाते से गिरोह के सरगना धोखाधड़ी का पैसा ट्रांसफर कर बाद में उसे निकाल लेते थे.

एक करोड़ से अधिक राशि के लेनदेन का चला पता

एसपी ने बताया कि बरामद मोबाइल फोन से पता चला है कि पांचों बदमाशों के विभिन्न बैंकों में 31 अकाउंट हैं, जिसे फ्रीज करने के साथ राशि निकासी पर रोक लगाने के लिए बैंक अधिकारियों के पास पत्र लिखा गया है. अबतक की जांच में 31 बैंक खातों में एक करोड़ से अधिक राशि के लेनदेन का पता चला है.

पाकिस्तान कनेक्शन के मिले सबूत

जब्त मोबाइल की जांच की गयी तो पता चला कि सभी मोबाइल नंबर से कई बार पाकिस्तान बात की गई है. इससे साफ होता है कि इस गिरोह का पाकिस्तान से भी कनेक्शन है. इसकी गहनता से जांच-पड़ताल की जा रही है.

इन अपराधियों को किया गया गिरफ्तार

एसपी कांतेश कुमार मिश्र ने बताया कि गिरफ्तार बदमाशों की पहचान छौड़ादानों के भूषण राम, दरपा का हैदर अली, बंजरिया का समीर आलम, वसीम अख्तर तथा मोहम्मद असगर के रूप में की गई है. ये सभी मिलकर लोगों को ठगते थे.

गिरफ्तार भूषण का पहले से है आपराधिक रिकॉर्ड

गिरफ्तार भूषण राम का पहले से आपराधिक रिकॉर्ड है. वह बेतिया मुफस्सिल थाना कांड संख्या 732-23 (लूट), छौड़ादानो थाना कांड संख्या 221-23 (लूट) में वांछित था. वहीं उसपर छौड़ादानो थाने में कांड संख्या 23-19 ( बाइक चोरी) व लखौरा में शराब तस्करी का मामला भी दर्ज है, जिसमें वही जेल जा चुका है. अन्य चारों बदमाशों का आपराधिक रिकॉर्ड खंगाला जा रहा है.

छापेमारी टीम में शामिल पुलिसकर्मी होंगे सम्मानित

इन अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए की गई छापेमारी में रक्सौल डीएसपी धीरेंद्र कुमार, छौड़ादानो थानाध्यक्ष सरिता कुमारी, दारोगा चंदन कुमार, केवी हनुमंत, सिपाही पिंटु कुमार, राजेश कुमार सहित जिला आसूचना इकाई की टीम शामिल थी. छापेमारी टीम में शामिल सभी पुलिस पदाधिकारी व जवानों को पुरस्कृत किया जायेगा.

Also Read : कैमूर में आसमान से बरसी आफत, आकाशीय बिजली की चपेट में आने से किशोरी और महिला की मौत

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें