स्वच्छ भारत अभियान : बच्चे अब क्लास में कहेंगे-शौचालय है सर

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
इटखोरी. ग्रामीण इलाकों के स्कूलों में बच्चे अब अपनी उपस्थिति दिखाने के लिए 'यस सर' या 'प्रेजेंट' सर नहीं बोलेंगे. टीचर जब नाम लेकर किसी छात्र को पुकारेंगे, तो वह अपना अटेंडेंस (उपस्थिति) बनाने के लिए 'शौचालय है सर' या 'शौचालय नहीं है सर' बोलेगा. जिस बच्चे के घर में शौचालय होगा, वह 'शौचालय है सर' बोलेगा और जिसके घर में नहीं होगा, वह 'शौचालय नहीं है सर' बोलेगा.

इस नयी व्यवस्था के लिए यूनिसेफ जल्द ही राज्य के शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक करेगा. इसका उद्देश्य ग्रामीण इलाकों में स्वच्छ भारत अभियान के तहत लोगों को जागरूक करना है.

यूनिसेफ के संदीप श्रीवास्तव ने मंगलवार को चतरा के इटखोरी में बताया, शिक्षा विभाग के साथ जल्द ही बैठक होगी. यूनिसेफ ने मंगलवार को स्वच्छ भारत अभियान को सफल बनाने को लेकर इटखोरी के किसान भवन में बैठक बुलायी थी. बैठक में कई स्वयं सेवक मौजूद थे. संदीप श्रीवास्तव और यूनिसेफ के सीओ रंजीत लोहरा ने बैठक में स्वयं सेवकों को शौचालय निर्माण के लिए लोगों को जागरूक करने को कहा.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें