1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. libraries and smart classes be opened in gumlas schools the order given by the deputy commissioner srn

गुमला के स्कूलों में खुलेंगे पुस्तकालय व स्मार्ट क्लास, उपायुक्त ने दिया आदेश

जिले के 167 विद्यालयों में सोलर जलमीनार के साथ चापानल अधिष्ठापित करने का निर्देश

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
गुमला के स्कूलों में खुलेंगे पुस्तकालय व स्मार्ट क्लास
गुमला के स्कूलों में खुलेंगे पुस्तकालय व स्मार्ट क्लास
प्रभात खबर.

विशेष केंद्रीय सहायता मद अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2021-22 की कार्ययोजना बनाने एवं पूर्व से क्रियान्वित योजनाओं की समीक्षा को लेकर जिला स्तरीय समिति (डीएलसी) की बैठक बुधवार को उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में हुई. बैठक में बताया गया कि जिले के 50 प्राथमिक, माध्यमिक एवं उच्च विद्यालयों में पुस्तकालय सह मॉडल (खेलकूद सामग्रियों के साथ) की अधिष्ठापना करना है.

उपायुक्त ने जिले के उच्च विद्यालयों में विशेष रूप से पुस्तकालय सह मॉडल विकसित करने का निर्देश दिया. उन्होंने डीइओ को जिले के 50 उच्च विद्यालयों की सूची उपलब्ध कराने को कहा है. वहीं जिले के 50 विद्यालयों में स्मार्ट क्लास अधिष्ठापन की समीक्षा में उपायुक्त ने डीइओ को जिलांतर्गत उच्च विद्यालयों में स्मार्ट क्लास अधिष्ठापित करने के लिए विद्यालयों में उपलब्ध संसाधनों का आकलन कर उसकी सूची तथा प्रतिवेदन समर्पित करने का निर्देश दिया.

जिलांतर्गत 167 विद्यालयों में चापाकलों की अधिष्ठापना के संबंध में उपायुक्त ने चापाकल सहित सोलर जलमीनार अथवा अन्य जल स्रोतों के माध्यम से उक्त विद्यालयों में पेयजल की सुविधा बहाल करने का निर्देश दिया. कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों, आश्रम एवं एकलव्य विद्यालयों को प्राथमिकता के आधार पर मॉडल के रूप में विकसित करने पर विशेष बल दिया. 250 मॉडल आंगनबाड़ी केंद्र में एएसी चेकअप बेड, पर्दे एवं स्टूल का क्रय आदि कार्य करने से संबंधित कार्ययोजना समर्पित किया गया.

इस पर उपायुक्त ने मॉडल आंगनबाड़ी केंद्रों में आनेवाली गर्भवती एवं धात्री महिलाओं की सुविधा को देखते हुए चेकअप बेडों की व्यवस्था सुनिश्चित करने पर बल दिया. जिले के सभी प्रखंडों में सौर आधारित शीतगृह (कोल्डरूम) बनाने पर विचार-विमर्श के दौरान उपायुक्त ने जिले के कृषकों के लिए उनके द्वारा उत्पादित सब्जियों के संग्रहण के लिए शीतगृह के निर्माण को अति महत्वपूर्ण बताते हुए कार्यपालक अभियंता विशेष प्रमंडल को प्राक्कलन 10 अक्तूबर तक समर्पित करने का निर्देश दिया.

बैठक में वन प्रमंडल पदाधिकारी श्रीकांत, सहायक जिला योजना पदाधिकारी विभूति नारायण सिंह, पुलिस उपाधीक्षक (मुख्यालय) प्राण रंजन, समादेष्टा 218 बटालियन केरिपु बल सिलम रिंकी कुमारी, डीइओ सुरेंद्र पांडेय, जिला पशुपालन पदाधिकारी डॉक्टर मोहम्मद कलाम, जिला नियोजन पदाधिकारी अश्विनी कुमार, कार्यपालक अभियंता ग्रामीण विकास विषेश प्रमंडल अमरेंद्र कुमार, सहायक अभियंता जिला परिषद ए रहमान व अन्य उपस्थित थे.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें