29.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

सदर अस्पताल में हीट वेव से पीड़ित पांच नये मरीज भर्ती

मुंगेर में बेतहासा गर्मी और उमस के बीच हीट वेव ने कहर ढाना शुरू कर दिया है. गुरुवार को जहां सर्वाधिक पांच हीट वेव के नये मरीज भर्ती हुए.

मुंगेर. पिछले 72 घंटे से मुंगेर में बेतहासा गर्मी और उमस के बीच हीट वेव ने कहर ढाना शुरू कर दिया है. गुरुवार को जहां सर्वाधिक पांच हीट वेव के नये मरीज भर्ती हुए. वहीं पिछले 48 घंटों में ही सदर अस्पताल में हीट वेव के कुल आठ मरीज भर्ती हो चुके हैं. जबकि बेहतासा गर्मी और उमस के कारण हार्ट के मरीजों की संख्या भी बढ़ गयी है. सदर अस्पताल में गुरुवार को हीट वेव के शिकार श्यामपुर निवासी 90 वर्षीय शंभू प्रसाद साह, लालदरवाजा निवासी 54 वर्षीय निर्मला देवी, जमालपुर निवासी 45 वर्षीय फिरोज सईक, सुभाष नगर निवासी 55 वर्षीय सुबोध मंडल तथा गोला रोड निवासी 70 वर्षीय किशोर साव को भर्ती कराया गया है. जबकि बुधवार को सुजाबलपुर निवासी 12 वर्षीय अलीजा परवीन सहित 19 वर्षीय मुस्कान परवीन और साजिया परवीन को भर्ती कराया गया था. इसके अतिरिक्त गुरुवार को सदर अस्पताल में दस्त व डायरिया के सर्वाधिक 28 मरीजों को इलाज के लिये भर्ती किया गया. इधर, बेतहासा गर्मी और उसम के कारण हार्ट के मरीजों की संख्या भी गुरुवार को काफी अधिक बढ़ गयी. गुरुवार को जहां एक 85 वर्षीय वृद्ध की हार्ट अटैक के कारण मौत हो गयी. वहीं इमरजेंसी वार्ड में हार्ट की बीमारी से पीड़ित कुल चार मरीजों को भर्ती किया गया. जिसमें सभी वृद्ध हैं. जिनकी उम्र 70 से 90 के बीच है. अस्पताल उपाधीक्षक डॉ रमन कुमार ने बताया कि सदर अस्पताल में हीट वेव मरीजों के लिये अलग से विशेष वातानुकूलित वार्ड बनाया गया है. जहां सभी हीट वेव मरीजों को भर्ती किया गया है. उन्होंने कहा कि बढ़ते तापमान के बीच हीट वेव की संभावना काफी अधिक बढ़ गयी है. ऐसे में जरूरी है कि इससे बचाव के प्रति आमजन सजग रहे. उन्होंने कहा कि गर्मी से बचने के लिये बिना आवश्यक घरों से न निकलें. साथ ही अधिक से अधिक मात्रा में पानी का सेवन करें.

घर में ही गर्मी से फूड प्वाइजनिंग के शिकार हुए भाई-बहन

मुंगेर. बेतहासा गर्मी और उसम के बीच गुरुवार को भाई-बहन घर का भोजन खाने के बाद ही फूड प्वाइनिंग के शिकार हो गये. जिसे परिजनों द्वारा इलाज के लिये सदर अस्पताल लाया गया. जहां चिकित्सकों द्वारा प्राथमिक उपचार के बाद भाई-बहनों को भर्ती कर लिया गया. फूड प्वाइजनिंग के शिकार बच्चे सफियाबाद निवासी 16 वर्षीय रानी सागर और 14 वर्षीय गंगा सागर के पिता दीपक यादव ने बताया कि सुबह 10 बजे दोनों बच्चाें ने खाना खाया. जिसके 20 मिनट बाद ही दोनों बच्चे उल्टी करने लगे. साथ ही उनकी तबीयत भी बिगड़ने लगी. जिसके बाद उसे इलाज के लिये सदर अस्पताल लाया गया. वहीं इमरजेंसी वार्ड में तैनात चिकित्सक डॉ के रंजन ने बताया कि गर्मी के कारण कभी-कभी पाचन में परेशानी होती है. जिससे कई बार फूड प्वाइजनिंग भी हो जाती है. दोनों बच्चों की स्थिति अब सामान्य है. जिसे इलाज के लिये भर्ती कर लिया गया है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें