बक्सर-कोचस हाइवे पर जाम से परेशान रहे लोग

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

चौसा : पिछले दस दिनों से चौसा-कोचस हाइवे पर वाहनों की संख्या बढ़ जाने से प्रखंड मुख्यालय का ट्रैफिक सिस्टम ध्वस्त हो गया है, जिससे चौसा के लोगों को फजीहत तो उठानी पड़ ही रही है. साथ ही इस रूट से आने जानेवाले राहगीरों व वाहन चालकों को भी काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है.

बता दें कि देश की लाइफलाइन में शुमार दिल्ली से कोलकाता तक जानेवाली एनएच-2 के यूपी-बिहार बॉर्डर अवस्थित नौबतपुर के पास कर्मनाशा नदी पर बने पुल का पिलर क्षतिग्रस्त होने से पुल से भारी वाहनों का आवागमन बंद हो जाने से यूपी से बिहार व बिहार से यूपी जाने के लिए एक मात्र चौसा बार्डर स्थित कर्मनाशा पुल ही सहारा बना हुआ है.
उक्त बॉर्डर से गुजरने वाली भारी वाहनों की संख्या में अचानक वृद्धि हो जाने के चलते खासकर बक्सर - कोचस हाइवे स्थित यादवमोड़ व अखौरीपुर गोला तिराहा पर विगत दस दिनों से जाम की समस्या से जूझता नजर आ रहा है.
चौसा से गाजीपुर व चौसा से कोचस को जानेवाली मुख्यमार्गों पर सोमवार को बिहार से यूपी व यूपी से बिहार आने-जानेवाली लोडेड ट्रकों की लंबी कतार लग गयी . प्रखंड मुख्यालय की मेनरोड पर रूक रूककर वाहनों के चलने के कारण बक्सर कोचस मुख्यमार्ग पर सैकड़ों ट्रकें खड़ी रही, जिससे चौसा क्षेत्र के आसपास मुख्य मार्ग पर दिनभर जाम की स्थिति बनी रही और वाहने रेंगती हुई आती-जाती रहीं.
जाम के चलते सोमवार को भी चौसावासियों को काफी फजीहत का सामना करना पड़ा. बताया जा रहा है कि चौसा-कोचस हाइवे पर स्थित चौसा रेलवे गुमटी के बंद हो जाने से मार्ग पर दोनों तरफ वाहनों की भयंकर लाइन लग जा रही है और जब गुमटी खुलता भी है तो वाहनों की संख्या ज्यादा होने से धीरे-धीरे वाहन रेंगते हुए जा रहे है.फिर गुमटी बंद होने पर जाम यथावत हो जा रही है.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें