30.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

मांगी मजदूरी, तो पिटाई कर चिमनी भट्ठा में जिंदा जलाने का किया प्रयास, एक लापता

पेट और परिवार के खातिर मजदूरी करने गये एक ही परिवार के पिता और तीन पुत्रों के साथ लेबर कांट्रेक्टर द्वारा किया गया अमानवीय व्यवहार से रूह कांप उठा है. मामला नारायणपीपड़ पंचायत के पनसल्ला गांव से जुड़ा हुआ है.

छौड़ाही. पेट और परिवार के खातिर मजदूरी करने गये एक ही परिवार के पिता और तीन पुत्रों के साथ लेबर कांट्रेक्टर द्वारा किया गया अमानवीय व्यवहार से रूह कांप उठा है. मामला नारायणपीपड़ पंचायत के पनसल्ला गांव से जुड़ा हुआ है. महज 15 हजार की मजदूरी पर ईंट भट्ठा में काम करने ठेकेदार पनसल्ला गांव पिता एवं तीन पुत्रों को पंजाब ले गया. पंजाब के मोगा जिले में 7 महीने तक ईंट-भट्ठा पर चारों से काम करवाया गया और जब बकाया मजदूरी मांगी, तो ठेकेदार और उसके गुर्गे सभी की बुरी तरह से पिटाई कर ईंट भट्ठा में झोंकने प्रयास किया. सभी किसी तरह जान बचाकर वहां से भागे. घटना के शिकार पिता अनवर एवं दो पुत्र अजहर और गुड्डू एक-एक कर वापस घर लौटा, लेकिन भागने के क्रम में एक पुत्र असगर लापता हो गया है. पंजाब से भाग कर वापस अपने घर लौटे मो.अनवर आपबीती सुनाते हुये आंखों के आंसू नहीं रोक पा रहे थे. वह बोलने लगा पता नहीं मेरे पुत्र असगर के साथ क्या हुआ होगा. पिता कहते हैं कि अक्तूबर 2023 में पनसल्ला के ही अमरजीत यादव 15000 रूपये महीने देने की बात कहकर हम चारों पिता पुत्र को लेबर कांट्रेक्टर गढ़पुरा थाना के हरकपुरा निवासी अपने बहनोई शिवकुमार यादव के हवाले कर दिया. शिवकुमार यादव सभी को अपने साथ पंजाब लेकर चला गया. वहां के मोगा जिले के जगदंबा टाउन चुर चौक स्थित राजू बाबू के भट्ठा में काम पर लगा दिया. ईंट भट्ठा पर पहुंचते ही लेबर ठेकेदार चारों पिता पुत्र का मोबाइल जप्त कर लिया. घटना के शिकार हुये अनवर के मुताबिक पंजाब ले जाते वक्त लेबर ठेकेदार 11000 रुपया दिया था. बाद में पत्नी के बीमार होने पर 50,000 रूपये दिया.शेष बकाया मजदूरी मांगने पर वह बराबर गाली गलौज मारपीट करते हुये ईंट भट्ठा में झोंकने की धमकी देने लगता था. बताया कि 17 मई को वह ठेकेदार से बकाया मजदूरी करीब साढ़े तीन लाख रुपये देने को कहा तो वह गुस्से में आकर गाली गलौज करते हुये अपने गुर्गों को बुलाकर बुरी तरह से मारपीट किया. मारपीट में उसका बड़ा पुत्र गुड्डू जख्मी हो गया. उसे पंजाब हेल्थ सिस्टम कारपोरेशन के ढुडिके सीएचसी में इलाज के लिये भर्ती कराया.जब वह पुत्रों के साथ घर जाने की बात किया तो ठेकेदार एवं उसका आदमी सभी को ईंट भट्ठा में झोंकने की बात करने लगा. तब जान बचाकर रात के वक्त वहां से भागा. भागमभाग में उसका मंझला पुत्र असगर कहीं लापता हो गया. पुत्र असगर की काफी खोजबीन के बाद भी कुछ पता नहीं चल सका है. घटना से डरे सहमे अनवर बताते हैं कि दो दिन तक पंजाब में भूखे प्यासे खाली जेब घर आने को नहीं सूझ रहा था.तब थक हार कर अंबाला कैंट थाना पहुंचा.वहां के पुलिस सब इंस्पेक्टर धर्मवीर सिंह ने आपबीती स्टेशन डायरी में अंकित कर निशुल्क यात्रा के लिये ओडी देकर अंबाला छावनी स्टेशन पर बिहार आने वाली ट्रेन में बैठवा दिया,तब जाकर हमलोग जिंदा घर पहुंचे.तब तक छोटा पुत्र अजहर घर पहुंच चुका था.23 मई को बड़ा पुत्र गुड्डू भी घर वापस लौट आया है. इधर पति एवं पुत्रों के साथ हुई घटना से आहत अफसाना खातून ने लापता पुत्र असगर के साथ अनहोनी की आशंका जाहिर करते हुये छौड़ाही थाना में लिखित शिकायत दर्ज करायी है.पनसल्ला के अमरजीत यादव एवं गढ़पुरा थाना क्षेत्र के हरकपुरा निवासी शिवकुमार यादव पर मजदूरी करवा कर पैसा नहीं देने,मारपीट कर जख्मी करने,बंधक बनाकर रखने एवं जान मारने की कोशिश करने का आरोप लगायी है. इस संबंध में छौड़ाही थानाध्यक्ष पवन कुमार सिंह ने बताया कि आवेदन के आलोक में पुलिस पदाधिकारी को जांच-पड़ताल के लिए भेजा गया है. लापता युवक का पता लगाया जा रहा है. दोषी लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जायेगी.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें