24.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

आपस में ही भिड़े शिक्षकों के कारण पढ़ाई प्रभावित होने का डर

आपस में ही शिक्षकों की गुटबाजी और भिड़ने के कारण शैक्षणिक व्यवस्था प्रभावित होने की संभावना प्रबल हो गयी है.

छौड़ाही. आपस में ही शिक्षकों की गुटबाजी और भिड़ने के कारण शैक्षणिक व्यवस्था प्रभावित होने की संभावना प्रबल हो गयी है.एक सहायक शिक्षक के अमर्यादित व्यवहार की शिकायत प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी से करना अपग्रेड मिडल स्कूल काली मंदिर धनु टोला के एचएम को महंगा पड़ गया.प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी ने उक्त शिक्षक से जब स्पष्टीकरण मांगा तो गुरुवार को वह भड़क कर एचएम से ही भिड़ गया.स्थिति तनावपूर्ण होते देख अन्य शिक्षकों के बीच बचाव से तत्काल मामला संभल गया,लेकिन शिक्षक के आक्रामक व्यवहार से भयभीत प्रधानाध्यापक रमेंद्र कुमार रमण एवं सहयोगी शिक्षकों ने सुरक्षा के लिहाज से बीईओ को संयुक्त आवेदन देकर बीआरसी प्रतिनियुक्ति की मांग किया है. उधर शिक्षक राम कुमार सिंह ने भी डीएम,एसपी एवं जिला शिक्षा पदाधिकारी को आवेदन मेल कर सुरक्षा गार्ड की मांग किया है. बताया जाता है कि बीते 20 मई को शिक्षक रामकुमार सिंह के संबंध में स्कूल के एचएम रमेंद्र कुमार रमण और अन्य शिक्षकों ने बीईओ और बीडीओ से शिकायत किया था.शिकायत में कहा गया था कि शिक्षक रामकुमार सिंह के द्वारा विद्यालय के शिक्षक और छात्राओं पर चरित्रहीनता का आरोप लगाकर बराबर डांटा फटकारा एवं प्रताड़ित किया जाता है.साथ ही विद्यालय के अन्य शिक्षकों के साथ विवाद किया जाता है.जिससे विद्यालय में शैक्षणिक कार्य प्रभावित हो रहा है.शिक्षकों के साथ-साथ विद्यालय शिक्षा समिति के सचिव रेणु देवी ने भी उपरोक्त शिक्षक द्वारा मध्यान भोजन में कभी भी विषैला पदार्थ मिला देने की आशंका जाहिर करते हुये पदाधिकारी से आवश्यक कार्रवाई की मांग किया था. इस संबंध में बीडीओ के पत्रांक 225 एवं दिनांक 25 मई 2024 के आलोक में बीते 5 जून को प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी ने ज्ञापन 357 के तहत पत्र जारी कर शिक्षक रामकुमार सिंह से 24 घंटे के अंदर जवाब तलब किया.बीईओ ने शिक्षकों के साथ अमर्यादित व्यवहार एवं छात्र-छात्राओं के बारे में अनावश्यक टिप्पणी और विद्यालय संचालन में व्यवधान उत्पन्न करने की बात को अनुशासनहीनता,शिक्षक चरित्र एवं मर्यादा के विरुद्ध आचरण एवं स्वेच्छाचारिता कहा है.बीईओ ने 24 घंटे के अंदर पूर्ण साक्ष्य के साथ स्पष्टीकरण नहीं देने की स्थिति में सुसंगत कार्रवाई करने की चेतावनी दिया है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें