24.7 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

लंबित मानदेय का भुगतान नहीं होने से बीआरसी में तालाबंदी

बीडीओ ने मामले को किया शांत

फारबिसगंज. बीआरसी से केआरपी अनुपस्थिति विवरणी जिला नहीं भेजते हैं जिस कारण विगत चार महीने से मानदेय का भुगतान नहीं हो पाया है. इससे आक्रोशित विभिन्न विद्यालयों में पदस्थापित तालीमी मरकज व शिक्षा सेवकों ने बुधवार को बीआरसी कार्यालय के मुख्य द्वार पर तालाबंदी कर घंटों प्रदर्शन किया. बताया जाता है कि प्रखंड के सभी 223 तालीमी मरकज व शिक्षा सेवक बुधवार को सबसे पहले बीआरसी कार्यालय पहुंचे. जहां कार्यालय में मौजूद प्रभारी बीईओ चंदन प्रियदर्शी व केआरपी उर्मिला देवी से उनके कार्यालय कक्ष में मिल कर अपनी बातें रखते हुए ससमय अनुपस्थिति पंजी जिला भेजने व लंबित चार महीने के मानदेय का भुगतान कराने की अपनी मांगों को रखा. इसी क्रम में बीईओ ने महज एक महीना का मानदेय का भुगतान करने की बात कहते ही सभी तालीमी मरकज व शिक्षा सेवक उनके कार्यालय कक्ष से बाहर जाकर बीआरसी के मुख्य द्वार पर ताला बंद कर प्रभारी बीईओ व केआरपी के खिलाफ जम कर नारेबाजी व प्रदर्शन करने लगे. प्रदर्शन कर रहे तालीमी मरकज व शिक्षा सेवकों ने कहा कि केआरपी व बीईओ के द्वारा उनलोगों की अनुपस्थिति विवरणी जिला को भेजा जाता है. लेकिन केआरपी के द्वारा अनुपस्थिति विवरणी जिला को नहीं भेजा गया. जबकि जिला में आवंटन बावजूद उन लोगो को विगत चार महीने से मानदेय का भुगतान नहीं हो पा रहा है. जिसके कारण उनलोगों के सामने समस्या उत्पन्न हो गयी है. आक्रोशित तालीमी मरकज व शिक्षा सेवकों ने केआरपी पर अनुपस्थिति विवरणी भेजने में अवैध उगाही व दुर्व्यवहार करने का भी आरोप लगाते हुए प्रदर्शन किया. इधर तालीमी मरकज व शिक्षा सेवकों के द्वारा बीआरसी में तालाबंदी कर घंटों प्रदर्शन करने के कारण प्रभारी बीईओ व केआरपी सहित सभी बीआरसी कर्मी कार्यालय के अंदर ही रहे. इधर जानकारी मिलते ही बीआरसी पहुंचे बीडीओ संजय कुमार ने तालाबंदी कर प्रदर्शन कर रहे आक्रोशित तालीमी मरकज व शिक्षा सेवकों को समझा बुझा कर शांत कराया व ताला खुलवा कर प्रभारी बीईओ और केआरपी से जानकारी ली. इस मौके पर बीडीओ ने प्रभारी बीईओ को निर्देशित किया कि बीआरसी में एक व्यक्ति की प्रतिनियुक्ति करें जो तालीमी मरकज व शिक्षा सेवकों का अनुपस्थिति विवरणी लेकर केआरपी को दें. जो ससमय जिला की भेज दें. जिससे कि मानदेय का भुगतान ससमय हो जाये. बीडीओ के समझाने पर आक्रोशित तालीमी मरकज व शिक्षा सेवक शांत हुए. हाालांकि इस मौके पर बीआरसी कार्यालय में मौजूद प्रभारी बीईओ चंदन प्रियदर्शी से पूछा गया तो वे किसी भी प्रकार की जानकारी देने से कतराते रहे.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें