रोहित शेखर हत्याकांड में उनकी पत्नी अपूर्वा गिरफ्तार
Advertisement

muzaffarpur

  • Feb 16 2019 10:41AM

#PulwamaAttack : हादसे में तुर्की निवासी जवान निरंजन का जबड़ा फटा, अस्पताल में भर्ती, अस्पताल पहुंचकर गृह मंत्री ने जाना हाल

#PulwamaAttack : हादसे में तुर्की निवासी जवान निरंजन का जबड़ा फटा, अस्पताल में भर्ती, अस्पताल पहुंचकर गृह मंत्री ने जाना हाल

मुजफ्फरपुर / कुढ़नी : जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के जवानों पर हुए फिदायीन हमले में मुजफ्फरपुर के कुढ़नी प्रखंड के तुर्की बरकुरवा के जवान निरंजन कुमार राम भी गंभीर रूप से जख्मी हुए हैं. हमले के तुरंत बाद से ही निरंजन का मोबाइल लगातार स्विच बताने लगा. इससे परिजनों में बेचैनी बढ़ गयी. 

यह भी पढ़ें : शहीदों पर आत्तिजनक टिप्पणी करनेवाले युवक पर देशद्रोह का मामला दर्ज करने को लेकर सड़क जाम ...VIDEO

तुर्की निवासी राजेश्वर राम के पुत्र निरंजन सीआरपीएफ के कोबरा बटालियन 35 में कांस्टेबल पद पर जम्मू में तैनात हैं. पुलवामा में सीआरपीएफ पर हमले की जानकारी मिली, तो पत्नी संगीता देवी, मां शोभा देवी और पिता राजेश्वर राम की बेचैनी बढ़ गयी. उन लोगों को पहले से मालूम था कि निरंजन भी सीआरपीएफ के काफिले वाले वाहन पर सवार था. इसके बाद से पूरा परिवार निरंजन की जानकारी लेने के लिये दिल्ली के कंट्रोल रूम से संपर्क करने लगे.

यह भी पढ़ें :  हादसे में तुर्की निवासी जवान निरंजन का जबड़ा फटा, अस्पताल में भर्ती, अस्पताल पहुंचकर गृह मंत्री ने जाना हाल

शहीद हुए जवानों की सूची परिजनों को व्हाट्सएप पर भेजी गयी, लेकिन उस सूची में निरंजन का नाम नहीं होने पर परिजनों कुछ देर के लिए राहत की सांस ली, लेकिन हमले के बाद से निरंजन का मोबाइल लगातार स्विच ऑफ बताने के साथ कोई जानकारी नहीं मिलने से परिजन बेचैन रहे. मां संगीता देवी अपने दूसरे पुत्र और एसएसबी के जवान धर्मेंद्र कुमार से निरंजन की जानकारी लेती रहे, लेकिन धर्मेंद्र को भी कोई सही जानकारी नहीं मिल पा रही थी. आसपास के ग्रामीणों की भीड़ निरंजन के घर देर रात तक जमी रही. स्थानीय जिला पार्षद रानी देवी, पार्षद प्रतिनिधि संजय पासवान भी निरंजन के घर पहुंचे.

यह भी पढ़ें :  पटना पहुंचा शहीदों के पार्थिव शरीर, CM नीतीश ने दी श्रद्धांजलि, 'भारत माता की जय' के लगे नारे

निरंजन के जख्मी होने की मिली जानकारी

निरंजन की कोई जानकारी नहीं मिलने के कारण परिजनों की पूरी रात बेचैनी में कटी. पत्नी, मां और बुजुर्ग पिता ने भी कुछ नहीं खाया. सभी निरंजन की कुशलता के लिए भगवान से प्रार्थना करते रहे. मोबाइल फोन पर अब कोई कॉल का इंतजार करने लगे. आखिरकार शुक्रवार को दोपहर बाद परिजनों को जानकारी मिली कि निरंजन जख्मी हालत में अस्पताल में भर्ती है. धमाके से निरंजन का जबड़ा फट गया है. सेना के वाहन से उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया. केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने अस्पताल में पहुंच उनका हाल जाना. इससे पूर्व निरंजन छठ पूजा में शामिल होकर घर से ड्यूटी पर गया था. 

यह भी पढ़ें :  STF की बड़ी कार्रवाई : पोखरामा हत्याकांड के गवाह की हत्या करने आये चार अपराधी गिरफ्तार

यह भी पढ़ें : औरंगाबाद में भीषण सड़क हादसा, शादी समारोह से बोकारो लौट रहे एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत

 

Advertisement

Comments

Advertisement