1. home Hindi News
  2. business
  3. debit credit service important thing for debit credit card holders this service is going to stop from october 1 vwt

Debit-Credit कार्ड रखने वालों के लिए जरूरी बात, 1 अक्टूबर से बंद होने जा रही है ये सर्विस

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
बैंकिंग नियमों में होगा बदलाव.
बैंकिंग नियमों में होगा बदलाव.
प्रतीकात्मक फोटो.

Debit-Credit Service : बैंक के उन ग्राहकों के लिए एक जरूरी बात है, जिनके पास डेबिट कार्ड या फिर डेबिट-क्रेडिट कार्ड दोनों है. कल यानी 1 अक्टूबर 2020 से बैंकिंग नियमों में कुछ बदलाव होने जा रहा है, जिसकी वजह से डेबिट-क्रेडिट कार्ड के जरिए मिलने वाली कुछ सुविधाएं बंद हो जाएंगी. अपनी सेवाओं में बदलाव करने वाले देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई और निजी क्षेत्र के बैंक एचडीएफसी समेत कई बैंकों ने अपने-अपने ग्राहकों को एसएमएस संदेश भेजकर सूचित करना भी शुरू कर दिया है.

कौन सी सेवा कल से हो जाएगी बंद

आरबीआई की ओर से हाल ही में जारी गाइडलाइंस के मुताबिक, डेबिट-क्रेडिट कार्ड पर इंटरनेशनल ट्रांजेक्शन सर्विस बंद कर दी जाएगी. जिन ग्राहकों को इस सेवा का लाभ उठाना है, उन्हें एक्टिवेट कराना होगा. आरबीआई के दिशानिर्देश आने के बाद देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक ने पहले ही इस बात का ऐलान कर दिया था कि वह 1 अक्टूबर 2020 से डेबिट-क्रेडिट कार्ड के जरिए इंटरनेशनल ट्रांजेक्शन सर्विस को बंद कर देगा. सबसे बड़े सरकारी बैंक की ओर से इस बात का ऐलान करने के बाद देश के दूसरे बैंकों ने भी नियमों में बदलाव करने की घोषणा की है.

इंटरनेशनल सर्विस के लिए करना होगा क्या

अगर आप एसबीआई के ग्राहक हैं, तो इंटरनेशलन ट्रांजेक्शन सर्वसि से जुड़े रहने के लिए आपको अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से एसएमएस भेजना होगा. इसके लिए आपको INTL के बाद अपने कार्ड की संख्या के आखिरी 4 डिजिट लिखकर 5676791 पर एसएमएस भेजना होगा. आरबीआई के नियमों के तहत ये बदलाव 1 अक्टूबर से लागू हो जाएंगे. पहले यह बदलाव जनवरी 2020 से लागू होना था, लेकिन कोरोना की वजह से इसे मार्च तक के लिए टाल दिया गया, जिसे बाद में बढ़ाकर 30 सितंबर तक कर दिया गया था.

किस सर्विस का करें चयन?

बैंक के ग्राहकों के सामने अब एक बड़ा सवाल खड़ा है. ग्राहकों को कब और कौन सी सुविधा चाहिए, इसका चयन उन्हें खुद ही करना होगा. आरबीआई के नियमों को तहत ग्राहकों को इंटरनेशनल, ऑनलाइन और कॉन्टैक्टलेस कार्ड से ट्रांजेक्शन के लिए अलग-अलग प्राथमिकताएं तय करनी होंगी. नए नियमों के मुताबिक, डेबिट और क्रेडिट कार्ड जारी करते समय बैंक ग्राहकों को डोमेस्टिक ट्रांजेक्शन की अनुमति देंगे. अगर किसी ग्राहक को इंटरनेशनल ट्रांजेक्शन की सर्विस लेनी होगी, तो उन्हें यह सर्विस अलग से लेनी होगी. ऐसे में बिना जरूरत के वे पीओएस टर्मिनल पर शॉपिंग के लिए विदेशी ट्रांजेक्शन नहीं कर सकेंगे.

Posted By : Vishwat Sen

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें