1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. jhalsa online program on constitution day cm hemant said state government is moving in the direction of due change and progress smj

संविधान दिवस पर झालसा का ऑनलाइन कार्यक्रम, सीएम हेमंत बोले- सम्यक बदलाव एवं प्रगति की दिशा में आगे बढ़ रही है राज्य सरकार

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : झालसा की ओर से आयोजित ऑनलाइन कार्यक्रम में गर्वनर द्रौपदी मुर्मू, मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, चीफ जस्टिस रवि रंजन समेत अन्य गणमान्य लोगों ने की शिरकत.
Jharkhand news : झालसा की ओर से आयोजित ऑनलाइन कार्यक्रम में गर्वनर द्रौपदी मुर्मू, मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, चीफ जस्टिस रवि रंजन समेत अन्य गणमान्य लोगों ने की शिरकत.
ट्विटर.

Jharkhand news, Ranchi news : रांची : संविधान दिवस के अवसर पर झालसा की ओर से ऑनलाइन कार्यक्रम आयोजित हुआ. इस कार्यक्रम में गवर्नर द्रौपदी मुर्मू, झारखंड के चीफ जस्टिस रवि रंजन, मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन समेत कई गणमान्य लोगों ने शिरकत की. इस दौरान झालसा के कई कार्यक्रमों का ऑनलाइन उद्घाटन और एप लॉन्च हुआ, वहीं सीएम श्री सोरेन ने सुरक्षित भविष्य के लिए एक मजबूत संविधान की सख्त जरूरत पर बल दिया.

न्यायपालिका व कार्यपालिका का संयुक्त प्रयास सराहनीय : गवर्नर

कार्यक्रम को ऑनलाइन संबोधित करते हुए गवर्नर द्रौपदी मुर्मू ने कहा कि हमारा संविधान केवल एक सर्वोच्च कानूनी दस्तावेज नहीं है, बल्कि यह संपूर्ण भारतीय मूल्यों का जीवंत उदाहरण है. उन्होंने कहा कि भारत कोई 70 साल पुराना देश नहीं है, बल्कि हजारों साल पुरानी सभ्यता है. उन्होंने कहा कि झारखंड में न्यायपालिका और कार्यपालिका ने मिलकर सेवा लोक अदालत का आयोजन किया है. यह गर्व की बात है. इस लोक अदालत में 25 हजार से अधिक मामलों का निष्पादन हुआ है. वहीं, इसके माध्यम से 1400 करोड़ रुपये से अधिक की राशि सही हकदार को मिली है.

इस दौरान झारखंड हाईकोर्ट में ई-फाइलिंग की सुविधा तथा ऑनलाइन अटेस्टेड प्रति की सुविधा का लोकार्पण हुआ. वहीं, झालसा के मोबाइल एप और पोर्टल का भी लोकार्पण हुआ. इसके माध्यम से लोग कहीं से भी लीगल सर्विस घर बैठे प्राप्त कर सकते हैं. इसके अलावा झालसा द्वारा भूखमरी से लड़ने के लिए बनी योजना का भी लोकार्पण हुआ. नशा, भूख और बीमारी के खिलाफ तीन प्रोजेक्ट लॉन्च हुए. वहीं, चौथा प्रोजेक्ट ग्रामीण एवं वनवासी महिलाओं के आर्थिक स्वावलंबन के लिए जारी हुआ.

सर्वांगीण विकास के लिए एक मजबूत संविधान सभी के लिए जरूरत : सीएम

दूसरी ओर, रामगढ़ जिले के नेमरा गांव से इस ऑनलाइन कार्यक्रम में शिरकत करते हुए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि आज हमारा देश एक है. सभी लोग एक साथ विकास की राह पर आगे बढ़ रहे हैं. आज हमारे पास विश्व का सिर्फ सबसे अच्छा संविधान ही नहीं है, बल्कि इसे सही ढंग से उपयोग में लाने का 71 साल का इतिहास भी है. राष्ट्र के सर्वांगीण विकास के लिए एक मजबूत संविधान जो सबों के हित की रक्षा करे, इसकी जरूरत सभी को है.

उन्होंने कहा कि एक सशक्त संविधान की जितनी जरूरत मजदूर, किसान, ठेले- खोमचे वाले, दलित, आदिवासी, अल्पसंख्यक को है, उतनी ही इसकी जरूरत राज्यपाल, न्यायाधीश, मुख्यमंत्री, आईएएस, आईपीएस अधिकारियों को भी है. उन्होंने कहा कि सबों के अधिकार की रक्षा करने वाली किताब है संविधान. सबों के सुरक्षित भविष्य के लिए एक मजबूत संविधान की सख्त जरूरत है.

पारा लीगल वालंटियर एवं अन्य माध्यमों से झालसा कर रही बेहतर कार्य

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस कार्यक्रम का आयोजन न्याय को सुनिश्चित करने वाली एवं उसे गांव- गांव तक पहुंचाने में लगी हुई संस्था के माध्यम से किया गया है. पारा लीगल वालंटियर एवं अन्य माध्यमों से झालसा अच्छा काम कर रही है. इसी के तहत गुरुवार को प्रोजेक्ट तृप्ति, प्रोजेक्ट आत्मनिर्भर, प्रोजेक्ट निरोगी भवन एवं प्रोजेक्ट चेतना का शुभारंभ हुआ है.

इस मौके पर चीफ जस्टिस रवि रंजन के अलावे जस्टिस एससी मिश्रा, जस्टिस अमरेश कुमार सिंह, जस्टिस सुजीत नारायण प्रसाद, जस्टिस अनुभा रावत चौधरी समेत अन्य एवं नेमरा से रामगढ़ विधायक ममता देवी, रामगढ़ डीसी संदीप सिंह, एसपी प्रभात कुमार सहित जिला प्रशासन के अन्य अधिकारी भी मौजूद थे.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें