26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

चंपाई का इस्तीफा, हेमंत संभालेंगे सत्ता

चंपाई सोरेन ने बुधवार को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया. साथ ही इंडिया गठबंधन ने हेमंत सोरेन को अपना नेता चुन लिया. हेमंत सोरेन अब सीएम की कमान संभालेंगे. दिन के 11:00 बजे हुई सत्ता पक्ष के विधायकों की बैठक में हेमंत सोरेन को फिर से मुख्यमंत्री बनाये जाने पर मुहर लगायी गयी.

ब्यूरो प्रमुख (रांची).

चंपाई सोरेन ने बुधवार को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया. साथ ही इंडिया गठबंधन ने हेमंत सोरेन को अपना नेता चुन लिया. हेमंत सोरेन अब सीएम की कमान संभालेंगे. दिन के 11:00 बजे हुई सत्ता पक्ष के विधायकों की बैठक में हेमंत सोरेन को फिर से मुख्यमंत्री बनाये जाने पर मुहर लगायी गयी. सत्ता पक्ष की बैठक के बाद मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन शाम सवा सात बजे राजभवन पहुंचे और उन्होंने राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन को अपना इस्तीफा सौंप दिया. मुख्यमंत्री श्री सोरेन के साथ हेमंत सोरेन, कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी गुलाम अहमद मीर, प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर, विधायक प्रदीप यादव, विनोद सिंह, सत्यानंद भोक्ता राजभवन पहुंचे थे. चंपाई सोरेन के इस्तीफा के साथ ही इंडिया गठबंधन ने हेमंत सोरेन के नेतृत्व में नयी सरकार का दावा भी ठोक दिया है. इंडिया गठबंधन ने राज्यपाल को 44 विधायकों का समर्थन पत्र सौंपा है. चंपाई सोरेन के इस्तीफे के साथ ही राज्यपाल ने उन्हें वैकल्पिक व्यवस्था होने तक अपने पद पर बने रहने के लिए कहा है. इस आशय का पत्र चंपाई सोरेन को सौंपा. गुरुवार को हेमंत तीसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं. श्री सोरेन राज्य के 13वें मुख्यमंत्री होंगे. हेमंत सोरेन के जेल से निकलने के बाद झारखंड की राजनीति ने तेजी से करवट ली. इसके बाद से सत्ता परिवर्तन की सुगबुगाहट शुरू हो गयी थी.

बैठक में भावुक हुए चंपाई सोरेन, बोले – गठबंधन ने जो जवाबदेही दी, उसे निभाया, पांच महीने सरकार चलायी :

सत्ता पक्ष के विधायकों की बैठक में मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन भावुक दिखे. उन्होंने कहा कि गठबंधन ने हमें जो जिम्मेवारी सौंपी थी, उसे निभाया. हमने पांच महीने बेहतर तरीके से सरकार चलायी. बैठक के बाद वे घर लौटने लगे, तो कहा : राजभवन चलना होगा, तो बताइएगा. बैठक के बाद हेमंत सोरेन और प्रदीप यादव उनके आवास गये. वहां से तीनों नेता एक साथ राजभवन के लिए रवाना हुए. बैठक में हेमंत सोरेन ने कहा कि आनेवाले विधानसभा चुनाव में मिलकर लड़ना है. हम सभी एकजुट रहें. भाजपा को परास्त करना है.

बैठक में नहीं आये लोबिन व चमरा :

सत्ता पक्ष की बैठक में विधायक लोबिन हेंब्रम व चमरा लिंडा नहीं पहुंचे थे. समर्थन पत्र पर इन दोनों का हस्ताक्षर नहीं हुआ. इधर, झामुमो कोटे से सीता सोरेन और विधायक रहे दुमका के सांसद नलिन सोरेन व चाईबासा की सांसद व पूर्व विधायक जोबा मांझी भी शामिल नहीं हुए.

:::::::::::::::::

गठबंधन के निर्णय के अनुसार काम किया है. पिछले दिनों गठबंधन ने ही उन्हें मुख्यमंत्री बनाया था. तब हेमंत सोरेन जेल में थे. हेमंत बाबू अब वापस आ गये हैं. गठबंधन ने नेतृत्व परिवर्तन का निर्णय लिया. फिर से उन्हें नेता चुना गया है. इसलिए हमने मुख्यमंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया है. जो निर्णय है, उसके अनुसार काम किया. चंपाई सोरेन,- कार्यवाहक मुख्यमंत्री, झारखंड

:::::::::::::::::

सारी प्रक्रिया पूरी कर रहे हैं. शपथ ग्रहण का समय बहुत जल्द बता दिया जायेगा. – हेमंत सोरेन, विधायक दल के नेता

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें