राखा एक हमारा स्वामी सगल... कीर्तन संग निकली प्रभात फेरी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

रांची : गुरुद्वारा श्री गुरुनानक सत्संग सभा, कृष्णानगर कॉलोनी में बुधवार को छठे दिन भी सुबह छह बजे प्रभातफेरी निकाली गयी. प्रभातफेरी गुरुद्वारा साहिब के दर्शन दिउड़ी से निकल कर स्व. बालकिशन खीरबाट, ललित किंगर, मनोहर लाल मिढ़ा, पवन पपनेजा, बलबीर खीरबाट, श्याम गाबा, प्रकाश गिरधर व अर्जुन दास मिढ़ा की गलियों से होते हुए दर्शन दिउड़ी गेट पहुंच कर 8.30 बजे विसर्जित हो गयी.

फेरी में सत्संग सभा की कीर्तन मंडली की सुंदर दास मिढ़ा, इंदर मिढ़ा, पाली मुंजाल, रमेश पपनेजा, जीतू काठपाल, बबली दुआ, गीता कटारिया, शीतल मुंजाल, मंजीत कौर, इंदु पपनेजा ने राखा एक हमारा स्वामी सगल घटा का अंतर्यामी..., मिल मेरे गोबिंद अपना नाम देहो... व हर संगतां जेवड न कोई मेरे राम...जैसे शबद गायन कर कॉलोनी का माहौल भक्तिमय कर दिया.
सरदार भूपिदंर सिंह ने निशान साहिब उठा कर फेरी की अगुवाई की और मनीष मिढ़ा ने श्रद्धालुओं के घरों के सामने वाहेगुरु से कुशल मंगल की अरदास की. फेरी में अर्जुन दास मिढ़ा, लक्ष्मण दास मिढ़ा, नरेश पपनेजा, जीवन मिढा, महेंद्र अरोड़ा, गुलशन मिढ़ा, हरगोविंद सिंह, मुरारी मिढ़ा, हरीश तेहरी, अमर मदान, रमेश गिरधर, जगदीश मुंजाल सहित अन्य साध संगत शामिल हुए.
चार साहिबजादे की शहादत पर सजा विशेष दीवान
रांची. गुरुद्वारा श्री गुरु सिंह सभा के तत्वावधान में बुधवार को चार साहिबजादे की शहादत पर मेन रोड गुरुद्वारा में विशेष दीवान सजाया गया. इसमें हुजूरी रागी भाई भरपूर सिंह ने अमृतवाणी का गायन किया. श्री दरबार साहिब अमृतसर के हुजूरी रागी भाई रविंदर सिंह ने कीर्तन गायन किया.
कार्यक्रम में काफी संख्या में साध संगत शामिल हुए. उधर, गुरुवार को गुरुद्वारा मेन रोड की प्रभात फेरी नगरा टोली सहित अन्य इलाके से होकर गुरुद्वारा वापस पहुंचेगी. स्टेशन रोड, पीपी कंपाउंड सहित अन्य जगहों की प्रभात फेरी मेन रोड गुरुद्वारा पहुंच कर समाप्त होगी.
राज्यस्तरीय शैक्षणिक कार्यशाला सह सम्मान समारोह आयोजित
पूर्व में मैट्रिक व इंटर परीक्षा में बेहतर अंक लानेवाले विद्यार्थियों का सम्मान
रांची : अमेरिका और कनाडा में रहनेवाले भारतीय मूल के मुस्लिमों की संस्था एफमी और फ्रेंड्स ऑफ वीकर सोसाइटी रांची के संयुक्त तत्वावधान में बुधवार को राज्यस्तरीय शैक्षणिक कार्यशाला सह सम्मान समारोह का आयोजन किया गया. इसमें पूर्व में मैट्रिक व इंटर परीक्षा में बेहतर अंक लानेवाले विद्यार्थियों को सम्मानित किया गया. कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल के निदेशक अमिताभ चौधरी मौजूद रहे.
उन्होंने कहा कि मुस्लिम समुदाय के बच्चे शिक्षा के क्षेत्र में अपना उत्कृष्ट प्रदर्शन कर रहे हैं. उन्होंने बच्चों को उच्च शिक्षा प्राप्त कर समाज और देश की सेवा में भी आगे आना को कहा. कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में मौजूद वित्त पर्षद के सचिव अबू इमरान ने छात्र-छात्राओं से कहा कि छात्रों को कानूनी शिक्षा प्राप्त करने पर भी ध्यान देना चाहिये. आइपीएस अर्शी ने कहा कि शिक्षा रोजगार देने के लिए नहीं, बल्कि मस्तिष्क के निर्माण के लिए भी होता है.
नीलांबर-पीतांबर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो डॉ फिरोज अहमद ने कहा कि प्रत्येक बच्चे दो मित्र ऐसा बनायें, जिसकी भाषा दूसरी हो. इससे आपस की संस्कृति का आदान-प्रदान हो सकेगा और आपस के संबंध मजबूत किये जा सकेंगे.
राज्यस्तरीय शैक्षणिक कार्यक्रम व पुरस्कार वितरण समरोह में विदेश से आये अतिथि व एफमी के संस्थापक व न्यासी डॉ एएस नकादर ने कहा कि इस देश का हम पर कर्ज है. जिसे हम चुकाने के लिए यहां आते हैं. हमारी कोशिश है कि शत-प्रतिशत शिक्षा यहां के बच्चों को प्राप्त हो.
कार्यक्रम का संचालन तहसीन जमां ने किया, स्वागत भाषण तनवीर अहमद व धन्यवाद ज्ञापन प्रो एमएन जुबैरी ने किया. कार्यक्रम में मुख्य रूप से छात्र-छात्राओं व अभिभावकों के अलावा खलील, आसिफ इकबाल, हाजी मोख्तार अहमद, जबी-उर-रहमान, अफरोज तन्हा, हाजी असलम, मतीउर रहमान, शकील अहमद, सईद अहमद, डॉ असलम परवेज, नेहाल, कमर सिद्दिकी, जाहिद, जावेद अख्तर, अनीस अफजल सहित अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे. सोसाइटी की अोर से पुराने नोटों व सिक्कों की प्रदर्शनी भी लगायी गयी थी.
Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें