1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. latehar
  5. teachers on the road against mahuadand beeo accused of financial and mental torture sam

महुआडांड बीईईओ के खिलाफ सड़क पर उतरे शिक्षक, आर्थिक और मानसिक प्रताड़ना का लगाया आरोप

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : महुआडांड प्रखंड के प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी राजीव रंजन ठाकुर के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करते शिक्षक.
Jharkhand news : महुआडांड प्रखंड के प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी राजीव रंजन ठाकुर के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करते शिक्षक.
प्रभात खबर.

Jharkhand news, Latehar news : लातेहार : लातेहार जिला अंतर्गत महुआडांड प्रखंड के प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी (BEEO) राजीव रंजन ठाकुर के खिलाफ शिक्षकों का सब्र का बांध टूट गया और रविवार (13 सितंबर, 2020) को सभी सड़क पर उतर गये. शिक्षकों का आरोप है कि बीईईओ द्वारा हर अपमानित किया जाता है. इसके अलावा आर्थिक और मानसिक तौर पर प्रताड़ित भी किया जाता है. इस मामले को लेकर पहले भी डीसी जिशान कमर को प्रखंड के शिक्षकों ने आवेदन देकर मामले की जांच करने का अनुरोध किया था.

डीसी के निर्देश पर रविवार को जिला शिक्षा पदाधिकारी छठु विजय सिंह महुआडांड़ पहुंचे, तो जिला शिक्षा पदाधिकारी के समक्ष शिक्षक एवं शिक्षिकाओं ने बीईईओ के खिलाफ हाथों में तख्ती लेकर नारेबाजी एवं विरोध प्रदर्शन किया. मामले को शांत कराने के बाद संत तेरेसा प्लस टू विद्यालय के सभागार में सोशल डिस्टैंसिंग का पालन करते हुए बैठक की गयी.

बैठक में जिला परिषद सदस्य मनिना कुजुर एवं आदिवासी युवा जागृति मंच के शशि पन्ना ने कहा कि बीईईओ के खिलाफ कार्रवाई नहीं होती है, तो यह मामला राज्य के शिक्षा मंत्री के समक्ष रखा जायेगा. श्री पन्ना ने यह भी कहा कि अगर आवश्यकता पड़ी, तो 18 सितंबर से शुरू हो रहे विधानसभा सत्र में भी मामला उठवाया जायेगा. बैठक में इन दोनों के अलावा प्रमुख जोन वाल्टर, गारू बीईईओ, वरीय शिक्षक ग्रेगोरी, फादर दिलीप एवं अन्य शिक्षक उपस्थिति थे.

शिक्षकों ने रखी अपनी बात

राजकीय प्राथमिक विद्यालय, पारही नवाटोली की प्रधानाध्यापिका फ्लोरा मिंज ने कहा कि मुझे प्रताड़ित कर वित्तीय दोहन किया गया. गत 15 अगस्त को विद्यालय परिसर में बारिश का पानी भर जाने के कारण विद्यालय के छत पर झंडा फहराया गया था. इसके एवज में बीईईओ द्वारा एक हजार रुपये लिया गया. कई शिक्षकों ने कहा कि विद्यालय की सरस्वती वाहिनी माता समिति की संयोजिका तथा अध्यक्ष के नाम में परिवर्तन करने के लिए पैसा लिया जाता है.

बीईईओ का व्यवहार खराब

प्रखंड शिक्षक संघ के सचिव सह शिक्षक चंद्रशेखर प्रसाद ने कहा कि निशुल्क पाठ्य पुस्तक वितरण के लिए पाठ्य पुस्तक मद तथा ज्ञान सेतु पाठ्य पुस्तक वितरण के लिए एलईपी मद में राशि आवंटन प्राप्त होने के बावजूद बीआरसी से विद्यालय तक शिक्षकों ने अपने निजी खर्च से 2 बार पुस्तकों का उठाव किया. इस मामले में भी बीईईओ द्वारा शिक्षकों के साथ खराब व्यवहार किया गया.

मामलों की जांच की जा रही है. छठु विजय सिंह

इस संबंध में जिला शिक्षा पदाधिकारी छठु विजय सिंह ने कहा कि शिक्षकों की बात सुनी गयी है. मामले को लेकर जांच किया जा रहा है. सभी मामलों पर मतभेद दूर कर उचित कार्रवाई की जायेगी.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

अन्य खबरें