झारखंड : क्या बढ़ गया है नक्सलियों का हौसला ? शहर में घटना को अंजाम दे भाग निकले

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

रांची : चुनाव के दौरान जहां एक ओर पुलिस केंद्रीय अर्धसैनिक बलों के साथ नक्सल और उग्रवाद प्रभावित इलाके के जंगलों में अभियान चला रही है. वहीं दूसरी ओर शुक्रवार की रात नक्सलियों ने लातेहार जिला के चंदवा थाना क्षेत्र के लुकइया गांव के समीप खड़ी पीसीआर वैन पर हमला कर दिया. इसमें पुलिसकर्मी और होमगार्ड के चार जवान शहीद हो गये. घटना को अंजाम देने के बाद नक्सलियों ने पुलिस और होमगार्ड के जवान से हथियार भी लूट लिया. हमला करने की यह तकनीक नक्सलियों की नयी योजना का परिणाम तो नहीं.

इस मामले की सबसे गंभीर बात है कि नक्सली रवींद्र गंझू का दस्ता चंदवा थाना क्षेत्र के शहरी इलाके में पिछले तीन दिनों से सक्रिय था. लेकिन पुलिस ने उसके खिलाफ कोई ठोस कार्रवाई नहीं की. इस कारण रवींद्र गंझू के दस्ता को घटना को अंजाम देने का मौका मिला. मामले में एक और बात यह भी सामने आयी है कि रवींद्र गंझू का दस्ता कुछ दिन पूर्व घटनास्थल से करीब 15 किलोमीटर की दूरी पर भी देखा गया था. उसके खिलाफ जंगल प्रभावित इलाके में अभियान भी चलाया गया था. लेकिन पुलिस और खुफिया विभाग को इस बात की सूचना नहीं थी कि रवींद्र गंझू पुलिस पर कब और कहां हमला कर सकता है. कहीं यह खुफिया तंत्र की विफलता तो नहीं.

घटना के बाद सीमावर्ती क्षेत्र में नक्सलियों की तलाश में अभियान तेज

लातेहार जिला के चंदवा थाना क्षेत्र में घटनास्थल के चारों ओर नक्सलियों की तलाश में पुलिस ने केंद्रीय अर्धसैनिक बलों के साथ अभियान तेज कर दिया है. वहीं सीमावर्ती जिले लोहरदगा और रांची में भी नक्सलियों की तलाश की जा रही है. नक्सली रवींद्र गंझू को तलाशने के लिए पुलिस उसके समर्थकों के बारे में भी जानकारी एकत्र कर रही है. पीसीआर वाहन के बारे में नक्सलियों को किसी घटनास्थल के समीप रहने वाले किसी स्थानीय ने तो सूचना नहीं दी. पुलिस इस बिंदु पर भी जानकारी जुटा रही है.

सीमावर्ती इलाके में पुलिस हुई अलर्ट

देवघर. झारखंड-बिहार के सीमावर्ती इलाके में नक्सलियों की चहलकदमी शुरू हो गयी है. नक्सली दस्ते सीमावर्ती क्षेत्र के गांव में घूम-घूम कर लोगों को डरा रहे हैं तथा वोट बहिष्कार का दबाव बना रहे हैं. पुलिस सहित खुफिया एजेंसियों को लगातार सूचनाएं मिल रही हैं कि प्रभावित इलाकों में नक्सलियों ने अपनी गतिविधियां बढ़ा दी हैं. खुफिया एजेंसियों ने मुख्यालय को अलर्ट कर दिया है. सभी जिलों को पत्र भेजकर सतर्कता बरतने का निर्देश दिया गया है. चुनाव पूर्व सीमावर्ती इलाके में पड़ने वाले बिहार राज्य के जिलों से मिलकर नक्सलियों के विरुद्ध संयुक्त एलआरपी व कांबिंग अभियान चलाने के लिए भी कहा गया है.

चंदवा और पिपरा के थानेदार होंगे निलंबित

रांची : लातेहार के चंदवा थाना के प्रभारी मोहन पांडेय और पलामू के पिपरा थाना के प्रभारी एमडी कुदुस को निलंबित कर उनके खिलाफ विभागीय कार्यवाही चलायी जायेगी. इस संबंध में शुक्रवार की देर शाम पुलिस मुख्यालय ने चुनाव आयोग को प्रस्ताव बनाकर भेजा है. इसकी पुष्टि एक वरीय पुलिस अधिकारी ने की है. शुक्रवार को लातेहार के चंदवा थाना क्षेत्र के लुकइया गांव में शुक्रवार को नक्सलियों ने हमला कर पीसीआर सवार एक एएसआइ व तीन होमगार्ड की हत्या कर दी थी. वहीं शनिवार को पलामू के पिपरा बाजार में नक्सलियों ने अंधाधुंध फायरिंग कर दी. इसमें दो लोगों की मौत हो गयी और चार घायल हो गये थे.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें