25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

नाकेबंदी से त्रस्त होकर सेल प्रबंधन ने अपर सिम व कोल वाशरी को किया बंद

सेल प्रबंधन ने काम रोका, तनाव बरकरार

सेल चासनाला कोलियरी में दो यूनियनों से हुए विवाद में प्रबंधन ने मंगलवार को तीसरे दिन भी चासनाला अपर सीम खान व कोल वाशरी को बंद रखा. उस कारण एक हजार ठेका मजदूर काम से बैठे हुए हैं. बताते हैं कि 21 सूत्री मांगों को लेकर बीसीकेयू व झाकोमयू के बैनर तले पिछले शुक्रवार व शनिवार को की गयी आर्थिक नाकेबंदी शनिवार को देर रात समाप्त हो गयी. उसके बाद सेल प्रबंधन ने सोमवार को चासनाला अपर सिम खान व कोल वाशरी को चालू नहीं किया है. मंगलवार को तीसरे दिन भी ठप है.

प्रबंधन की बंदी असंवैधानिक : बीसीकेयू

बीसीकेयू के केंद्रीय कार्यकारी अध्यक्ष सुंदर लाल महतो सचिव योगेन्द्र महतो ने मंगलवार को सहायक श्रमायुक्त केंद्रीय धनबाद, उपायुक्त, एसएसपी धनबाद, इडी सेल कोलियरी डिवीजन, सीजीएम चासनाला को पत्र प्रेषित कर प्रबंधन द्वारा की गयी बंदी को गलत और असंवैधानिक ठहराया है. कहा है कि प्रबंधन मजदूरों को बिना कोई नोटिस दिये अपर सिम खान एवं कोल वाशरी को बंद कर दिया है, जिससे एक हजार ठेका मजदूरों के रोजी-रोटी से खिलवाड़ किया जा रहा है.

वाशरी पौंड में जमी स्लरी निकाले जाने तक बंद रहेगा प्लांट : प्रबंधन

सेल चासनाला कोलियरी के महाप्रबंधक कार्मिक व प्रशासन संजय तिवारी ने बताया कि चासनाला कोल वाशरी पौंड में स्लरी का स्टॉक अधिक हो जाने से ओवर फ्लो कर रहा है. जब तक स्लरी नहीं निकाली जायेगी, तब तक प्लांट नहीं चल पायेगा. अपर सिम खान के बैंकर में कोयला जमा हो गया है. उस कारण उसका भी उत्पादन रोक दिया गया है. बीसीकेयू व झाकोमयू मशीन से स्लरी को उठाने नहीं दे रही है. कहा कि दोनों यूनियनों द्वारा 5 व 6 जुलाई को आर्थिक नाकेबंदी की गयी थी, जिसमें सिर्फ ट्रांसपोर्टिंग बंद करनी चाहिए थी. परंतु लोगों ने अपर सिम खान, कोल वाशरी आदि को जबरन बंद करा दिया था. प्रबंधन ने बंदी की खबर उच्च अधिकारियों को दे दी है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें