1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. dhanbad
  5. jharkhand news cbi raids many places including dhanbad patna lakhisarai delhi fir lodged against these top officials of dhanbad srn

सीबीआइ ने धनबाद, पटना, लखीसराय, दिल्ली सहित कई जगहों पर की छापेमारी, धनबाद के इन बड़े अधिकारियों पर प्राथमिकी दर्ज

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सीबीआइ ने धनबाद, पटना, लखीसराय, दिल्ली सहित कई जगहों पर की छापेमारी
सीबीआइ ने धनबाद, पटना, लखीसराय, दिल्ली सहित कई जगहों पर की छापेमारी
Twitter

Jharkhand News, Dhanbad News धनबाद : प्रथम एवं द्वितीय श्रेणी मैनेजरशिप दक्षता परीक्षा पास कराने के बदले अभ्यर्थियों से मोटी रकम वसूलने के मामले में केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआइ) ने रविवार को धनबाद, पटना, लखीसराय, दिल्ली सहित कई जगहों पर छापेमारी की. जांच एजेंसी ने धनबाद स्थित खान सुरक्षा महानिदेशालय (डीजीएमएस) सेंट्रल जोन के उप महानिदेशक अरविंद कुमार और उनके भाई कैलाश महतो समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया है.

सीबीआइ ने कुल 39.80 लाख रुपये नकद और जमीन के कई दस्तावेज भी बरामद किया है. डीडीजी अरविंद कुमार को धनबाद, जबकि उनके भाई कैलाश महतो, त्रिलोकीनाथ सिंह सहित अन्य चार को लखीसराय में सूर्यगढ़ा से गिरफ्तार किया गया. पूरा मामला 72 लाख रुपये के रिश्वत कांड से जुड़ा है. सीबीआइ के अनुसार, अधिकारी अरविंद कुमार महतो ने त्रिलोकीनाथ सिंह और अन्य के साथ मिल कर महानिदेशालय की मौखिक परीक्षा में उपस्थित होनेवाले कुछ उम्मीदवारों के फेवर के लिए साजिश रची थी.

प्रबंधक के पद के लिए कंप्यूटर आधारित परीक्षा में उत्तीर्ण लोगों की मौखिक परीक्षा हुई थी. जांच एजेंसी के अधिकारियों ने बताया कि उम्मीदवारों से रिश्वत लेकर साक्षात्कार बोर्ड से उनकी मदद कराने की कथित साजिश रची थी. त्रिलोकीनाथ और अन्य के जरिये भेजे गये 48 उम्मीदवारों से कुल 72 लाख रुपये की रिश्वत ली गयी थी.

सीबीआइ के अनुसार, धनबाद से अरविंद कुमार ने दो लोगों के माध्यम से 35 लाख रुपये रविवार को एक कार से लखीसराय के सूर्यगढ़ा भेजा. सूर्यगढ़ा में अरविंद के भाई कैलाश महतो, जो अमरपुर हाई स्कूल में शिक्षक हैं और उसके मित्र हुसैना निवासी प्रवीण कुमार 35 लाख रुपए रिसीव करने पहुंचे थे. इसी बीच सीबीआइ की टीम ने चारों लोगों को रंगेहाथ 35 लाख रुपए के साथ गिरफ्तार कर लिया.

डीजीएमएस के उप महानिदेशक

वहीं अरविंद को उनके धनबाद स्थित आवास से गिरफ्तार किया गया. पटना व दिल्ली में अरविंद के रिश्तेदारों के घर में छापेमारी हुई है. सीबीआइ टीम का नेतृत्व कर रहे डीएसपी कैलाश साहू ने बताया कि सूर्यगढ़ा के पहलवान चौक के समीप जेएच 10बीवी 1200 नंबर की कार में रखे एक बैग से कुल 35 लाख रुपये तथा खावा गांव स्थित स्व. झड़ी महतो के आवास पर छापेमारी कर चार लाख 80 हजार रुपये बरामद किये गये.

सूर्यगढ़ा से जिन चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है, उनमें खावा निवासी स्व. झरी महतो का पुत्र प्लस टू उच्च विद्यालय अमरपुर में शिक्षक कैलाश महतो, हुसैना गांव के प्रवीण कुमार, धनबाद के त्रिलोकीनाथ सिंह एवं रंगबहादुर सिंह शामिल हैं. ये सभी धनबाद स्थित डीजीएमएस सेंट्रल जोन के उप महानिदेशक (डीडीजी) अरविंद कुमार के सहयोगी हैं.

कार्रवाई में शामिल थे 12 सीबीआइ अधिकारी

सीबीआइ ने डीजीएमएस के पांच डीडीजी समेत सात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है. प्राथमिकी के मुताबिक, डीजीएमएस के अधिकारियों ने प्रथम व सेकंड क्लास मैनेजरशिप सर्टिफिकेट (दक्षता परीक्षा) पास कराने के नाम पर 48 अभ्यर्थियों से 72 लाख रुपये की वसूली की थी. यह परीक्षा 8 मार्च और 20 मार्च, 2021 को आयोजित की गयी थी.

फर्स्ट क्लास मैनेजरशिप अभ्यर्थियों से परीक्षा पास कराने के एवज में 2.5 लाख रुपये, जबकि सेकंड क्लास मैनेजर के उम्मीदवारों से दो-दो लाख रुपये की वसूली की गयी थी. डीएसपी कैलाश साहू ने बताया कि अरविंद कुमार अभ्यर्थियों से राशि वसूल कर अपने घर भेज रहे थे. सीबीआइ की कार्रवाई में 12 अधिकारी शामिल थे. डीडीजी अरविंद कुमार मेदिनीचौकी थाना क्षेत्र के खावा गांव के रहनेवाले हैं. वह स्व. झड़ी महतो के बड़े पुत्र हैं. झड़ी महतो की एक माह पूर्व ही मृत्यु हुई है.

सूर्यगढ़ा पहले ही पहुंच गयी थी टीम

सूचना के मुताबिक, सीबीआइ की टीम दो लग्जरी वाहनों से पहले ही सूर्यगढ़ा पहलवान चौक पर पहुंच गयी थी. टीम ने डेढ़ घंटे तक वाहन का इंतजार किया. टीम को पक्की सूचना थी कि कार से राशि सूर्यगढ़ा लायी जा रही है. यहां से यह राशि दूसरे वाहन से भेजी जानी थी. धनबाद से त्रिलोकीनाथ सिंह एवं रंगबहादुर सिंह जेएच 10बीवी 1200 नंबर की कार में एक बैग में 35 लाख रुपये लिये थे. पहलवान चौक के समीप बीआर 08जे 5047 नंबर की बाइक से खावा गांव के कैलाश महतो सूर्यगढ़ा पहलवान चौक पहुंचे.

उन्हें राशि से भरा बैग सौंपा जाना था. बैग साैंपे जाने से पहले ही सीबीआइ की टीम ने दोनों वाहनों को कब्जे में ले लिया. कार में दो लोग सवार थे. वहीं बाइक पर सवार कैलाश एवं प्रवीण को कब्जे में लिया गया. यहां से सीबीआइ अरविंद कुमार के घर पहुंची तथा लगभग चार घंटे से अधिक समय तक घर की तलाशी ली. घर से चार लाख 80 हजार रुपये कैश, जमीन के कागजात आदि जब्त किये.

कुछ महत्वपूर्ण तथ्य

48 उम्मीदवारों से कुल 72 लाख रुपये की वसूली

फर्स्ट क्लास मैनेजरशिप के लिए 2.5 लाख, जबकि सेकंड क्लास मैनेजर के लिए दो लाख लिये

इन पर दर्ज हुई प्राथमिकी

नाम पद और पदस्थापन

अरविंद कुमार डीडीजी (सेंट्रल जोन धनबाद)

मनीष इ मुरकुटे डीडीजी (नॉर्थ वेस्टर्न जोन उदयपुर)

यूपी सिंह डीडीजी (वेस्टर्न जोन नागपुर)

सतीश छिद्ररवार डीडीजी (नॉर्थ जोन गाजियाबाद)

मलाय टिकेदार डीडीजी (साउथ सेंट्रल जोन हैदराबाद)

त्रिलोकी सिंह ब्रोकर, प्रोफेसर कॉलोनी धनबाद

कैलाश महतो मेदनी चौकी, किरणपुर, सूर्यगढ़ा, लखीसराय

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें