1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. dhanbad
  5. indian railways news anand vihar santragachi express narrowly escaped due to accident departmental inquiry begins smj

Indian Railways News : दुर्घटनाग्रस्त होने से बाल-बाल बची आनंद विहार- संतरागाछि एक्सप्रेस, विभागीय जांच शुरू

ट्रेन संख्या (02586) आनंद विहार-संतरगाछि एक्सप्रेस बुधवार की सुबह सासाराम में लाल सिग्नल पास कर दुर्घटनाग्रस्त होने से बाल-बाल बची. इसके कारण ट्रेन सासाराम स्टेशन पर काफी देर तक रुकी रही.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : आनंद विहार- संतरागाछि एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त होने से बाल-बाल बची.
Jharkhand news : आनंद विहार- संतरागाछि एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त होने से बाल-बाल बची.
सोशल मीडिया.

Indian Railways News (गोमो, धनबाद) : ट्रेन संख्या (02586) आनंद विहार-संतरगाछि एक्सप्रेस बुधवार की सुबह सासाराम में लाल सिग्नल पास कर दुर्घटनाग्रस्त होने से बाल-बाल बची. इसके कारण ट्रेन सासाराम स्टेशन पर काफी देर तक रुकी रही.

जानकारी के अनुसार, पंडित दीनदयाल उपध्याय स्टेशन पर गोमो के लोको पायलट एसएन सिंह तथा सहायक लोको पायलट मनीष कुमार ने डाउन आनंद विहार-संतरागाछि एक्सप्रेस का चार्ज लिया. उक्त चालक दल को ट्रेन लेकर गोमो आना था. ट्रेन का ठहराव पंडित दीनदयाल उपध्याय स्टेशन के बाद सीधे गया में है. सासाराम में ट्रेन को रिवरसेबल लाइन पर लिया गया. उक्त लाइन का स्टार्टर सिग्नल लाल था. जहां ट्रेन को रुकना था, लेकिन ट्रेन नहीं रुकी.

चालक दल ने ट्रेन को रोकते-रोकते सिग्नल से इंजन तथा दो बोगी आगे बढ़ गयी. जिससे ट्रेन दुर्घटनाग्रस्त होने से बाल-बाल बची. इस घटना की सूचना पाते ही पंडित दीनदयाल उपाध्याय रेल मंडल के कंट्रोल तथा अधिकारियों के बीच खलबली मच गयी. घटना बुधवार की सुबह 3:48 बजे की है.

सीनियर अधिकारी के आदेश पर उक्त चालक दल का ड्यूटी सासाराम में ऑफ करा दिया गया. ट्रेन को दूसरे चालक दल की सहायता से गंतव्य की ओर रवाना किया गया. उक्त घटना में ट्रेन भले ही दुर्घटनाग्रस्त होने से बाल-बाल बच गयी, लेकिन रेलवे के अनुसार, विभाग इसे दुर्घटनाग्रस्त ही समझता है.

ट्रैक सर्किट पार कर गया था इंजन : इंदु प्रकाश

इस संबंध में पंडित दीनदयाल उपाध्याय रेल मंडल के वरीय मंडल विद्युत अभियंता (ओपी) इंदु प्रकाश ने बताया कि इंजन ट्रैक सर्किट पार कर गयी थी. मामला एसपीएडी का है. चालक दल का मेडिकल टेस्ट कराया गया है. ट्रेन को दूसरे चालक दल की सहायता से आगे की ओर रवाना किया गया है.

नहीं थम रहा SPAD

रेलवे की ओर से दुर्घटना को शून्य करने के लिए समय-समय पर सेफ्टी सेमिनार का आयोजन किया जाता है. प्रत्येक सेमिनार में SPAD से बचाव को लेकर लोको रनिंग कर्मचारियों को सुरक्षा का पाठ पढ़ाया जाता है. इसके बावजूद SPAD की घटना होना गंभीर चिंता का विषय है. उक्त घटना के पीछे चालक दल को उचित रेस्ट नहीं मिलना, मानसिक तनाव तथा लापरवाही समेत कई कारण हो सकते हैं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें