सत्ता की भूखी है भाजपा व कांग्रेस : अखिलेश

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

संवाददाता, छपरा (सारण)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा-कांग्रेस दोनों को देश की गरीबी और गरीबों से कोई सरोकार नहीं है. दोनों पार्टियां सत्ता की भूखी है. श्री यादव शनिवार को छपरा में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे. वे यहां छपरा सेंट्रल स्कूल के भवन का लोकार्पण सह महान समाजवादी नेता कपिलदेव प्रसाद श्रीवास्तव के जयंती समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल होने आये थे. श्री यादव ने कहा कि देश की जनता को तीसरे मोरचे से उम्मीदें हैं और तीसरा मोरचा ही कांग्रेस-भाजपा को रोकने का कार्य करेगा. सारण में पहली बार आये मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कांग्रेस व भाजपा दोनों पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि देश की जनता कांग्रेस शासन का वर्षो से दंश ङोल रही है. देश में गरीबी-भुखमरी, बेरोजगारी चरम पर है. इससे जनता छुटकारा पाने के लिए तड़प रही है. देश में जब-जब चुनाव करीब आता है, भाजपा के द्वारा सत्ता पाने के लिए यात्र की जाती है. उन्होंने भाजपा पर यात्र के बहाने देश में सांप्रदायिकता फैलाने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि दुनिया के सभी विकसित देशों के विकास की कहानी में शिक्षा का सबसे बड़ा योगदान है. हमें अपने पड़ोसी देश चीन से सीख लेनी चाहिए, जिसने काफी कम समय में दुनिया में बुलंदी का झंडा गाड़ा है. राष्ट्र व समाज के विकास में शिक्षा के महत्व को रेखांकित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि यूपी में इंजीनियरिंग और मेडिकल कॉलेजों की संख्या बढ़ाने का मुलायम सिंह यादव का सपना था, जिसे हमने पूरा किया. देश में आज सबसे अधिक यूपी में इंजीनियरिंग व मेडिकल कॉलेज हैं. यूपी-बिहार के छात्रों का अधिक पलायन दक्षिण के राज्यों में होता था. यूपी में पलायन रुका है और दूसरे राज्यों से छात्र अब पढ़ने आते हैं, लेकिन बिहार में इसकी कमी है. श्री यादव ने कहा कि यूपी तथा बिहार के विकास के बिना देश का विकास संभव नहीं है. देश की तरक्की व खुशहाली के लिए यूपी-बिहार के विकास की जोरदार वकालत की.

उन्होंने देश की विकास के लिए मूल्यों व विचारधारा पर आधारित योजना बनाये जाने पर बल दिया. उन्होंने कहा कि आज कल टीवी पर नेताओं में मुकाबला चल रहा है. देश के विकास व जनता की समस्याओं को हाशिये पर रख कर बेबुनियाद बहस हो रही है. उन्होंने उत्तर प्रदेश के विकास के लिए चलायी जा रहीं योजनाओं पर कहा कि जब +2 के छात्रों के लिए हमने लैपटॉप लाया तो, खूब आलोचना की गयी. कहा गया समाजवादी यह सब कहां से करने लगे. आज इसका अनुकरण अन्य राज्य भी कर रहे हैं. दुनिया का कोई भी देश नहीं होगा, जहां 15 लाख छात्रों को लैपटॉप दिया गया हो. इस अवसर पर उत्तर प्रदेश के मंत्री अंबिका चौधरी, ओमप्रकाश सिंह, रामगोविंद चौधरी, बलराम यादव, नारद राय, बिहार विधान परिषद के उपसभापति सलीम परवेज, सांसद नीरज शेखर, विधान पार्षद महाचंद्र प्रसाद सिंह, विधायक डॉ संग्राम सिंह यादव, सपा के प्रदेश अध्यक्ष तुलसी सिंह आदि ने संबोधित किया. अध्यक्षता बिहार केंद्रीय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो जनक पांडेय, स्वागत सचिव डॉ पंकज कुमार, संचालन दिनेशचंद्र शर्मा व अनुजा रंजन ने की. इस अवसर पर स्कूल के सचिव ने मुख्यमंत्री को प्रतीक चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें