1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. admission in engineering those with ranks from 20 to 30 thousand in jee main can get nit patna asj

इंजीनियरिंग में प्रवेश : जेइइ मेन में 20 से 30 हजार तक रैंक वालों को मिल सकता है एनआइटी पटना

जेइइ मेन 2021 के चारों सेशन के रिजल्ट के साथ-साथ रैंक कार्ड भी नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने जारी कर दिया है. टॉप 2.50 लाख स्टूडेंट्स जेइइ एडवांस्ड के लिए क्वालिफाइ हुए हैं. वहीं, स्टूडेंट्स जेइइ एडवांस के लिए 20 सितंबर तक फॉर्म भर सकते हैं.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
एनआइटी पटना
एनआइटी पटना
फाइल

पटना. जेइइ मेन 2021 के चारों सेशन के रिजल्ट के साथ-साथ रैंक कार्ड भी नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने जारी कर दिया है. टॉप 2.50 लाख स्टूडेंट्स जेइइ एडवांस्ड के लिए क्वालिफाइ हुए हैं. वहीं, स्टूडेंट्स जेइइ एडवांस के लिए 20 सितंबर तक फॉर्म भर सकते हैं. जेइइ एडवांस्ड तीन अक्तूबर को होगा.

एडवांस्ड का रिजल्ट जारी होने के बाद ज्वाइंट सीट एलोकेशन अथॉरिटी (जोसा) काउंसेलिंग के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया शुरू करेगी. 23 आइआइटी, 31 एनआइटी 23 ट्रिपल आइटी सहित अन्य गवर्नमेंट फंडेड इंस्टीट्यूट (जीएफटीआइ) की 36 हजार सीटों पर एडमिशन के लिए काउंसेलिंग के लिए रजिस्ट्रेशन तिथि जारी की जायेगी.

जेइइ एडवांस्ड क्वालिफाइ स्टूडेंट्स आइआइटी और जेइइ मेन में क्वालिफाइ स्टूडेंट्स एनआइटी व गवर्नमेंट फंडेड इंस्टीट्यूट में एडमिशन के लिए रजिस्ट्रेशन और च्वाइस फिलिंग कर सकेंगे. जेइइ मेन के रैंक कार्ड पर एनआइटी पटना से लेकर एनआइटी कालीकट, सूरत आदि कई संस्थानों में बेहतर ब्रांच मिल सकते हैं.

जेइइ मेन में ऑल इंडिया 20 से 30 हजार तक रैंक लाने वाले स्टूडेंट्स को टॉप 10 एनआइटी की अन्य ब्रांचों के अतिरिक्त पटना, रायपुर, सिल्चर, उत्तराखंड, श्रीनगर, आंध्रप्रदेश, अरुणाचल प्रदेश जैसे एनआइटी की कोर ब्रांचों के साथ-साथ नये ट्रिपलआइटी जैसे तिरछी, नागपुर, पूणे, सूरत, भोपाल, वडोदरा, लखनऊ, रांची, गुवाहाटी आदि मिलने की संभावनाएं बन सकती हैं.

30 से 60 हजार वाले को मिल सकता है ट्रिपलआइटी रांची

30 से 60 हजार ऑल इंडिया रैंक वाले स्टूडेंट्स को टॉप-20 एनआइटी की कोर ब्रांचों के अलावा अन्य ब्रांचों व नॉर्थ इस्ट के एनआइटी जैसे सिक्किम, मणिपुर, मेघालय, नागालैंड, मिजोरम में कोर ब्रांच के साथ-साथ नये ट्रिपलआइटी रांची, धारवाड़ ,कल्याणी, कुर्नूल, चित्तूर, नया रायपुर व जीएफटीआइ में प्रवेश मिलने की संभावना है. यह दी गयी एआइआर पर कॉलेज मिलने की संभावनाएं कैटेगरी अनुसार सामान्य, ओबीसी, इडब्ल्यूएस, एससी-एसटी के विद्यार्थियों के लिए बदल सकती है.

10 हजार रैंक वालों को मिल सकता है कालीकट एनआइटी

जिनकी ऑल इंडिया रैंक पांच से 10 हजार के बीच रहेगा, उन्हें उपरोक्त टॉप पांच एनआइटी की अन्य ब्रांचों के अतिरिक्त कालीकट, सूरत, नागपुर, भोपाल, कुरूक्षेत्र, राउरकेला जैसे एनआइटी में कोर ब्रांच मिलने की संभावना है.

30 हजार रैंक वालों को नये ट्रिपलआइटी मिलने की संभावना

ऑल इंडिया रैंक 20 से 30 हजार तक लाने वाले स्टूडेंट्स को टॉप 10 एनआइटी की अन्य ब्रांचों के अतिरिक्त पटना, रायपुर, सिल्चर, उत्तराखंड, श्रीनगर, आंध्रप्रदेश, अरुणाचल प्रदेश जैसे एनआइटी की कोर ब्रांचों के साथ-साथ नये ट्रिपलआइटी जैसे तिरछी, नागपुर, पुणे, सूरत, भोपाल, वडोदरा, लखनऊ, रांची, गुवाहाटी आदि मिलने की संभावनाएं बन सकती हैं.

20 हजार तक रैंक वालों को मिल सकता है एनआइटी जमशेदपुर

10 से 20 हजार के बीच जेइइ मेन रैंक लाने वालों को जालंधर, जमशेदपुर, दिल्ली, गोवा, अगरतला, हमीरपुर, दुर्गापुर जैसे एनआइटी में कोर ब्रांच के साथ-साथ ट्रिपलआइटी ग्वालियर जबलपुर, पेक चंडीगढ़, आइआइइएसटी शिवपुर, बिट्स मेसरा, जेएनयू, हैदराबाद यूनिवर्सिटी में कोर ब्रांच मिलने की संभावना है.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें