बैंकों के विलय के खिलाफ 30 हजार से अधिक बैंककर्मी आज हड़ताल पर

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
पटना : सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के विलय के विरोध में मंगलवार को 30 हजार से अधिक बैंक कर्मचारी हड़ताल पर रहेंगे. हड़ताल का आह्वान ऑल इंडिया बैंक इंप्लाइज एसोसिएशन और बैंक इंप्लाइज फेडरेशन ऑफ इंडिया ने संयुक्त रूप से किया है.
बैंक हड़ताल के कारण एटीएम सेवाएं भी बाधित होने के आसार हैं. वैसे बैंक प्रबंधकों का दावा है कि देर रात एटीएम में कैश अपलोड कर दिया गया है. वहीं, बैंक हड़ताल की पूर्व संध्या पर मंगलवार को बैंक कर्मियों ने कोतवाली थाना स्थित इलाहाबाद बैंक के मुख्यालय के समक्ष अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन किया. प्रदर्शन में सभी बैंकों के कर्मचारियों ने भाग लिया. बैंकों का विलय के खिलाफ बैंककर्मियों में भारी आक्रोश था. बिहार प्रोविन्सियल बैंक इंप्लाइज एसोसिएशन के उप महासचिव ने कहा कि आज बैंकों का विलय आम जनता और देशहित में नहीं है.
ये श्रमिक संगठन होंगे शामिल :
इंटक, एटक, सीटू, एक्टू और एचएमएस के साथ देश के आठ शीर्ष संगठनों ने संयुक्त रूप से 22 अक्तूबर के बैंक हड़ताल का समर्थन में धरना और प्रदर्शन कार्यक्रमों में भाग लेंगे.
ऑफिसर्स संगठन का भी समर्थन : आॅल इंडिया बैंक आॅफिसर्स एसोसिएशन के संयुक्त सचिव डीएन त्रिवेदी ने बताया कि आॅल इंडिया बैंक आॅफिसर्स एसोसिएशन की तरहअब बैंकिंग उद्योग का सबसे बड़ा अधिकारी संगठन आॅल इंडिया बैंक आॅफिसर्स कन्फेडरेशन ने भी पत्र जारी कर हड़ताल का समर्थन करते हुए अपने सदस्यों को हड़ताल केदिन लिपिकीय से जुड़े कार्य और कैश की चाबी का प्रभार नहीं लेने का निर्देश जारी किया है. कन्फेडरेशन कानैतिक समर्थन मिलने के कारण हड़ताली अब स्टेट बैंक को भी बंद करा सकेंगे.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें