33.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

बारात से लौट रही कार ने ट्रक में मारी टक्कर, 4 ने मौके पर तोड़ा दम, पांचवें की अस्पताल में मौत

बारात से लौट रही कार तेज रफ्तार होने के कारण सामने जा रही ट्रक में घुस गयी. इस हादसे में चार ने मौके पर दम तोड़ दिया. वहीं पांचवें की अस्पताल में मौत हो गई. इस दुर्घटना में गाड़ी के परखच्चे उड़ गए.

रामपुर हरि थाना क्षेत्र में मुजफ्फरपुर-सीतामढ़ी एनएच-77 पर बुधवार तड़के पौने तीन बजे बारात से लौट रही एक सुमो अनियंत्रित होकर ट्रक में पीछे से टक्कर मार दी. टक्कर इतनी जोरदार थी कि सुमो का अगला हिस्सा ट्रक के भीतर घुस गया. करीब 100 मीटर तक आगे जाने के बाद ट्रक चालक ने ब्रेक लगाया. इस दौरान सूमो में सवार चालक समेत तीन अन्य लोगों की घटनास्थल पर ही मौत हो गयी. वहीं एक व्यक्ति की मौत निजी अस्पताल में इलाज के दौरान हुई. गाड़ी में कुल 10 लोग सवार थे. इसमें तीन लोग गंभीर रूप से जख्मी हुए हैं. वहीं दो बच्चे को हल्की चोट लगी है. 

घटना के संंबंध में बताया जाता है कि सीतामढ़ी जिले के रुन्नीसैदपुर के बलिगढ़ देवना बुजुर्ग पंचायत निवासी दिनेश धांगर और गायत्री धांगर के पुत्र अरविंद कुमार की शादी चकिया निवासी सुरेश धांगर की पुत्री से  थी. इसके लिए बारात सीतामढ़ी से चकिया आयी थी. यहां शादी समारोह में शामिल होने के बाद करीब एक बजे बारात में आये लोग सीतामढ़ी के लिए चले थे.

टक्कर के बाद ट्रक में फंसी गाड़ी

पांच गाड़ी में सवार होकर 50 से अधिक लोग वापस लौट रहे थे. इसी बीच बारात में शामिल सूमो जिसमें 10 लोग सवार थे. इसके चालक को नींद आ गयी. गाड़ी की स्पीड 100 किलोमीटर प्रति घंटे से अधिक थी. इस कारण मुजफ्फरपुर से सीतामढ़ी की ओर जा रही 10 चक्का ट्रक में सूमो ने पीछे से जोरदार टक्कर मार दी. टक्कर इतनी भीषण थी कि सूमो का अगला हिस्सा ट्रक के नीचे फंस गया. जबतक ट्रक चालक ब्रेक लगाता गाड़ी को लेकर करीब 100 मीटर आगे तक घसीट दिया.

इस दौरान चार लोग विपिन महतो (55 वर्ष), चालक सोहन महतो (45 वर्ष), इंद्रकुमार धांगर (40 वर्ष) और प्रद्युमन धांगर (25 वर्ष) की मौके पर ही मौत हो गई. जबकि कारी धांगर (40 वर्ष) की मौत निजी अस्पताल में इलाज के दौरान हुई. घटना के समय सोहन महतो गाड़ी चला रहा था. वहीं अन्य मृतक गाड़ी में नींद में थे.

जख्मी हुए पांच लोगों में से तीन की स्थिति गंभीर

गाड़ी में चालक समेत कुल 10 लाेग सवार थे. इसमें से चार ने घटनास्थल और एक ने इलाज के दौरान अस्पताल में दम तोड़ दिया. तीन लोगों की स्थिति गंभीर बनी हुई है. एसकेएमसीएच के इमरजेंसी वार्ड में ऋतिक धांगर, मुकलाल धांगर और मुकेश पटेल का इलाज चल रहा है. वहीं समीर कुमार समेत एक अन्य बच्चे को चोट आयी.उसे इलाज के बाद उसे छोड़ दिया गया.

गश्ती दल और स्थानीय लोगों ने घायलों को पहुंचाया अस्पताल

रामपुर हरि थाना से करीब दो-तीन किलोमीटर पूर्व मकसूदपुर चिमनी के सामने जिस समय यह घटना हुई. उससे करीब एक किलोमीटर की दूरी पर पुलिस की गश्ती की गाड़ी खड़ी थी. जोरदार आवाज सुनकर पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे. हाइवे किनारे रहने वाले किसान विनोद कुमार सबसे पहले यहां पहुंचे. उन्होंने देखा कि गाड़ी में लोग फंसे हैं और खून से लथपथ हैं.

पुलिसकर्मियों की मदद से उन्होंने लोगों को गाड़ी से बाहर निकाला. उन्होंने जिला पार्षद हिमांशु गुप्ता को इसकी सूचना दी. वे मौके पर अन्य लोगों को लेकर पहुंचे. इसके बाद जख्मी हुए लोगों को वहां से गुजर रहे ऑटो की मदद से एसकेएमसीएच में इलाज के लिए भेजा गया.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें