1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. kaimur
  5. notice being pasted on the homes of 356 people who came from outside there will be a checkup

बाहर से आये 356 लोगों के घरों पर चिपकाया जा रहा नोटिस, होगा रिचेकअप

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
बाहर से आये 356 लोगों के घरों पर चिपकाया जा रहा नोटिस, होगा रिचेकअप
बाहर से आये 356 लोगों के घरों पर चिपकाया जा रहा नोटिस, होगा रिचेकअप

मोहनिया सदर : अनुमंडल अस्पताल प्रशासन द्वारा शनिवार को क्षेत्र के वैसे 356 लोग जो बाहर से आये हैं. उनके घरों पर मेडिकल टीम द्वारा नोटिस चिपकाने का कार्य शुरू कर दिया गया है. इस संबंध में अनुमंडल अस्पताल के उपाधीक्षक डॉ चंदेश्वरी रजक ने बताया कि विदेश के साथ देश के अन्य राज्यों में रहने वाले प्रखंड के 356 लोग जिनकी जांच भभुआ रोड स्टेशन, अनुमंडल अस्पताल व सूचना मिलने पर उनके घर जाकर मेडिकल टीम द्वारा जांच की गयी थी. वैसे लोगों की सूची तैयार कर रि- चेकअप के लिए तैयारी चल रही है. जिला प्रशासन के आदेश पर एहतियात के तौर पर ऐसे लोगों के घरों पर नोटिस चिपकाया जा रहा है.

बताया कि उस नोटिस पर यह अंकित किया गया है कि कब से कब तक उस घर के कितने सदस्यों से पास पड़ोस के अलावे किसी भी अन्य लोगों को नहीं मिलना है. उसकी तिथि के जिक्र के साथ उस व्यक्ति का नाम उसके पिता/ पति का नाम, ग्राम/ वार्ड संख्या, प्रखंड एवं व्यक्तियों की संख्या भी अंकित किया गया है. एहतियात के तौर पर यह कदम इसलिए उठाया जा रहा है. क्योंकि बाहर से अपने घर आने के दौरान रास्ते में हवाई जहाज, ट्रेन, बस या अन्य किसी भी यातायात के साधन से घर आने के दौरान उक्त व्यक्ति कई लोगों के संपर्क में आये होंगे. इसलिए वैसे व्यक्तियों को उनके ही घर में 15 दिन के लिए आइसोलेट कर दिया गया है. इसके साथ ही उनके घर के सभी सदस्यों को यह हिदायत दी गयी है कि जिस दिन से वह व्यक्ति अपने घर आया है.

उस दिन से अगले 15 दिन तक कोई भी व्यक्ति उसके संपर्क में नहीं आये. उससे दूरी बना कर रखें. क्योंकि पहले दिन से ही कोरोना वायरस पॉजिटिव मरीज के टच में आने वाले व्यक्ति को पॉजिटिव मान लिया जाता है. लेकिनश् उसका असर पहले दिन से लेकर 15 दिन के अंदर स्पष्ट दिखायी देने लगता है. यदि संदिग्ध व्यक्ति को इस 15 दिन के बीच खांसी, जुकाम, बुखार व सांस लेने में परेशानी जैसी समस्या उत्पन्न नहीं होती है. तो वह अपने परिवार के साथ अन्य लोगों के संपर्क में भी पूरी तरह आ सकता है और सभी में कोरोना पॉजिटिव पाया जायेगा.

यदि निर्धारित समय सीमा के अंदर उस संदिग्ध में इस तरह की बीमारी नहीं पायी जाती है तो यह मान लिया जाता है कि उस मरीज में कोरोना वायरस पॉजिटिव बिल्कुल भी नहीं है. हालांकि जिन 356 मरीजों का अब तक चेकअप किया गया है. उन लोगों में कोई भी ऐसा मरीज नहीं मिला है. जिसमें वायरस के पॉजिटिव होने की संभावना व्यक्त की जा सके.

    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें