27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Jamui News: गार्ड पर बदसलूकी करने का आरोप, महिला मरीजों ने किया हंगामा

दिग्विजय सिंह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गिद्धौर का मामला

गिद्धौर (जमुई).

इन दिनों दिग्विजय सिंह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गिद्धौर में सिविल सर्जन और प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी स्वास्थ्य व्यवस्था को सुधारने और मरीजों के सुलभ इलाज की कवायद में लगे हैं. दूसरी ओर अस्पताल परिसर में इलाज कराने आयी महिला मरीजों ने सोमवार को ड्यूटी पर तैनात गार्ड पर बदसलूकी करने का आरोप लगाया है. बताया जाता है कि सोमवार को अस्पताल परिसर में चल रहे ओपीडी के दौरान सेवा, गंगरा, मौरा व कोल्हुआ गांव से आयी दर्जनों महिला मरीजों ने ड्यूटी पर तैनात गार्ड बीके यादव को घेर कर जमकर हंगामा किया. इस दौरान सभी महिलाएं गार्ड के रवैये से नाराज थीं. दोषी गार्ड पर कार्रवाई की मांग कर रही थीं. आधा दर्जन से अधिक महिला मरीजों ने बताया कि सुबह आठ बजे से हम लोग ओपीडी कक्ष के बाहर पर्ची कटा कतारबद्ध हो खड़े होकर अपनी अपनी बारी का इंतजार कर रहे थे. लेकिन गार्ड बीके यादव कतारबद्ध महिला मरीजों को अंदर भेजने के बजाय दूसरे मरीजों से नजराना वसूल उन्हें अंदर भेज रहे थे. पूछने पर गार्ड ने हम लोगों के साथ बदसलूकी की. कहा कि चुपचाप खड़े रहिए. जब मेरी मर्जी होगी, तब आप लोगों को डॉक्टर से मिलने दिया जायेगा. इधर इस मामले में अस्पताल के गार्ड बीके यादव ने बताया कि मरीजों का आरोप निराधार है. बिजली गुल रहने की वजह से ओपीडी में थोड़ा विलंब हो रहा था. इस वजह से बेवजह का हो-हल्ला किया जाने लगा. आरोप बेबुनियाद है.

बीसीएम पर रुपये मांगने के आरोप की चिकित्सा पदाधिकारी ने की जांच

झाझा.

आशा फेसिलिटेटर द्वारा बीसीएम पंकज कुमार पर लगाये गये रुपये मांगने का आरोप की जांच रेफरल अस्पताल चिकित्सा प्रभारी डॉ अरुण कुमार सिंह ने सोमवार को की. इस दौरान उन्होंने कई आशा फेसिलिटेटर को कार्यालय में बुलाकर गहन छानबीन व जांच की. कई आशा फेसिलिटेटर ने रुपये मांगने की बात कही तो कई ने इस बात को सिरे से खारिज दिया. चिकित्सा प्रभारी डॉ सिंह ने बताया कि बीते कुछ दिन पूर्व आशा फेसिलिटेटर ने बीसीएम पर रुपये मांगने का आरोप लगाया था. इसकी जांच हमने की है. कुछ लोगों ने रुपये मांगने की बात कही है. कुछ लोगों ने इसे खारिज कर दिया है. सिविल सर्जन द्वारा हमें मामले की जांच कर रिपोर्ट जिला भेजने को कहा गया है. चिकित्सा पदाधिकारी डॉ सिंह ने बताया कि आगामी 3 मई को इसकी जांच को लेकर तीन सदस्य टीम झाझा आयेगी. जांच की जायेगी. फिलहाल हमने जो भी जानकारी फेसिलिटेटर से ली है, इसे जिला को भेज दिया है. बताते चलें कि कुछ दिन पूर्व बीसीएम पंकज कुमार पर आशा फेसिलिटेटर ने राशि की मांग किये जाने का आरोप लगाया था. चिकित्सा पदाधिकारी डॉ सिंह ने इसकी प्राथमिक जांच की है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें