38.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

सोनपुर मेला की रौनक बढ़ा रहें मंत्री व विधायकों के घोड़े, गाय व सांड, यहां नंदी और भैंस की कीमत लाखों में

इस बार बिहार के सोनपुर मेले में अच्छी नस्ल के जानवर लाए गए हैं. इसी क्रम में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के मंत्री सुमित कुमार सिंह ने भी यहां अपना डेरा जमा लिया है. साथ ही भाजपा विधायक व पूर्व मंत्री रामसूरत राय का घोड़ा भी मेले का रौनक बना हुआ है.

विश्व प्रसिद्ध हरिहर क्षेत्र सोनपुर मेले में लोगों की घोड़ों के लिए दीवनगी देखने लायक है. आज के समय में गाड़ियों के साथ-साथ घोड़ों को चाहने वालों की भी संख्या बढ़ी है. हरिहर क्षेत्र सोनपुर मेले में शानो-शौकत के प्रतीक घोड़े को मंत्री से लेकर अधिकारी भी खरीद कर ले जाते रहे हैं. समय के साथ घोड़े का वाहन के तौर पर इस्तेमाल कम होने से भी पुराने ठाठ-बाट के लोगों में से कुछ ने आज भी घोड़ा पालना नहीं छोड़ा है. मेले में सिंध, मुल्तान और यहां तक कि अरब देश से उन्नत नस्ल के घोड़े कभी आया करते थे. इन घोड़ों से मेले में चार चांद लगा करता था.

Undefined
सोनपुर मेला की रौनक बढ़ा रहें मंत्री व विधायकों के घोड़े, गाय व सांड, यहां नंदी और भैंस की कीमत लाखों में 5

घोड़ा बाजार में बिल्कुल भी जगह खाली नहीं

पशु मेले के रूप में प्रसिद्ध इस मेले में अन्य पशुओं का आगमन कम हुआ है, लेकिन मेले के घोड़ा बाजार में बिल्कुल भी जगह खाली नहीं है. हर जगह तंबू व सामियाना लगा हुआ है. हालांकि विदेशी नस्ल के घोड़े अब नहीं आते है. घोड़ा बेचनेवालों के अलावा घोड़े के शौकीन लोगों ने भी अपनी ठाठ-बाट के साथ मेले में डेरा लगाया हुआ है. इनके तंबू में दो-चार बेशकीमती घोड़े बंधे हुए हैं. जो अपने मालिक की शानो-शौकत का बखान कर रहे हैं.

Undefined
सोनपुर मेला की रौनक बढ़ा रहें मंत्री व विधायकों के घोड़े, गाय व सांड, यहां नंदी और भैंस की कीमत लाखों में 6

मंत्री सुमित कुमार सिंह मेल में अपने घोड़ों को लेकर आए हैं

मेला में एक घोड़ा हैं चकाई विधानसभा से निर्दलीय विधायक व बिहार सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री सुमित कुमार सिंह हैं. इनके पिता स्वर्गीय नरेंद्र सिंह भी अपने पशुओं को सोनपुर मेले में लाया करते थे. अब मंत्री सुमित कुमार सिंह अपने बेहतरीन घोड़े को मेले में लाये हैं. उनके आदमी इस मेले में घोड़े का देखभाल कर रहे हैं.

Undefined
सोनपुर मेला की रौनक बढ़ा रहें मंत्री व विधायकों के घोड़े, गाय व सांड, यहां नंदी और भैंस की कीमत लाखों में 7

पूर्व मंत्री रामसूरत राय का घोड़ा भी बना है मेले की रौनक

वहीं दूसरी ओर भाजपा विधायक व पूर्व मंत्री रामसूरत राय का घोड़ा भी सोनपुर मेले का रौनक बना हुआ है. हरिहर क्षेत्र मेले में इस बार मंत्री सुमित सिंह के सात घोड़े आये हुए थे, जिनमें से तीन घोड़े का बिक्री हो चुकी है. वहीं उन्होंने इस मेले में पांच गिर गाय एवं बछड़े के अलावे एक नंदी साढ़ और एक मूरा नस्ल की भैंस भी लाये हैं. नंदी बिक्री के लिए नहीं है. फिर भी पूछे जाने पर वहां मौजूद देवी सिंह ने बताया कि नंदी की कीमत 51 लाख रुपये है. भैंस की कीमत 5 लाख रुपये है.

Also Read: सोनपुर मेला में ‘रेल ग्राम’ का हुआ उद्घाटन, सिग्नल से लेकर कई चीजों से हो रूबरू, जानिए खासियत

मेला के आउटडोर स्पोर्ट्स गेम्स का शेड्यूल जारी

इधर, मेला में आयोजित होने वाले आउटडोर स्पोर्ट्स गेम्स का भी शेड्यूल जारी कर दिया गया है. 30 नवंबर से तीन दिसंबर तक डाक बंगला मैदान सोनपुर में कबड्डी की प्रतियोगिता आयोजित होगी. इसका संयोजक सुशील कुमार सिंह को बनाया गया है. चार से छह दिसंबर तक डाकबंगला मैदान सोनपुर में खो- खो की प्रतियोगिता होगी. इसके लिए सकलदीप सिंह को संयोजक नियुक्त किया गया है. डाकबंगला मैदान में ही सात व 8 दिसंबर को संयोजक यशपाल कुमार सिंह की देखरेख में शतरंज की प्रतियोगिता आयोजित होगी.

Undefined
सोनपुर मेला की रौनक बढ़ा रहें मंत्री व विधायकों के घोड़े, गाय व सांड, यहां नंदी और भैंस की कीमत लाखों में 8

नौका दौड़ की प्रतियोगिता भी होगी आयोजित

सोनपुर मेला में इस बार नौका दौड़, तीरंदाजी, हैंडबॉल व वॉलीबाॅल प्रतियोगिता का भी आयोजन किया जायेगा. आठ दिसंबर को संयोजक दिनेश कुमार साहनी की देखरेख में पुल घाट से कालीघाट तक नौका दौड़ की प्रतियोगिता होगी. वहीं मनोज कुमार गुप्ता के संयोजकत्व में 9 व 10 दिसंबर को डाक बंगला मैदान में तीरंदाजी, संजय कुमार सिंह की देखरेख में 10 से 12 दिसंबर तक डाक बंगला मैदान में हैंडबॉल तथा किशोर कुणाल की देखरेख में डाक बंगला मैदान सोनपुर में 11 से 13 दिसंबर तक वॉलीबॉल की प्रतियोगिता होगी. सोनपुर मेला में फुटबॉल प्रतियोगिता भी होगी. जो डाक बंगला मैदान में ही 13 से 16 दिसंबर तक होगी. इसके लिए सूरज कुमार को संयोजक बनाया गया है.

Also Read: PHOTOS: राजगीर महोत्सव शुरू, मंत्री विजय चौधरी ने किया उद्घाटन, कहा- सामाजिक एकता का संदेश देता है महोत्सव

कुश्ती व दंगल प्रतियोगिता होगी खास

कुश्ती व दंगल की प्रतियोगिता भी इस बार मेले में खास होगी. डाक बंगला मैदान में ही 17 से 20 दिसंबर तक कुश्ती व दंगल की विभिन्न प्रतियोगिताएं आयोजित होंगी. इसके लिए विकास कुमार को संयोजक बनाया गया है. वहीं मेले को आकर्षक रूप देने तथा मेले में युवाओं की बढ़ती संख्या को ध्यान में रखकर इस बार क्रिकेट टूर्नामेंट का भी आयोजन हो रहा है. डाकबंगला मैदान में 21 से 24 दिसंबर के बीच क्रिकेट की प्रतियोगिता होगी. जिसके लिए राजेश कुमार सिंह को संयोजक बनाया गया है. कला संस्कृति एवं युवा विभाग के द्वारा आयोजित इन प्रतियोगिताओं के लिए प्रतिभागियों का चयन भी किया जा रहा है. कई प्रतिस्पर्धाओं के लिए प्रतिभागियों का चयन पूरा हो चुका है.

Also Read: सीएम नीतीश कुमार 30 नवंबर को राजगीर महोत्सव का करेंगे उद्घाटन, 1986 में हुई थी शुरुआत

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें