24.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

लोस चुनाव का प्रचार थमा, कल 20.10 लाख मतदाता करेंगे वोट

लोकसभा सीट के लिए 25 मई को होने वाले मतदान का चुनाव प्रचार गुरुवार की शाम छह बजे थम गया. प्रचार के थमने के साथ ही पुलिस प्रशासन भी आचार संहिता का पालन कराने के लिए पूरी तरह से मुस्तैद हो गया है. शनिवार की सुबह सात बजे से मतदान शुरू हो जायेगा.

गोपालगंज. लोकसभा सीट के लिए 25 मई को होने वाले मतदान का चुनाव प्रचार गुरुवार की शाम छह बजे थम गया. प्रचार के थमने के साथ ही पुलिस प्रशासन भी आचार संहिता का पालन कराने के लिए पूरी तरह से मुस्तैद हो गया है. शनिवार की सुबह सात बजे से मतदान शुरू हो जायेगा. इसके लिए पोलिंग पार्टियों की रवानगी से लेकर मतदान केंद्रों की सुरक्षा को लेकर प्रशासन ने पूरी तैयारियां कर ली हैं. चुनाव के दिन मौसम को देखते हुए जिला प्रशासन की ओर से खास इंतजाम किये गये हैं. जिले के 2006 मतदान केंद्रों पर 20.10 लाख मतदाता अपने वोट की चोट से सांसद का चुनाव करेंगे. प्रत्येक विस क्षेत्र में तीन-तीन मतदान केंद्रों को मॉडल बूथ बनाया गया है. जहां मतदाताओं को बैठने, पेयजल व छाया आदि की व्यवस्था की गयी है. इसके साथ ही जिले के प्रत्येक मतदान केंद्र पर एएमएफ सुविधा करा ली गयी है. जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेटों की तैनाती की गयी है. 462 संवेदनशील व अतिसंवेदन शील -68 मतदान केंद्रों पर पारा मिलिट्री फोर्स की तैनाती होगी. चुनाव में वोटरों के लिए बेहतर इंतजाम किये गये हैं. चुनाव को प्रशासन की ओर से उत्सव जैसा माहौल बनाने की कोशिश की गयी है. 17- गोपालगंज लोकसभा सीट के लिए 11 प्रत्याशी मैदान में जमे हुए हैं. इनमें जदयू से डॉ आलोक कुमार सुमन, विकासशील इंसान पार्टी से प्रेमनाथ चंचल उर्फ चंचल पासवान, भारतीय राष्ट्रीय दल से सुरेंद्र राम, निर्दलीय सत्येंद्र बैठा, गण सुरक्षा पार्टी से राम कुमार मांझी, बहुजन मुक्ति पार्टी से जितेंद्र राम, बहुजन समाज पार्टी से सुजीत कुमार राम, निर्दलीय भोला हरिजन, एआइएमआइएम से दीनानाथ मांझी, निर्दलीय नमी राम और निर्दलीय अनिल राम जनता के बीच मैदान में भाग्य आजमा रहे हैं. लोकसभा सामान्य निर्वाचन को सकुशल, निष्पक्ष, पारदर्शी व शांतिपूर्ण ढंग से कराये जाने को लेकर अधिकारियों को निर्देशित किया है. डीएम मकसूद आलम ने कहा कि सभी मतदान केंद्रों पर और इसके पास के 200 मीटर के दायरे में किसी भी प्रकार के राजनीतिक प्रचार की सामग्री न हो. मतदान के दिन निर्वाचन क्षेत्र में राजनीतिक दलों/प्रत्याशियों द्वारा स्थापित किए गये समस्त मतदाता सहायता केंद्रों की रिकार्डिंग करेंगे, साथ में बूथों तथा मतदाता सहायता केंद्रों में आदर्श आचार संहिता के किसी भी प्रकार का उल्लंघन अथवा किसी भी अन्य प्रकार की अनियमितताएं जाने पर कार्रवाई के साथ अधिकारियों को सूचित करें.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें