25.4 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

गया में दिनदहाड़े महिला की गला रेतकर हत्या, मामला रंजिश का या कुछ और? जांच में जुटी पुलिस

गया शहर में एक पुलिस पिकेट के नजदीक अपराधियों ने घर में घुसकर एक महिला की दिनदहाड़े हत्या कर दी. मामले में पुलिस छानबीन में जुटी हुई है.

Bihar Crime News: गया के कोतवाली थाने के नया गोदाम टीओपी के समीप एक मकान में किराए पर रहने वाली 50 वर्षीय मंजू देवी की अपराधियों ने घर में घुसकर धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या कर दी और फरार हो गए. घटना के वक्त मंजू देवी घर में अकेली थीं. उनके पति अरुण कुमार व बेटे दुकान पर थे. वहीं बेटी स्कूल पढ़ाने गयी थी. शहर में पुलिस पिकेट के पास दिनदहाड़े गला रेत कर हत्या की जानकारी पाते ही सिटी एएसपी पारसनाथ साहू व कोतवाली थानाध्यक्ष आशीष कुमार झा सहित काफी संख्या में पुलिसकर्मी पहुंचे और छानबीन की. घर के एक कमरे में पलंग पर मंजू देवी का शव पड़ा था और खून बिखरा था. छानबीन में लूटपाट या छिनतई की भी जांच की गयी, पर आलमारी व बक्से सहित सामान सुरक्षित थे. पुलिस पदाधिकारियों को आशंका है कि महिला की हत्या किसी दुश्मनी में हुई है.

एसआईटी का गठन

इस मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस टीम ने घटनास्थल को सुरक्षित किया और फोरेंसिक साइंस लेबोरेटरी-एफएसएल व डॉग स्कायड की टीम को बुलाया. सभी ने अपने-अपने बिंदुओं पर छानबीन किया और नमूना एकत्रित किया. वहीं, शव को पोस्टमार्टम के लिए मगध मेडिकल कॉलेज भेज दिया. घटना को एसएसपी आशीष भारती ने गंभीरता से लिया है और सिटी एसपी की मॉनीटरिंग में एक विशेष टीम का गठन किया है. 

सबसे पहले मंजू की हत्या के कारणों का पता लगाने में जुटी पुलिस

नयी गोदाम टीओपी के पास एक मकान में किराये पर रहने वाली 50 वर्षीया मंजू देवी की हत्या के बाद उनके बेटे मयंक कुमार ने मीडिया व पुलिस पदाधिकारियों को बताया कि शहर के रहने वाले अंजन उर्फ टाइगर नामक युवक से उनकी दोस्ती थी. बाद में उससे दोस्ती छोड़ दी. कुछ दिन पहले वह अपने साथियों के साथ उनकी दुकान पर आया और पैसे की मांग करने लगा. पैसा नहीं देने पर उसने धारदार चाकू से हमला कर दिया. इस हमले में उसके हाथ भी कट गया था. लेकिन, वह इस घटना को गंभीरता से नहीं लिया और अब उसने उनकी मां की हत्या उसी धारदार हथियार से कर दी.

हत्याकांड को सुलझाने में जुटी स्पेशल टीम

एसएसपी आशीष भारती के निर्देश पर इस कांड के खुलासे को लेकर सिटी एसपी की मॉनीटरिंग में एक विशेष टीम का गठन किया गया है. इसमें सिटी एएसपी पारसनाथ साहू, कोतवाली थानाध्यक्ष आशीष कुमार झा सहित दो दारोगा व टेक्निकल सेल के पुलिस पदाधिकारियों को शामिल किया गया है. एसएसपी के द्वारा गठित विशेष टीम मंजू हत्याकांड को सुलझाने में जुट गयी है.

स्पेशल टीम ने बनाई सवालों की सूची

मामले में जांच के लिए विशेष टीम ने सवालों की एक लंबी सूची बनायी है. उन सवालों में सबसे पहले नंबर पर है मंजू देवी की हत्या के क्या कारण हो सकते हैं. विशेष टीम का मानना है कि हत्या के कारणों का पता लगाना ही सबसे महत्वपूर्ण कारण है. मंजू देवी के बेटे मयंक ने खुलासा करते हुए सराय के रहने वाले अंजन उर्फ टाइगर पर हत्या करने का आरोप लगाया है. लेकिन, विशेष टीम के पास सवाल यह है कि अगर अंजन उर्फ टाइगर की दुश्मनी मयंक से थी, तो उसने मयंक की मां की हत्या इतनी बेदर्दी से क्यों की.

मयंक का ही बयान है कि दोस्ती रहने के दौरान अंजन उर्फ टाइगर उनके घर पर कभी नहीं आया है. जब अंजन उर्फ टाइगर उसके घर से अनभिज्ञ था तो आखिर किन कारणों से उसने उनकी हत्या की. इस कड़ी को सुलझाने को लेकर विशेष टीम ने मंजू देवी, उनके पति, बेटा व बेटी सहित उनके हमेशा करीब रहने वाले सगे संबंधियों का मोबाइल फोन नंबर जुटाना शुरू कर दिया है. इसमें से कुछ मोबाइल नंबरों को सीडीआर- कॉल डिटेल रेकॉड निकालने में जुट गयी है.

Also Read: औरंगाबाद में बारिश से बचने के लिए पेड़ के नीचे छिपे थे 3 छात्र, तभी गिरी बिजली, 2 की मौत

बारी-बारी से परिजनों से बयान दर्ज करने में जुटी विशेष टीम

हत्याकांड को सुलझाने को लेकर विशेष टीम ने मंजू देवी के परिजनों से बारी-बारी से पूछताछ कर उनका बयान लेने में जुट गयी है. विशेष टीम यह पता लगाना चाहती है कि मंजू देवी की हत्या के वक्त उनके परिजन कहां-कहां थे और शनिवार को उनके घर से कब लोग निकले थे.

गया जिले की अन्य खबरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

क्या कहते हैं सिटी एएसपी

सिटी एएसपी पारसनाथ साहू ने बताया कि धारदार हथियार से अपराधियों के द्वारा गला रेत कर मंजू देवी की हत्या की गयी है. हत्या किन कारणों से की गयी है व इस हत्याकांड में कौन-कौन शामिल हैं, इन सभी बिंदुओं पर छानबीन की जा रही है. पीड़ित परिजनों ने एक युवक पर आशंका जतायी है. उस बिंदु पर भी छानबीन की जा रही है. जल्द ही इस हत्याकांड का खुलासा करने का प्रयास किया जायेगा.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें