बिहार : गया गैंगरेप कांड से उबाल, दुकानें बंद, सियासत शुरू, पहुंचने लगे राजनेता

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

गया : बिहार के गया जिले के गुरारू-अहियापुर स्टेट हाईवे 69 से जुड़नेवाली कोंच थाना क्षेत्र के सोनडीहा गांव में बुधवार की रात को पति और बेटी के सामने महिला के साथ सामूहिक दुष्‍कर्म मामले पर सियासत तेज हो गयी है. मामले को लेकर भाकपा-माले ने बंद का आह्वान किया था. साथ ही शुक्रवार की सुबह प्रतिरोध मार्च निकाल कर घटना पर रोष जताया. हालांकि, गुरारू में व्यवसायियों ने अपनी दुकानें स्वत:बंद रखीं.वहीं,राजद ने राज्य की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाया है. राजद का चार सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल शुक्रवार को गया का दौरा कर एक रिपोर्ट तैयार करेगा. यह रिपोर्ट पूर्व उपमुख्यमंत्री व बिहार विधानसभा नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को सौंपी जायेगी.

बिहार : गया गैंगरेप कांड से उबाल, दुकानें बंद, सियासत शुरू, पहुंचने लगे राजनेता

जन अधिकार पार्टी के संरक्षक व मधेपुरा के सांसद पप्पू यादव शुक्रवार को पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे. वहीं पीड़ित बच्ची का मेडिकल जांच अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज में कराया गया. इसके बाद पीड़ित बच्ची से मिलकर बातें की. मौके पर उन्होंने कहा कि मामले में अदालत को स्‍वत: संज्ञान लेकर स्‍पीडी ट्रायल कर दोषियों को फांसी की सजा देनी चाहिए. पुलिस के वरीय अधिकारी अपनी पीठ थपथपाने के लिए यह बताने में लगे हैं कि बच्ची के साथ कोई दुष्कर्म नहीं हुआ.

बिहार : गया गैंगरेप कांड से उबाल, दुकानें बंद, सियासत शुरू, पहुंचने लगे राजनेता

गौरतलब हो कि सोनडीहा गांव के पास बुधवार की रात करीब साढ़े आठ बजे बेखौफ सड़क लुटेरों ने पति का हाथ बांध कर महिला के साथ सामूहिक दुष्‍कर्म के घटना को अंजाम दिया था. गुरारू से घर लौटने के दौरान सोनडीहा गांव के पास कनौली रोड पर अपराधियों नेपीड़ित की बाइक जबरदस्ती रुकवा कर कब्जे में ले लिया और बाइक पर सवार पति को पास के एक गड्ढे में ले जाकर हाथ बांध कर साथ जा रही पत्नी के साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया. इससे पहले अपराधियों ने उक्त जगह पर ही गुरारू से लौट रहे कोंच थाना क्षेत्र के इटवा गांव के रंधीर यादव व आंती थाना क्षेत्र के घोंघीमठ गांव के राजेंद्र यादव को कब्जे में लेकर मारपीट की और उनके मोबाइल व रुपये लूट लिये. इसी बीच, अपनी बच्ची व पत्नी के साथ बाइक से पहुंचे उक्त व्यक्ति भी लुटेरों की चपेट में आ गया. घटना में शामिल अपराधियों की संख्या करीब 11 थी, जो घटना के बाद मौके से फरार हो गये.

घटना की सूचना मिलते ही गुरारू, कोंच, पंचानपुर, आंती व परैया थाने की पुलिस ने एसटीएफ के साथ मिल कर सोनडीहा गांव में छापेमारी शुरू कर दी. गुरुवार की सुबह तक पुलिस ने सोनडीहा व आसपास के गांवों से 20 युवकों को हिरासत में लेकर पीड़ितों से पहचान करायी. पकड़े गये युवकों में से दो की पहचान पीड़िता व लूटपाट के शिकार दोनों लोगों ने कर ली है. उक्त दोनों युवक सोनडीहा गांव के हैं. घटना की सूचना मिलते ही एसएसपी राजीव मिश्रा रात करीब 11 बजे ही गुरारू थाने पर पहुंच गये व अपराधियों को पकड़ने की कार्रवाई को निर्देशित करते रहे.

इस मामले में शेरघाटी व टिकारी के डीएसपी को अपराधियों को पकड़ने का निर्देश दिया गया है. इस मामले में गिरफ्त में आये दो युवकों के नामों का खुलासा फिलहाल पुलिस ने नहीं किया है. हालांकि, गुरुवार की शाम साढ़े छह बजे तक डीआईजी विनय कुमार व एसएसपी राजीव मिश्रा गुरारू थाने में कैंप कर रहे थे व गैंगरेप की शिकार महिला व उसके पति भी थाने पर मौजूद थे. गुरुवार देर रात हिरासत में लिये लोगों में से 13 को छोड़ दिया गया.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें