21.1 C
Ranchi
Sunday, March 3, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

बिहार: दरभंगा में बदमाश ने थाने को जलाने का किया प्रयास, CCTV फुटेज में कैद हुई करतूत, अपराधी गिरफ्तार

Bihar News: बिहार के दरभंगा में पुलिस स्टेशन को जलाने का प्रयास हुआ है. इसके बाद सीसीटीवी कैमरे में सारी करतूत कैद हुई है. पुलिस आरोपी की पहचान में जुटी हुई है.

Bihar News: बिहार के दरभंगा में पुलिस स्टेशन को असमाजिक तत्वों ने जलाने का प्रयास हुआ है. इसके बाद सीसीटीवी कैमरे में आरोपी की करतूत कैद हुई है. पुलिस आरोपी की पहचान में लगातार जुटी हुई है. जिले के मोरो थाना का यह मामला है. यहां कुछ असामाजिक तत्वों ने थाने में आग लगा दी . पुलिसकर्मियों को थाने के अंदर ही जलाने की कोशिश की गई है. हालांकि, पुलिसकर्मियों की सजकता के कारण समय रहते आग पर काबू पा लिया गया. असामाजिक तत्व के द्वारा थाने को जलाने की करतूत सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है. CCTV के फुटेज में एक बाइक भी नजर आ रहा है. घटना की सूचना मिलते हैं सिटी एसपी सागर कुमार ने मौके पर पहुंचकर पूरे मामले की जांच की है.

पुलिसकर्मियों को जिंदा जलाने की हुई कोशिश

पुलिस के द्वारे थाने में लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज का अवलोकन किया गया. इस मामले में सीटी एसपी ने कहा है कि पूरे मामले की जांच की जा रही है. सीसीटीवी फूटेज में एक असामाजिक तत्व की तस्वीर कैद पाई गई है. उसका सत्यापन कराया जा रहा है. पुलिस की ओर से कहा गया है कि बहुत जल्द पूरे मामले का खुलासा किया जाएगा. जिले में थाने में मौजूद पुलिसकर्मियों को जिंदा जलाने का प्रयास किया गया है. बताया जाता है कि एक शख्स थाना में ज्वलनशील पदार्थ लेकर घुस गया. इस दौरान इसने थाने को जलाने का प्रयास किया. वहीं, कुछ पुलिसकर्मी ड्यूटी पर तैनात थे. इन्हें जिंदा जलाने की कोशिश हुई है.

Also Read: बिहार: बेगूसराय में पत्नी को रील बनाने से रोकना पति को पड़ा महंगा, परिजनों के साथ मिलकर उतारा मौत के घाट
आरोपी की तलाश जारी

आग लगाने वाले शख्स को एक चौकीदार ने देख लिया था. इसके बाद आरोपी वहां से फरार हो गया. फिलहाल, फूटेज के आधार पर इसे पकड़ने की कोशिश जारी है. पुलिस की सक्रियता से एक बड़ा हादसा टल गया है. वरीय पदाधिकारी भी मौके पर पहुंचकर मामले की जांच कर रहे हैं. जल्द ही आरोपी की पहचान करके उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा. इसकी तलाश की जा रही है. वहीं, इस घटना को लेकर अफरा- तफरी का माहौल भी हो गया था.

पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज को खंगाला

असामाजिक तत्वों के द्वारा मोरो थाना पर आग लगाने की घटना में शामिल बदमाश को सीसीटीवी फुटेज की मदद से पहचान कर गिरफ्तार करने का काम किया है. उक्त बातें की जानकारी देते हुए वही दरभंगा के वरीय पुलिस अधीक्षक अवकाश कुमार ने कहा कि बीती रात्रि में करीब 1 बजे मोरो थानाध्यक्ष द्वारा सूचना दिया गया कि कुछ असामाजिक तत्वों के द्वारा थाना में आग लगाने का प्रयास किया गया. हालांकि वहां पर तैनात पुलिस कर्मियों के द्वारा आग पर काबू पा लिया गया. बहुत ज्यादा क्षति वहां पर नहीं हो पाया है. सूचना मिलते ही वरीय पदाधिकारी सहित मैं खुद वहां पहुंचे. वहां पर तैनात सभी पुलिस पदाधिकारी और पुलिस बल से पूछताछ की गई. साथ ही थाना पर लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाल गया. जिसके बाद मोरो थाना में एक एफआईआर दर्ज की गई है.

पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार

वही अवकाश कुमार ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज खंगालने के बाद एक व्यक्ति की पहचान हुई है. जिसकी गिरफ्तारी भी की गई है. जिनका नाम धर्मेंद्र ठाकुर है, वह कपरपुरा का रहने वाले है. अनुसंधान के क्रम में पता चला है कि धर्मेंद्र ठाकुर तीन भाई हैं. जिनके बीच रविवार को किसी बात को लेकर लड़ाई हुई थी. इसमें से एक भाई कल थाना पर केस करने के लिए आ रहा था. इस बात की सूचना जैसे ही धर्मेंद्र को लगी. उसने अपने भाई को रोकने के मकसद से लाठी लेकर थाने पर पहुंचा और इसको थाने पर पहुंचने में एक और व्यक्ति अरुण यादव का नाम सामने आया है.पूछताछ के दौरान धर्मेंद्र ने अरुण यादव का नाम बताया है. उन्होंने बताया कि धर्मेंद्र ने कुछ देर तक अपने भाई को थाने पर ढूंढा. जिसके बाद थाना पर रखा डीजल को गिराकर आग लगाने का प्रयास किया. लेकिन वहां पर तैनात सुरक्षा कर्मियों के द्वारा आग पर काबू पा लिया गया.

धर्मेंद्र ने अपना अपराध किया स्वीकार

पूछताछ के दौरान धर्मेंद्र ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है. वही उन्होंने कहा कि अभीतक के जानकारी के अनुसार इसके ऊपर मधुबनी जिला में भी एक केस दर्ज है. इसके संबंध में जानकारी जुटाई जा रही है. वहीं उन्होंने बताया कि धर्मेंद्र का एक भाई और है जो देसी शराब बनाने के जुर्म में पूर्व में जेल जा चुका है. अन्य बिंदुओं पर पूछताछ कर अनुसंधान की जा रही है. घटना के वक्त थाने पर जिन पदाधिकारी या बल ड्यूटी थी. उनके द्वारा त्वरित कार्रवाई क्यों नहीं की गई घटना को घटित होने से क्यों नहीं रोका गया उसके संदर्भ में हम लोग जांच कर रहे हैं सदर एसडीपीओ को 2 दिन के अंदर जांच कर रिपोर्ट समर्पित करने का निर्देश दिया गया है. रिपोर्ट प्राप्त होने के बाद इसमें जो भी दोषी पाए जाएंगे उनके विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी.

(दरभंगा से सूरज की रिपोर्ट.)

Also Read: बिहार: अहमदाबाद- पटना एक्सप्रेस का बदला मार्ग, कई ट्रेनों का स्टेशन पर बढ़ा ठहराव, चेक करें पूरा रूट

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें