1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. banka
  5. 5 year old boy dies due to drowning during bathing in canal family members created chaos

नहर में स्नान के दौरान डूबने से 5 वर्षीय बालक की मौत, परिजनों में मचा कोहराम

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
नहर में स्नान के दौरान डूबने से 5 वर्षीय बालक की मौत, परिजनों में मचा कोहराम
नहर में स्नान के दौरान डूबने से 5 वर्षीय बालक की मौत, परिजनों में मचा कोहराम

बांका : बाराहाट थाना क्षेत्र अंतर्गत हरिपुर गांव के समीप नहर में स्नान करने के दौरान डूबने से 5 वर्षीय एक बच्चे की मौत हो गयी. घटना शनिवार की दोपहर की बतायी जा रही है. जानकारी के अनुसार मृतक गोलू कुमार गांव के अन्य बच्चों के साथ नहर में स्नान करने गया था. जहां अचानक वह गहरे पानी में चला गया. उसे गहरे पानी में जाता देख अन्य बच्चों ने चिल्लाना शुरू किया. लेकिन आसपास में कोई बड़े लोगों के नहीं रहने की वजह से वह काफी देर तक पानी में ही डूबा रहा.

जब मामले की जानकारी डूब रहे बच्चे के परिजनों तक पहुंची. आनन-फानन में परिजन नहर पर पहुंचे और बच्चे की खोजबीन शुरू की. थोड़ी देर में बच्चे को पाया गया, जिसके बाद उसे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बाराहाट लाया गया, लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी. चिकित्सक डाॅ आकाश कुमार ने बच्चे को मृत घोषित कर दिया. मौत की सूचना पाते ही परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया. हालांकि इस मामले में बच्चे के परिजनों के द्वारा कहीं भी लिखित शिकायत नहीं की गयी है.

इकलौते भाई की मौत से तीन बहनों के रक्षाबंधन मनाने की आस रह गयी अधूरीनहाने के दौरान असमय काल के गाल में समा गये 5 वर्षीय गोलू की तीन बहनों की अपने प्यारे भैया को राखी बांधने की आस अधूरी रह गयी. भाई बहनों के पवित्र त्योहार रक्षाबंधन के मात्र दो दिन पूर्व घटित इस घटना से गोलू की बहन रिंकी, पिंकी एवं लता का रो-रोकर बुरा हाल है. भाई के शव को अपनी गोद में लेकर बार-बार उसके मुखड़े को चूम रही थी.

जबकि पास ही उसकी मां चंचला देवी बदहवास सी जमीन पर लेटी हुई थी तो दूसरी तरफ दादी रामप्यारी देवी सीने पर मुक्का बरसाते हुए एक ही रट लगा रही थी कितनी मन्नतें मांगी थी. महादेव से पोता मांगने का तब कहीं जाकर दो पोती के बाद एक पोता हुआ था न जाने किसकी नजर लग गयी है. वहीं दादा तेतर राउत और पिता बदहवास रोये जा रहे थे. इस दौरान वहां खड़े सैकड़ों की तादाद में ग्रामीण अपनी बेचैनी को नहीं छुआ पा रहे थे.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें