कुष्ठ रोगियों की खोज को 19 से विशेष अभियान

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

अररिया : कुष्ठ रोगियों की पहचान व उनके समुचित इलाज के लिये जिले में सघन अभियान का संचालन किया जायेगा. 19 से 28 सितंबर तक चलने वाले इस विशेष अभियान की सफलता को लेकर जिलाधिकारी बैद्यनाथ यादव की अध्यक्षता में बैठक गुरुवार को संपन्न हुई.

बैठक में स्वास्थ्य मामलों में सुधार के लिये सभी अभियान से जुड़े पदाधिकारी व स्वास्थ्य कर्मी व अधिकारियों ने भाग लिया. समाहरणालय स्थित आत्मन कक्ष में आयोजित बैठक में डीएम ने व्यापक प्रचार प्रसार के माध्यम से अभियान की जानकारी जन-जन तक पहुंचाने का निर्देश दिया.
उन्होंने कहा कि कुष्ठ रोगी खोज अभियान के तहत स्वास्थ्य कर्मी घर-घर जाकर कुष्ठ रोगियों की खोज करेंगे. साथ ही उन्हें निःशुल्क उपचार के लिये प्रेरित करेंगे. डीएम ने कहा कि 2020 तक जिले को पूरी तरह कुष्ठ रोग से मुक्त बनाने का लक्ष्य रखा गया है.
इसके लिये सामूहिक जिम्मेदारी का निर्वहन करना होगा. विश्व के 58 प्रतिशत कुष्ठ रोगी भारत में रहते हैं. इसमें 16 प्रतिशत रोगी महज बिहार के हैं. डीएम ने कहा कि कुष्ठ के वैसे रोगियों की संख्या अधिक है जो समय पर अपना इलाज नहीं कराते. वैसे गरीब जो नियमित रूप से अपना इलाज कराने में असक्षम हैं. वैसे रोगियों का इस अभियान के तहत विशेष सहायता दी जायेगी.
स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने कहा कि सही समय पर उपचार आरंभ होने पर कुष्ठ रोग से होने वाले विकलांगता से बचा सकता है. उपचार के बाद कुष्ठ रोगी से किसी दूसरे व्यक्ति के संक्रमण का खतरा बिल्कूल नहीं होता. मौके पर सीएस एसके सिन्हा, डीपीएम रेहान असरफ, सभी पीएचसी प्रभारी व एडीपीआरओ दिलीप सरकार सहित अन्य मौजूद थे.
Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें