1. home Hindi News
  2. national
  3. western disturbance will change weather snowfall in kashmir rain in rajasthan fog prevail in delhi mtj

वेस्टर्न डिस्टर्बेंस से बदलेगा मौसम का मिजाज, कश्मीर में हिमपात, राजस्थान में बारिश, दिल्ली में छायेगा कोहरा

वेस्टर्न डिस्टर्बेंस की वजह से राजस्थान में तीन दिन तक बारिश होने का मौसम विभाग ने अनुमान जताया है. कश्मीर के ऊपरी इलाकों में हिमपात और वर्षा दोनों होंगे. दिल्ली में कोहरा छाया रहेगा.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Weather Report: राजस्थान में तीन दिन तक हो सकती है बारिश
Weather Report: राजस्थान में तीन दिन तक हो सकती है बारिश
Prabhat Khabar

नयी दिल्ली: मौसम का मिजाज बदल रहा है. देश के अलग-अलग हिस्सों में प्रचंड सर्दी पड़ रही है. कश्मीर में बर्फबारी हुई है, तो राजस्थान में वर्षा का पूर्वानुमान जाहिर किया गया है. वहीं राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोहरा छाये रहने की बात मौसम विभाग ने कही है.

राजस्थान के अनेक हिस्सों में न्यूनतम तापमान में वृद्धि हुई है. इस बीच, मौसम विभाग ने कहा है कि पश्चिमी विक्षोभ के असर से अगले सप्ताह राज्य के कुछ हिस्सों में बारिश हो सकती है. बुधवार की रात को राज्य में करौली में न्यूनतम तापमान 5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

राजस्थान में 26 से 28 दिसंबर तक होगी वर्षा

फतेहपुर में न्यूनतम तापमान 5.4 डिग्री, चित्तौड़गढ़ में 6.4 डिग्री, चुरू में 6.6 डिग्री, धौलपुर में 7.1 डिग्री, भीलवाड़ा में 7.2 डिग्री व डबोक में 7.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मौसम विभाग का कहना है कि आगामी दिनों में उत्तर पश्चिम भारत के कुछ भागों में एक पश्चिमी विक्षोभ 24 दिसंबर से जबकि दूसरा पश्चिमी विक्षोभ 26 दिसंबर से सक्रिय होगा.

इसके प्रभाव से 26, 27 और 28 दिसंबर के दौरान राज्य के उत्तरी व आसपास के क्षेत्रों में कहीं-कहीं मेघगर्जन के साथ हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश होने की प्रबल संभावना है.

कश्मीर में ऊंचाई वाले इलाकों में ताजा बर्फबारी

कश्मीर में मशहूर गुलमर्ग स्की रिसोर्ट और कुछ अन्य ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बृहस्पतिवार को ताजा बर्फबारी हुई. साथ ही घाटी में न्यूनतम तापमान में भी वृद्धि दर्ज की गयी. अधिकारियों ने बताया कि गुलमर्ग और उसके आसपास के तंगमर्ग और बाबरेशी क्षेत्रों में दो से तीन इंच तक बर्फबारी हुई.

इनके अलावा, गुरेज, राजदान दर्रा, साधना दर्रा, फुरकैन गली, जेड-गली शोपियां और जोजिला दर्रा में भी ताजा बर्फबारी हुई. कुछ इलाकों में बारिश भी हुई. कश्मीर में मंगलवार, 21 दिसंबर को 40 दिन का ‘चिल्लई कलां’ का दौर शुरू हो गया था. इस दौरान क्षेत्र में कड़ाके की ठंड पड़ती है.

बादल छाये रहने के कारण बुधवार रात घाटी में न्यूनतम तापमान में सुधार हुआ और अधिकांश स्थानों पर पारा जमाव बिंदु से ऊपर रहा. अधिकारियों ने बताया कि श्रीनगर में बुधवार की रात तापमान 2.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. पहलगाम में तापमान 0.3 डिग्री सेल्सियस रहा.

उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा में तापमान 2.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. दक्षिण कश्मीर के काजीगुंड में न्यूनतम तापमान 0.8 डिग्री सेल्सियस और कोकेरनाग में तापमान 0.7 डिग्री सेल्सियस रहा. उन्होंने बताया कि केवल उत्तरी कश्मीर के बारामूला जिले के गुलमर्ग रिसोर्ट में न्यूनतम तापमान जमाव बिंदु से नीचे रहा, वहां तापमान शून्य से नीचे 3.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में जम्मू-कश्मीर में कई स्थानों पर हल्की बारिश या बर्फबारी का पूर्वानुमान लगाया है. विभाग ने कहा, ‘इसके बाद 26 से 27 दिसंबर के बीच फिर भारी बर्फबारी हो सकती है. कश्मीर के मैदानी इलाकों में हल्के से मध्यम हिमपात, जम्मू में बारिश और लद्दाख के कुछ स्थानों, खासकर कारगिल-जांस्कर में मध्यम हिमपात की उम्मीद है.’

चिल्लई कलां, चिल्लई खुर्द और चिल्लई बच्चा

कश्मीर में 40 दिन का 'चिल्लई कलां' का दौर 21 दिसंबर से शुरू हो गया. इस दौरान क्षेत्र में कड़ाके की ठंड पड़ती है और तापमान में भी गिरावट दर्ज की जाती है, जिससे यहां की प्रसिद्ध डल झील के साथ-साथ घाटी के कई हिस्सों में पानी की आपूर्ति लाइनों सहित जलाशय जम जाते हैं.

इस दौरान अधिकतर इलाकों में बर्फबारी की संभावना भी सबसे अधिक रहती है, खासकर ऊंचाई वाले इलाकों में, भारी हिमपात होता है. ‘चिल्लई कलां’ के 31 जनवरी को खत्म होने के बाद, 20 दिन का ‘चिल्लई-खुर्द’ और फिर 10 दिन का ‘चिल्लई बच्चा’ का दौर शुरू होता है.

दिल्ली में कोहरा छाये रहने की संभावना

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बृहस्पतिवार की सुबह ठंडी रही और न्यूनतम तापमान सामान्य से दो डिग्री कम 5.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने यह जानकारी दी. मौसम विभाग ने बताया कि शहर में आगामी दिनों में कोहरा छाया रहेगा.

आईएमडी के अधिकारियों ने कहा, ‘आगामी दिनों में शहर में मध्यम से कम स्तर पर कोहरा छाये रहने की संभावना है.’ अधिकारियों ने बताया कि अगले दो-तीन दिनों में न्यूनतम तापमान में मामूली वृद्धि हो सकती है.

मौसम विभाग ने कहा कि बृहस्पतिवार को दिन में अधिकतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है और सुबह साढ़े आठ बजे सापेक्षिक आर्द्रता 95 प्रतिशत रही. बुधवार को अधिकतम तापमान सामान्य से दो डिग्री अधिक 23.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

दिल्ली की वायु गुणवत्ता अब भी गंभीर श्रेणी में

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के आंकड़ों के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी में वायु गुणवत्ता गंभीर श्रेणी में बनी रही. बुधवार को वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 407 और बृहस्पतिवार सुबह आठ बजे मामूली वृद्धि के साथ एक्यूआई 416 दर्ज किया गया.

शून्य से 50 के बीच एक्यूआई को ‘अच्छा’, 51 और 100 के बीच ‘संतोषजनक’, 101 और 200 के बीच ‘मध्यम’, 201 और 300 के बीच ‘खराब’, 301 और 400 के बीच ‘बहुत खराब’ तथा 401 और 500 ‘गंभीर’ माना जाता है.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें