1. home Hindi News
  2. national
  3. civil services day 2022 pm modi told 3 goals says do not compromise with unity and integrity of nation prt

Civil Services Day 2022: PM मोदी ने बताए 3 लक्ष्य, कहा- देश की एकता और अखंडता से ना करें कोई समझौता

सिविल सेवा दिवस (Civil Service Day) के अवसर पर पीएम मोदी ने सिविल सेवा अधिकारियों से देश की एकता और अखंडता से कोई समझौता ना करने की अपील की है. पीएम मोदी ने अधिकारियों को 3 लक्ष्य भी बताएं हैं.

By Agency
Updated Date
Civil Services Day 2022
Civil Services Day 2022
Twitter

Civil Services Day 2022: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज यानी गुरुवार को सिविल सेवा अधिकारियों से देश की एकता व अखंडता से कोई समझौता ना करने का आह्वान किया है. पीएम मोदी ने कहा कि, कोई भी फैसला वह चाहे कितना भी आकर्षक क्यों ना हो, लेने से पहले उसे एकता और अखंडता की तराजू में जरूर तौलना चाहिए. बता दें, सिविल सेवा दिवस के अवसर पर पीएम मोदी ने दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित एक कार्यक्रम में ये बातें कही हैं.

इस मौके पर पीएम मोदी ने लोक प्रशासन के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान देने व अहम भूमिका निभाने वाले अधिकारियों को सम्मानित भी किया. प्रधानमंत्री ने कहा कि लोक सेवकों को अपने फैसलों में यह जरूर देखना चाहिए कि वह देश की एकता और अखंडता में कहीं रुकावट तो पैदा नहीं करेगा. प्रधानमंत्री ने कहा कि एक लोकतांत्रिक व्यवस्था में सिविल सेवा अधिकारियों के सामने तीन लक्ष्य साफ-साफ होने चाहिए और इनसे कोई समझौता नहीं होना चाहिए.

पीएम मोदी ने गिनाए तीन लक्ष्य: पीएम मोदी ने कहा कि, पहला लक्ष्य है कि देश के सामान्य से सामान्य जन के जीवन में बदलाव लाना. ना सिर्फ उसके जीवन में बदलाव बल्कि सुगमता भी आए और उन्हें इसका एहसास भी हो. सरकार से मिलने वाले लाभों के लिए उन्हें जद्दोजहद ना करनी पड़े. हमें उनके सपनों को संकल्प में बदलना है. इसके लिए सकारात्मक वातावरण बनाना व्यवस्था की जिम्मेदारी है. पीएम मोदी ने दूसरा लक्ष्य गिनाते हुए कहा कि, वैश्विक परिस्थितियों के अनुरूप नवीनता और आधुनिकता को अपनाना और तीसरा लक्ष्य एकता व अखंडता से समझौता ना करना है.

पीएम मोदी ने कहा कि, व्यवस्था में हम कहीं पर भी हों, लेकिन जिस व्यवस्था से हम निकले हैं, उसमें हमारी प्राथमिक जिम्मेदारी है देश की एकता और अखंडता. यह लक्ष्य कभी भी ओझल नहीं होना चाहिए. इससे कोई समझौता नहीं किया जा सकता.

केन्‍द्र और राज्‍य सरकारों के संगठनों और जिलों द्वारा जन हित के असाधारण और अभिनव कार्यों को सम्‍मानित करने के लिए ये पुरस्कार दिए जाते हैं. इस वर्ष प्राथमिकता के आधार पर पांच कार्यक्रमों के लिए 10 पुरस्‍कार दिए गए. केन्‍द्र तथा राज्‍य सरकार के संगठनों और जिलों को नवाचार के लिए छह पुरस्‍कार प्रदान किये गए. केंद्रीय मंत्री जितेन्‍द्र सिंह ने बुधवार को 15वें सिविल सेवा दिवस समारोहों का उद्घाटन किया था.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें