25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Xiaomi SU7 में बिकने के साथ ही खड़ी होने लगी समस्या, जानें क्यों माथा पीट रहे खरीददार

SU7 के अन्य मालिक ने शिकायत की कि गाड़ी हाईवे पर चलते समय अचानक बंद हो गई और डिस्प्ले पर गाड़ी के तुरंत रुकने की चेतावनी और ड्राइव और रिवर्स में शिफ्टिंग न होने देने वाली faulty ड्राइव सिस्टम की खराबी के संकेत दिखाई दिए. उन्हें गाड़ी को वापस डिलीवरी सेंटर ले जाने के लिए टो ट्रक को बुलाना पड़ा, जहां टेक्निशियन समस्या का पता लगाने में असफल रहे.

Xiaomi SU7 इलेक्ट्रिक वाहन (EV) की बाजार में एंट्री को कुछ ही महीने हुए हैं, लेकिन यह कार गलत कारणों से सुर्खियों में है. Xiaomi EV कई मालिकों को खरीद के फ़ौरन बाद परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, जिससे इसकी गुणवत्ता को लेकर सवाल उठ रहे हैं. एक मालिक की गाड़ी तो खरीदने के मात्र 39 किमी बाद ही खराब हो गई, जिसने गाड़ी की विश्वसनीयता पर चिंता जता दी है.

Faulty ड्राइव सिस्टम!

SU7 के अन्य मालिक ने शिकायत की कि गाड़ी हाईवे पर चलते समय अचानक बंद हो गई और डिस्प्ले पर गाड़ी के तुरंत रुकने की चेतावनी और ड्राइव और रिवर्स में शिफ्टिंग न होने देने वाली faulty ड्राइव सिस्टम की खराबी के संकेत दिखाई दिए. उन्हें गाड़ी को वापस डिलीवरी सेंटर ले जाने के लिए टो ट्रक को बुलाना पड़ा, जहां टेक्निशियन समस्या का पता लगाने में असफल रहे. अब गाड़ी को गहन जांच के लिए वापस फैक्ट्री भेज दी जाएगी.

Cars Under 6 Lakh: 6 लाख के भीतर मिलने वाली बेहतरीन कारें

ग्राहक द्वारा गाड़ी बदलने का अनुरोध

ग्राहक द्वारा गाड़ी बदलने का अनुरोध करने के बावजूद, Xiaomi ने कहा है कि सभी असेंबल किए गए मॉडल वर्तमान मालिकों को आवंटित किए जा चुके हैं, इसलिए नई SU7 प्रदान करना असंभव है. इसके बजाय, Xiaomi ग्राहक के साथ मिलकर गाड़ी की पूरी राशि वापस करने और हुए किसी भी खर्च की भरपाई करने की व्यवस्था कर रहा है.

ट्रैक्शन कंट्रोल सिस्टम की दक्षता पर सवाल

यह घटना SU7 के साथ गुणवत्ता संबंधी चिंताओं के एक बड़े चलन का हिस्सा है. कुछ मालिकों ने पेंट की समस्या बताई है, जबकि कुछ अन्य कार के ट्रैक्शन कंट्रोल सिस्टम की दक्षता पर सवाल उठाते हैं. Xiaomi ने स्वचालित आपातकालीन ब्रेकिंग (AEB) प्रणाली के साथ एक समस्या को स्वीकार किया है, जो ओवर-द-एयर अपडेट लागू होने तक 135 किमी प्रति घंटे से अधिक गति पर निष्क्रिय हो जाता है.

Maruti Suzuki India को अपनी CNG कारों की बिक्री 30 प्रतिशत बढ़ने की उम्मीद

यह बताया गया है कि कंपनी ने वाहन लॉन्च होने के कुछ महीनों बाद से ही 10,000 से अधिक SU7 का निर्माण किया है, जो मजबूत मांग का संकेत देता है. हालांकि, ये गुणवत्ता संबंधी समस्याएं Xiaomi की अपने ग्राहकों को एक विश्वसनीय और सुरक्षित उत्पाद देने की क्षमता पर सवाल खड़े करती हैं.

Xiaomi SU7 चार ट्रिम स्तरों में उपलब्ध है: एक एंट्री-लेवल वर्जन, एक प्रो वेरिएंट, एक मैक्स वर्जन और एक सीमित फाउंडर्स एडिशन. Xiaomi का दावा है कि EV का टॉप-एंड मैक्स वर्जन 265 किमी प्रति घंटे की शीर्ष गति प्राप्त कर सकता है, केवल 2.78 सेकंड में 0-100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार पकड़ सकता है और एक बार चार्ज करने पर 810 किमी तक की रेंज प्रदान कर सकता है.

लोकसभा चुनाव 2024 की वजह से पैसेंजर व्हीकल की मांग घटी

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें