40.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

WB News : विश्व भारती के छात्राओं को नहीं मिल रहा है कन्याश्री योजना का फायदा, अभिभावकों में घोर नाराजगी

WB News : 2013 में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने 'कन्याश्री' योजना शुरू की. राज्य सरकार इस योजना के माध्यम से लड़कियों की शिक्षा के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करती है.इस परियोजना से विश्व भारती विश्वविद्यालय के पथ भवन और शिक्षा के छात्रों को लाभ हुआ.

बोलपुर, मुकेश तिवारी : केंद्रीय विश्वविद्यालय विश्व भारती (Visva Bharati) के विद्यार्थियों को राज्य सरकार की ‘कन्याश्री’ योजना का लाभ नहीं मिल रहा है. विश्व भारती में इस राज्य योजना की सुविधा 2021 से बंद कर दी गई है. इसे पाने के लिए अभिभावकों ने बोलपुर महकमा अधिकारी को पत्र लिखा है. लोकसभा चुनाव से पहले इस बात को लेकर अटकलें तेज हैं कि राज्य के एकमात्र केंद्रीय विश्वविद्यालय में ‘कन्याश्री’ को क्यों बंद कर दिया गया है. विश्व भारती विश्वविद्यालय राज्य का एकमात्र केंद्रीय विश्वविद्यालय है. 2013 में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ‘कन्याश्री’ योजना शुरू की. राज्य सरकार इस योजना के माध्यम से लड़कियों की शिक्षा के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करती है.इस परियोजना से विश्व भारती विश्वविद्यालय के पथ भवन और शिक्षा के छात्रों को लाभ हुआ.इन दोनों भवनों में कक्षा पांच से बारहवीं तक की पढ़ाई होती है.

2021 से विश्व भारती में बंद हो गई ‘कन्याश्री’

.कथित तौर पर 2021 से विश्व भारती में ‘कन्याश्री’ बंद हो गई. दूसरे शब्दों में कहें तो सेंट्रल यूनिवर्सिटी के छात्र तीन साल से राज्य सरकार के इस वित्तीय लाभ से वंचित हैं. संयोग से, कई फैसलों और विश्व भारती के तत्कालीन कुलपति विद्युत चक्रवर्ती की ’उटपटांग’ टिप्पणियों के कारण विश्व भारती के साथ राज्य सरकार और सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के बीच टकराव चरम पर पहुंच गया था.विद्युत चक्रवर्ती ने एक खुले पत्र के जरिए यहां तक ​​जिक्र किया कि ‘मुख्यमंत्री इस दिशा में उपयुक्त कदम उठाए. टकराव के चलते ममता बनर्जी ने विश्वभारती को दिया रास्ता वापस ले लिया.

Mamata Banerjee : मालदा में बोलीं ममता बनर्जी, कांग्रेस-सीपीएम को न दें एक भी वोट, यह सब भाजपा का खेल

13 मई को बीरभूम और बोलपुर में चौथे चरण का मतदान

कुछ लोगों का दावा है कि उस तनाव के कारण 2021 से विश्व भारती के पथभान और शिक्षाशास्त्र की छात्राओं को ‘कन्याश्री’ नहीं मिल रही है. इस परियोजना का लाभ पाने के लिए माता-पिता ने विश्व भारती के वर्तमान कार्यवाहक कुलपति संजय कुमार मल्लिक को पुनः पत्र लिखा. उन्होंने बोलपुर महकमा शासक अयन नाथ को भी लिखा और ‘कन्याश्री’ परियोजना शुरू करने की मांग की. बता दें कि 13 मई को बीरभूम और बोलपुर में चौथे चरण का मतदान है. प्रदेश के एकमात्र केंद्रीय विश्वविद्यालय में लोकसभा चुनाव को लेकर अटकलें तेज हो गई हैं.इस मुद्दे को लेकर छात्र छात्राओं के अभिभावकों में घोर नाराजगी है.

पश्चिम बंगाल : पहले चरण के मतदान से पहले एक ही दिन उत्तर बंगाल में पीएम मोदी व ममता बनर्जी की सभा

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें