माकपा नेता की पत्नी की रेप के बाद हत्या

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

हल्दिया: पूर्व मेदिनीपुर के सुनिया के घोड़ाघाटा गांव में माकपा नेता की पत्नी की दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी गयी. दुष्कर्म और हत्या का आरोप तृणमूल कांग्रेस समर्थकों पर लगा है. गांव में माकपा नेता बंकेश गिरि अपनी पत्नी दीपाली गिरि (45) और बेटे के साथ रहते थे.

आरोप है कि तृणमूल कांग्रेस की राज्य में सरकार बनने के बाद उन पर अत्याचार का सिलसिला शुरू हो गया. लंबे अरसे से बंकेश गिरि और उनका बेटा गांव छोड़ने के लिए मजबूर थे. घर में उनकी पत्नी दीपाली अकेले ही रहती थीं. आरोप है कि गत रविवार रात को स्थानीय कुछ तृणमूल कार्यकर्ता उसके घर पहुंचे और पीटते हुए गांव की एक सालिसी सभा में ले गये. यह भी आरोप है कि वहां उसे निर्वस्त्र करके पीटा गया. सभा में कहा गया कि यदि उसका पति व बेटा घर नहीं लौटते हैं तो उसे 12 लाख रुपये जुर्माने के तौर पर देने होंगे.

बाद में दीपाली ने अपने पति को पूरी घटना फोन पर बतायी. उसके पति ने कांथी थाने में शिकायत दर्ज करायी. गिरि परिवार के मुताबिक, पुलिस की ओर से उन्हें किसी तरह का सहयोग नहीं मिला. आरोप है कि रविवार देर रात घर में कुछ तृणमूल समर्थक पहुंचे. दीपाली पर फिर 12 लाख रुपये देने के लिए दबाव डाला गया.

आरोप है कि जब वह रुपये देने में असमर्थ रही तो उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया और उसकी हत्या कर उसके शव को घर में लटका दिया गया. सोमवार सुबह घटना की खबर मिलने के बाद कांथी थाने की पुलिस मौके पर पहुंची. माकपा की ओर से कहा गया है कि मौके पर पुलिस ने पार्टी के किसी नेता को आने नहीं दिया. पुलिस जब शव लेकर जा रही थी तब दीघा मेचदा रोड पर पथावरोध किया गया. माकपा कर्मियों ने पथावरोध कर विरोध प्रदर्शन किया. करीब एक घंटे तक यह प्रदर्शन चला. बाद में पुलिस के घटना से जुड़े लोगों को गिरफ्तार करने का आश्वासन देने के बाद अवरोध हटा.

पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए कांथी महकमा अस्पताल में भेजा है. माकपा के उत्तर कांथी के पूर्व विधायक तथा राज्य के पूर्व मंत्री चक्रधर मेकाप ने कहा कि राज्य में सत्ता परिवर्तन के बाद से उनके कई कार्यकर्ता घर छोड़ने को मजबूर हुए हैं. पुलिस को कई बार बताने पर भी कोई लाभ नहीं हुआ. इस मामले में मृत महिला के देवर चंदन से पुलिस ने जबरन आत्महत्या की बात लिखाई. हालांकि बंकेश ने कांथी थाने में सामूहिक दुष्कर्म और हत्या की शिकायत दर्ज करायी है. दूसरी ओर, उत्तर कांथी के तृणमूल विधायक दिव्येंदू अधिकारी ने कहा कि वह कोई मेडिकल टीम नहीं जो यह बता सकें कि दुष्कर्म करके हत्या की गयी है या नहीं. पोस्टमार्टम से ही कारणों का पता चल सकेगा. माकपा का जनाधार नहीं है. इसलिए हमारी पार्टी की छवि को धूमिल करने की कोशिश कर रही है. आम लोग इसे बरदाश्त नहीं करेंगे. पुलिस अधीक्षक सुकेश जैन ने बताया कि कांथी थाने में दो शिकायतें जमा हुई हैं. पुलिस दोनों शिकायतों के आधार पर जांच कर रही है.

इधर, जानकारी के मुताबिक तृणमूल कांग्रेस के अखिल भारतीय महासचिव मुकुल राय ने मामले की जानकारी प्रशासनिक व पार्टी स्तर पर ली है. उन्होंने इलाके में शांति बनाये रखने की अपील भी की है. श्री राय ने पुलिस अधीक्षक के साथ फोन पर बातचीत कर पूरी जानकारी ली. इस बीच माकपा ने मंगलवार को राज्यभर में धिक्कार दिवस मनाने का एलान किया है.

    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें