1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. shabnam amroha son taj case status mercy petition governor anandiben patel to president kovind know latest update shabnam and saleem case news in hindi prt

Shabnam Case: तो क्या इस कराण टल जाएगी शबनम की फांसी? जानें मामले में क्या आया है नया मोड़

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
क्या शबनम को नहीं होगी फांसी?
क्या शबनम को नहीं होगी फांसी?
Twitter
  • शबनम ने राज्यपाल को दी नई दया याचिका

  • फांसी से पहले माफी की लगाई गुहार

  • 7 लोगों की कुल्हाड़ी से काटकर की थी हत्या

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अमरोहा (Amroha) में 7 लोगों की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या करने वाली शबनम (Shabnam) ने फांसी से पहले एक बार फिर राज्यपाल आनंदीबेन से दया की गुहार लगाते हुए एक नयी याचिका भेजी है. बता दें, 15 अप्रैल 2008 को शबनम ने अपने पूरे परिवार जिसमें माता-पिता और 10 महीने के भतीजे समेत सात लोगों को मौत के घाट उतार दिया था. जिसके बाद उसे फांसी की सजा सुनाई गई.

गौरतलब है कि, यूपी के अमरोहा जिले की शबनम और उसका प्रेमी सलीम एक साथ फांसी पर लटकाये जायेंगे. देश में किसी महिला को फांसी देने का यह पहला मामला होगा. इसके लिए मथुरा जेल में तैयारियां भी शुरू हो गयी हैं. निर्भया के दोषियों को फंदे से लटकाने वाले पवन जल्लाद अब तक दो बार फांसी घर का निरीक्षण भी कर चुके हैं.

शबनम इससे पहले भी एक बार राज्यपाल के पास दया की अर्जी भेज चुकी है, लेकिन उसे खारिज कर दिया गया था. बता दें, शबनम का अपराध रेयर ऑफ द रेयरेस्ट कैटेगरी में आता है. और 10 महीने के बच्चे और पूरे परिवार की गला काटकर निर्मम ह्त्या करने के चलते उसे कहीं से भी रहत मिलने की उम्मीद नहीं लग रही है. हालांकि, शबनम अपने 12 साल के बच्चे का हवाला देकर रहम की गुहार लगा रही है. उसके जेल में ही जन्मे बेटे ताज ने भी राष्ट्रपति से रहम की गुहार लगाई है.

हालांकि, इससे पहले सुप्रीम कोर्ट से पुनर्विचार याचिका खारिज होने के बाद अब हत्या के आरोप में बंद शबनम की फांसी की सजा को राष्ट्रपति ने भी बरकरार रखा है, ऐसे में अब उसका फांसी पर लटकना तय हो गया है. डेथ वारंट जारी होते ही शबनम को फांसी दे दी जायेगी. शबनम अभी रामपुर जेल में बंद है. जबकि, उसका प्रेमी आगरा जेल में है.

इधर, रामपुर के जेलर ने बताया कि डेथ वारंट जारी होते ही शबनम को मथुरा जेल भेज दिया जाएगा. इसके लिए अमरोहा के जिला जज से डेथ वारंट भी मांगा गया है. अब जैसे ही डेथ वारंट प्राप्त होगा, वैसे ही शबनम को मथुरा जेल भेज दिया जाएगा. वहीं, शबनम को फांसी होगी. इसके लिए मथुरा जेल में तैयारियां भी शुरू हो गयी हैं.

क्या है मामला: अमरोहा जिले के हसनपुर क्षेत्र के गांव बावनखेड़ी के शिक्षक शौकत अली की इकलौती बेटी शबनम के सलीम के साथ प्रेम संबंध थे. सूफी परिवार की शबनम ने अंग्रेजी और भूगोल में एमए किया था. उसके परिवार के पास काफी जमीन थी. वहीं सलीम पांचवीं फेल था और पेशे से एक मजदूर था. दोनों के संबंधों को लेकर परिजन विरोध कर रहे थे. ऐसे में शबनम ने 14 अप्रैल, 2008 की रात अपने प्रेमी के साथ मिलकर अपने माता-पिता और 10 माह के भतीजे समेत परिवार के सात लोगों को पहले बेहोश करने की दवा खिलायी. बाद में सभी को कुल्हाड़ी से काटकर मार डाला था.

Posted by: Pritish Sahay

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें