1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. accused who came to rescue the miscreant harendra rana arrested sht

Agra News: बदमाशों ने हरेंद्र राणा को छुड़ाने के लिए बनाई 2013 जैसी प्लानिंग, पुलिस ने ऐसे फेल किया प्लान

बदमाश हरेंद्र राणा को पुलिस की गिरफ्त से छुड़ाने के लिए आए आधा दर्जन बदमाशों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. सभी गिरफ्तार बदमाश पुलिस की अभिरक्षा में से कुख्यात हरेंद्र राणा को छुड़ाने के लिए मथुरा आए थे.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Agra
Updated Date
Agra News
Agra News
सांकेतिक तस्वीर

Mathura News: कुख्यात बदमाश हरेंद्र राणा को 5 दिसंबर 2013 की तरह पुलिस की गिरफ्त से छुड़ाने के लिए आए आधा दर्जन बदमाशों को पुलिस ने दबोच लिया. यह सभी गिरफ्तार बदमाश पुलिस की अभिरक्षा में से कुख्यात हरेंद्र राणा को छुड़ाने के लिए मथुरा आए थे. पुलिस ने सभी आरोपियों से दो तमंचा, भारी मात्रा में कारतूस, एक होंडा सिटी कार और मोटरसाइकिल बरामद की है. पुलिस ने बताया कि गिरोह के दो सदस्य मौके से फरार हो गए हैं जिनकी तलाश जारी है.

साल 2013 में अंधाधुंध फायरिंग कर छुड़ा लिया था हरेंद्र

हरेंद्र राणा मध्यप्रदेश के भिंड का निवासी है और भाड़े पर हत्या करने का अंतरराज्यीय गिरोह चलाता है. 5 दिसंबर 2013 को हरेंद्र और उसके साथी दिनेश को आगरा पुलिस, गाजियाबाद से पेशी पर ले जा रही थी. इस दौरान मथुरा रेलवे जंक्शन से ट्रेन के निकलते ही हरेंद्र राणा के गिरोह के सदस्यों ने पुलिस टीम पर हमला बोल दिया. इस हमले में बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग की और एक दीवान की हत्या कर दी, और पांच पुलिसकर्मियों को घायल कर दिया. फतेहा स्टेशन पर हरेंद्र राणा के साथी उसे और उसके साथी वीनेश को छुड़ाकर फरार हो गए जिसका मुकदमा कोर्ट में चल रहा है.

पुलिस की सतर्कता से फैल हुआ बदमाशों का प्लान

गाजियाबाद पुलिस, हरेंद्र राणा को शनिवार को कड़ी सुरक्षा में डासना जेल से पेशी पर लाई थी. पेशी के बाद हरियाणा को पुलिस अभिरक्षा से छुड़ाने के लिए गिरोह के सदस्य मथुरा आए थे. इसकी भनक पुलिस को लग गई, और घटना को अंजाम देने से पहले ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया.

मथुरा के एसएसपी डॉ गौरव ग्रोवर ने रविवार को प्रेस कांफ्रेंस के दौरान बताया कि, एक बार फिर से कुख्यात अपराधी हरेंद्र राणा को छुड़ाने की योजना बनाकर कचहरी में आए थे. लेकिन उन्हें वारदात से पहले ही दबोच लिया गया है. बदमाशों ने योजना बनाई थी कि जैसे ही हरेंद्र कोर्ट से पेश होकर बाहर बाहर आएगा, योजनाबद्ध तरीके से हमला कर हरेंद्र राणा को पुलिस से छुड़ा लिया जाएगा, लेकिन पुलिस की चौकसी से उनकी योजना सफल नहीं हो पाई.

इन आरोपियों की हुई गिरफ्तारी

एसएसपी ने बताया कि, इस पूरे मामले में अतुल राणा निवासी बडवारी मध्य प्रदेश, विनय यादव निवासी मुस्तफा क्वार्टर आगरा कैंट, विक्रम सिंह निवासी शिवदासानी नगर थाना शाहगंज, शादाब निवासी हमीद नगर थाना शाहगंज, पिंटू उर्फ नन्हे परिहार गांव सिहोली ग्वालियर और रवि निवासी गांव मंडई थाना सादाबाद को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है. वहीं थाना सदर क्षेत्र के मोहल्ला के रहने वाले श्रीकांत यादव और चांद मियां फरार है. जिनको पकड़ने के लिए टीम गठित कर दी गई है.

रिपोर्ट- राघवेंद्र गहलोत

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें