24.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

ऑनलाइन जुआ में हारने पर व्यक्ति ने पत्नी, बेटी की हत्या करने के बाद खुदकुशी की

झारसुगुड़ा में कार में पति, पत्नी व बेटी की लाश गुरुवार सुबह देखने के बाद लोगों ने पुलिस को सूचित किया था. जांच के बाद पुलिस ने संदेह जताया कि मृतक ने बेटी और पत्नी की हत्या के बाद आत्महत्या की होगी.

ब्रजराजनगर. झारसुगुड़ा में एक ही परिवार के तीन सदस्यों की लाश एक कार में मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गयी है. मृतकों के शव बानीपहाड़ जंगल के पास एक कार में लहूलुहान अवस्था में मिले. गोली लगने से तीनों की मृत्यु होने की जानकारी पुलिस की जांच में मिली है. पुलिस इस संबंध में एक मामला दर्ज कर जांच में जुटी है. मृतकों की पहचान ओरिएंट थाना ब्रजराजनगर क्षेत्र के कालीनगर निवासी सुजीत राय, पत्नी खुशबू राय व बेटी अर्पिता राय के तौर पर हुई है. पुलिस को शक है कि पति ने पत्नी और बेटी को गोली मारने के बाद आत्महत्या की होगी.

कार में खून से लथपथ लाश देख पुलिस को किया था सूचित

गुरुवार सुबह लखनपुर थाना अंतर्गत आदर्श विद्यालय के पास एक कार में तीन लोगों को खून से लथपथ हालत में देखकर लोगों ने पुलिस को सूचित किया. सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच शुरू की, तो मृतकों की पहचान कालीनगर निवासी सुजीत राय, पत्नी खुशबू राय व बेटी अर्पिता राय के तौर पर हुई. जांच में गोली लगने से उनकी मौत होने का पता चला. पुलिस ने मृतक सुजीत राय के मोबाइल फोन का डिटेल खंगाला, तो पता चला कि सुजीत ऑनलाइन गेम्स खेलता था. जिसमें उसका 4.50 लाख रुपये का बकाया होने की बात पता चली है. इसी परेशानी में सुजीत द्वारा पत्नी व बेटी को गोली मारने के बाद आत्महत्या करने की आशंका पुलिस ने जतायी है. वहीं यह आत्महत्या का मामला है या हत्या का, इसकी जांच में पुलिस जुटी है.

बुधवार रात ओरिएंट थाना में दर्ज करायी गयी थी लापता होने की शिकायत

झारसुगुड़ा के पुलिस अधीक्षक परमार स्मित परषोत्तमदास ने बताया कि जिले के लखनपुर पुलिस थाना क्षेत्र में बनीपहाड़ के पास एक मैदान में खड़ी कार से तीनों के शव बरामद किये गये, जिन पर गोलियां लगने के घाव हैं. शुरुआती जांच से पता चला है कि ऑनलाइन जुआ में लाखों रुपये हारने के बाद परेशान होकर सुजीत ने पहले अपनी पत्नी तथा बेटी को गोली मारी और फिर खुदकुशी कर ली. पुलिस अधीक्षक ने बताया कि बुधवार रात करीब 10.30 बजे ओरिएंट पुलिस थाने में परिवार के लापता होने की शिकायत दर्ज करायी गयी थी. उनके मोबाइल फोन सिग्नल का इस्तेमाल करते हुए अधिकारियों ने उनका पता लगाया और कार के अंदर से शवों को बरामद किया गया.

4.25 लाख रुपये एक ही एप पर गंवा चुका था सुजीत

परषोत्तमदास ने बताया गाड़ी का इंजन और एयर कंडीशनिंग (एसी) चालू था. उन्होंने बताया कि महिला और उसकी बेटी की आंखों पर कपड़ा बंधा हुआ था, जबकि सुजीत चालक की सीट पर था. उन्होंने बताया कि सुजीत के मोबाइल फोन की जांच करने पर पता चला कि वह विभिन्न ऑनलाइन मंच पर जुआ खेलता था. पुलिस अधीक्षक ने बताया कि वह 4.25 लाख रुपये से अधिक एक ही एप पर गंवा चुका था और जुए की अपनी लत के चलते उसने कर्ज भी ले रखा था. पुलिस ने वारदात में इस्तेमाल हथियार जब्त कर लिया है और मामले की जांच जारी है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें