33.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Madhya Pradesh News: लहसुन की रखवाली के लिए किसानों ने रखे गार्ड, तीसरी नजर से भी हो रही निगाहबानी

Madhya Pradesh News: मध्य प्रदेश में लहसुन की आसमान छूती कीमतों की वजह से कुछ किसानों को सीसीटीवी लगाने और तो और बंदूकधारी गार्डों को काम पर रखने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है. साथ ही खुदरा और थोक बाजार में लहसुन की उछाल मारती कीमतों के बीच किसान अपनी उपज को चोरों से […]

Madhya Pradesh News: मध्य प्रदेश में लहसुन की आसमान छूती कीमतों की वजह से कुछ किसानों को सीसीटीवी लगाने और तो और बंदूकधारी गार्डों को काम पर रखने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है. साथ ही खुदरा और थोक बाजार में लहसुन की उछाल मारती कीमतों के बीच किसान अपनी उपज को चोरों से बचाने में जुटे हैं. कई किसानों का कहना है कि राज्य के खुदरा बाजार में लहसुन की कीमतें 400 रुपये प्रति किलोग्राम से ऊपर पहुंच गयी हैं जबकि थोक बाजारों में लहसुन की कीमत 30 से 35 हजार रुपये प्रति क्विंटल के बीच है.

सीसीटीवी कैमरे से की जा रही निगरानी

उज्जैन जिला मुख्यालय से लगभग 12 किलोमीटर दूर चिंतामन मार्ग पर मंगरोला गांव में सुरक्षा गार्ड और हथियारबंद किसानों को फसल से भरे खेतों में घूमते हुए देखा जा सकता है जबकि कई संपन्न किसान सीसीटीवी कैमरों की मदद से घर बैठे-बैठे अपने खेतों की निगरानी कर रहे हैं. एक किसान भरत सिंह बैस ने बताया कि चोर, कई किसानों की उपज हथिया चुके हैं. इसलिए मैं अपने लाइसेंसी हथियार के साथ अपनी 13 बीगा जमीन की रखवाली कर रहा हूं, जिस पर मैंने लहसुन बोया हुआ है.

बैस ने कहा कि पिछले दो सालों से हमें लहसुन की खेती में भारी नुकसान हुआ है हालांकि इस वर्ष भाग्य ने हमारा साथ दिया. किसानों को फसल के लिए 200 रुपये प्रति किलोग्राम मिल रहे हैं. हमारी लहसुन की फसल अगले 15 दिनों में पक जाएगी इसलिए हम इस तरह अपनी फसल की रखवाली कर रहे हैं. एक अनुमान के मुताबिक मंदसौर जिले में करीब 30 हजार किसान 91 हजार टन लहसुन उगाते हैं. राज्य के रतलाम, छिंदवाड़ा, आगर मालवा, इंदौर, देवास और शाजापुर जिलों में भी लहसुन उगाया जाता है.

Read Also

PM Modi in Gujarat: जाम नगर में रोड शो, राजकोट में गुजरात के पहले AIIMS की सौगात, 48 हजार करोड़ के विकास कार्यों का करेंगे लोकार्पण

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें