25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

खूंटी लोस : सिर्फ एक बार महिला प्रत्याशी को मिला प्रतिनिधित्व का मौका

खूंटी लोस से सिर्फ एक बार महिला प्रत्याशी को अब तक प्रतिनिधित्व का मौका मिला है. जिसमें बिरसा कॉलेज खूंटी की प्राचार्या सुशीला केरकेट्टा ने 2004 में कड़िया मुंडा को हराया था.

खरसावां:राज्य की हॉट सीट बनी खूंटी लोस क्षेत्र में अबतक हुए चुनावों में सिर्फ एक ही बार महिला को प्रतिनिधित्व करने का मौका मिला है. वर्ष 2004 में कांग्रेस पार्टी की टिकट पर बिरसा कॉलेज खूंटी की प्राचार्या सुशीला केरकेट्टा (अब स्वर्गीय) ने यहां से जीत दर्ज कर संसद पहुंचने में कामयाब हुईं थीं. 2004 के लोकसभा चुनाव में सुशीला केरकेट्टा ने लगातार पांच चुनावों में जीत दर्ज कर चुके भाजपा के वरिष्ठ नेता कड़िया मुंडा को हराया था. सुशीला केरकेट्टा के पहले या बाद में इस सीट से किसी महिला को लोकसभा पहुंचने का मौका नहीं मिला. हालांकि, इससे पूर्व वर्ष 1996, 1998 व 1999 में हुए लोस चुनाव में भी कांग्रेस पार्टी की टिकट पर चुनाव लड़ते हुए सुशीला केरकेट्टा को हार का सामना करना पड़ था. 2004 में जीत दर्ज करने के बाद सुशील केरकेट्टा ने भी चुनाव नहीं लड़ा.

खूंटी लोस : सभी छह विस क्षेत्रों में पुरुषों से अधिक है महिला वोटरों की संख्या

खूंटी लोस क्षेत्र की एक विशेषता यह भी है कि इस लोकसभा क्षेत्र की सभी छह विधानसभा क्षेत्रों में महिला मतदाताओं की संख्या पुरुषों की अपेक्षा अधिक है. खूंटी लोस क्षेत्र खूंटी, गुमला, सिमडेगा, पश्चिमी सिंहभूम, रांची और सरायकेला-खरसावां जिले में फैला है. खूंटी लोकसभा क्षेत्र में 13,09,677 मतदाता हैं. इनमें महिला मतदाताओं की संख्या 6,66,584 और पुरुष वोटरों की संख्या 6,43,087 है.

खूंटी लोकसभा की स्थिति एक नजर में

विधान सभा – बूथ – पुरुष – महिला – अन्य – कुल मतदाताखरसावां : 282 : 1,09,761 : 1,11,383 : 02 : 2,21,146तमाड़ : 303 : 1,07,358 : 1,07,743 : 00 : 2,15,101तोरपा : 252 : 97,122 : 1,00,487 : 00 : 1,97,609खूंटी : 297 : 1,08,771 : 1,14,884 : 03 : 2,23,658सिमडेगा : 270 : 1,17,062 : 1,24,800 : 01 : 2,41,863कोलेबिरा : 301 : 1,03,013 : 1,07,287 : 00 : 2,10,300कुल : 1705 : 6,43,087 : 6,66,584 : 06 : 13,09,677

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें