40.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Jharkhand Weather: झारखंड के लोगों को गर्मी से मिली राहत, लेकिन इस दिन से फिर बढ़ेगा तापमान

झारखंड में 15 अप्रैल से अधिकतम तापमान में पांच डिग्री सेल्सियस तक की बढ़ोतरी हो सकती है. यह स्थिति 18 अप्रैल तक रहने की संभावना है.

रांची: बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव का क्षेत्र बनने से झारखंड के लोगों को गर्मी से राहत मिली है. हालांकि, गुरुवार की अपेक्षा शुक्रवार को रांची के अधिकतम तापमान में चार डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी देखी गयी. वहीं, बुधवार की अपेक्षा गुरुवार को अधिकतम तापमान में 6.1 डिग्री सेल्सियस की कमी आ गयी थी. मौसम विभाग के अनुसार, अप्रैल माह में तापमान में उतार-चढ़ाव जारी रहेगा. रांची व आसपास के इलाके में अगले दो दिनों तक आकाश में बादल छाये रहने व कहीं-कहीं हल्की बारिश होने की संभावना है.

ऐसे में दो दिनों तक गर्मी से मामूली राहत मिल सकती है. वहीं, 15 अप्रैल से अधिकतम तापमान में पांच डिग्री सेल्सियस तक की बढ़ोतरी हो सकती है. यह स्थिति 18 अप्रैल तक रहने की संभावना है. इस दौरान राजधानी का अधिकतम तापमान 38 तथा अन्य जिलों का अधिकतम तापमान 40 डिग्री से अधिक पहुंचने की उम्मीद है. झारखंड मौसम विभाग के अनुसार, 14 अप्रैल को राज्य के दक्षिणी (कोल्हान) तथा निकटवर्ती मध्य भाग (राजधानी और आसपास) में कहीं-कहीं बारिश हो सकती है. हवा की गति 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे हो सकती है. इधर, झारखंड के ऊपर एक साइक्लोनिक टर्फ बनने के कारण शुक्रवार को देवघर, हजारीबाग, कोडरमा, गिरिडीह, चतरा, गढ़वा, लातेहार, पलामू आदि इलाकों में हवा के साथ छिटपुट बारिश हुई. ज्ञात हो कि 12 अप्रैल को राजधानी का अधिकतम तापमान 32.4 डिग्री और न्यूनतम तापमान 18.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

Also Read: Jharkhand Weather Forecast: झारखंड में 15 दिन के मौसम का पूर्वानुमान, जानें कब होगी बारिश, कितना रहेगा तापमान

किसानों के लिए सलाह

बिरसा कृषि विवि के कृषि वैज्ञानिकों ने किसानों को आनेवाले दिनों में हल्की बारिश व बदल छाये रहने की स्थिति में किसी भी तरह की दवा का छिड़काव नहीं करने की सलाह दी है. किसान मौसम साफ होने पर ही दवा का छिड़काव करें. इस तरह के मौसम में बीमारी का प्रकोप अधिक रहता है. इसलिए किसान खड़ी फसलों की नियमित निगरानी करते रहें. भंडारण से पहले अनाज को ठीक से साफ करें. नमी की मात्रा सुखायें. ग्रीष्मकालीन मक्के की फसल में मिट्टी चढ़ायें. फसल में प्रति एकड़ 26 किलोग्राम यूरिया डालें.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें