1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. jharkhand crime news ward councilor husband killed in ranchi hindpiri by criminals death srn

वार्ड पार्षद के पति को रांची के हिंदपीढ़ी में अपराधियों ने मारी गोली, मौत, जानें कैसे घटी ये घटना

रांची के हिंदपिढ़ी में वार्ड नंबर 17 के पार्षद शबाना खातून के पति मो फिरोज की अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी, पुलिस आशंका जता रही है कि आपसी रंजिश में ये घटना घटी. स्थानीय लोगों के अनुसार वो पेशे से जमीन कारोबारी थे.

By Sameer Oraon
Updated Date
वार्ड पार्षद के पति की रांची में गोली मारकर हत्या
वार्ड पार्षद के पति की रांची में गोली मारकर हत्या
Symbolic Image

Jharkhand Crime News रांची: वार्ड नंबर 17 की पार्षद शबाना खातून के पति मो फिरोज उर्फ रिंकू (40) की अपराधियों ने पीठ में चार गोली मार कर हत्या कर दी. घटना हिंदपीढ़ी थाना क्षेत्र के सेकेंड स्ट्रीट स्थित हफीज चौक के समीप शनिवार की शाम 7.15 बजे की है. घटना को बाइक पर सवार दो अपराधियों ने अंजाम दिया. आसपास के लोग रिंकू के बचे होने की आस में आलम अस्पताल लेकर पहुंचे. इसके बाद वहां से मेडिका गये, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

आरंभिक जांच में परिवार के सदस्यों ने किसी पर हत्या की आशंका जाहिर नहीं की है. हालांकि पुलिस को आशंका है कि जमीन विवाद या किसी पुरानी रंजिश में उनकी हत्या की गयी है. घटनास्थल पर जांच के लिए पहुंची कोतवाली की प्रभारी डीएसपी यशोधरा के अनुसार घटनास्थल से गोली के चार खोखे बरामद हुए हैं. आरंभिक जांच के क्रम में स्थानीय लोगों ने पुलिस को बताया कि मो फिरोज उर्फ रिंकू पेशे से जमीन के कारोबार से जुड़े थे.

कैसे घटी घटना :

परिजनों के अनुसार, मो फिरोज गुदड़ी चौक के समीप स्थित अपने घर से शाम 4.30 बजे दोस्त मो नौशाद के साथ स्कूटी से खेत मोहल्ला जाने के लिए निकले थे. इसके बाद दोनों मो मुर्शीद के घर पहुंचे. मो फिरोज ने मुर्शीद से 45 लाख रुपये बकाये पैसे की मांग की. शाम होने के कारण दोनों ने मुर्शीद के घर ही रोजा खोला और इफ्तार किया. फिर फिरोज और नौशाद मुर्शीद के घर से निकल कर स्कूटी से कहीं जाने लगे.

स्कूटी मो नौशाद चला रहा था, जबकि फिरोज पीछे बैठा था. दोनों जब सेकेंड स्ट्रीट स्थित हफीज चौक के पास पहुंचे, तभी पीछे से बाइक सवार दो अपराधी आये. जिसमें बाइक के पीछे बैठे अपराधी ने पिस्टल निकाल कर स्कूटी के पीछे बैठे मो फिरोज को चार गोली मार दी. गोली चलते ही नौशाद ने स्कूटी से नियंत्रण खो दिया. जिससे दोनों स्कूटी से गिर गये.

अपराधियों ने मो नौशाद पर फायरिंग नहीं की. इसी दौरान दोनों अपराधी वहां से भाग निकले. इसके बाद मो नौशाद ने जहां एक ओर फोन कर लोगों को घटना की जानकारी दी. वहीं दूसरी ओर आस पास के लोग गोली की आवाज सुन जुट गये और फिरोज को अस्पताल ले गये.

सीसीटीवी फुटेज :

स्कूटी से मो फिरोज अपने दोस्त नौशाद के साथ घर लौट रहा था. इसी दौरान बाइक सवार दो अपरािधयों ने हफीज चौक के पास स्कूटी के पीछे बैठे फिरोज के पीठ में चार गोली मार दी.

सीसीटीवी फुटेज में कैद है घटना, दोस्त नौशाद बचे

हत्या की पूरी घटना घटनास्थल के पास लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गयी है. जिसमें बाइक सवार दोनों अपराधी देखे गये हैं. पुलिस ने जांच के लिए सीसीटीवी कैमरा जब्त कर लिया है. हालांकि फुटेज थोड़ा धुंधला होने से खबर लिखने तक अपराधियों की पहचान नहीं हो सकी है. सीसीटीवी फुटेज को देखने से पुलिस को आशंका है कि अपराधियों के टारगेट में सिर्फ रिंकू था, क्योंकि उन्होंने मो नौशाद पर कोई फायरिंग नहीं की. वहीं दूसरी ओर मो रिंकू की गतिविधियों की जानकारी आरोपियों को पहले से होगी. इस कारण अपराधियों ने रेकी के बाद घटना को अंजाम दिया.

Posted By: Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें