नहीं बना कोल्ड स्टोरेज, नहीं लगा टमाटर का कैचअप प्लांट

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

चंदवा : लातेहार विधानसभा क्षेत्र में कई ज्वलंत समस्या है इसमें किसानों के कई मुद्दे भी हैं. सिंचाई सुविधा की कमी और उत्पादित फसल के लिए उपयुक्त बाजार नहीं मिलने के कारण स्थानीय किसानों को उनके मेहनत का वाजिब हक नहीं मिल पाया. लातेहार विधानसभा क्षेत्र में लातेहार के अलावा चंदवा, बालूमाथ बारियातू और हेरहंज प्रखंड आते है. बालूमाथ, बारियातू और हेरहंज वर्षों से टमाटर उत्पादन का हब रहा है. यहां बहुतायत मात्रा में टमाटर की खेती होती है. बावजूद इन प्रखंडों की अनदेखी की गयी.

स्थानीय किसान बार-बार कोल्ड स्टोरेज और टमाटर कैचअप प्लांट लगाने की मांग करते आ रहे हैं. लेकिन हर बार यहां के किसान छले गये हैं. बताते चलें कि कोलकाता, यूपी, मप्र, छतीसगढ़, बिहार, दिल्ली समेत अन्य राज्यों के व्यापारी इन प्रखंडों से टमाटर का व्यवसाय करते हैं. लेकिन यहां के किसानों की औने-पौने दाम पर टमाटर बेचना मजबूरी है.

कई बार तो स्थिति ऐसी हो जाती है कि वाजिब दाम नहीं मिलने के कारण किसान टमाटर सड़कों पर ही फेक कर ही चले जाते हैं. करीब एक दशक पूर्व विधायक कोटे से ही बारियातू प्रखंड में टमाटर कैचअप निर्माण को लेकर टमाटर बिक्री केंद्र का भवन बनाया गया था. लेकिन प्रशासनिक उदासीनता के कारण स्थानीय किसानों को इसका लाभ नहीं मिल पाया. धीरे-धीरे यह भी जर्जर हो गया.

रहिया गांव निवासी गोपाल यादव कहते हैं कि बार-बार बारियातू में टमाटर सॉस प्लांट निर्माण की मांग हम लोगों ने की है. अब तक इस दिशा में कभी भी कोई मुखर नहीं हो पाया. इसके चलते हमें अपने टमाटर का वाजिब दाम नहीं मिल पाता है. जिला प्रशासन और जनप्रतिनिधि ने भी हमारी जरूरतों को नजरअंदाज किया.

गाड़ी गांव निवासी रामफल उरांव ने कहा कि अगर स्थानीय स्तर पर कोल्ड स्टोरेज व सॉस प्लांट लग जाता तो हमारे द्वारा उत्पादित सब्जी की अच्छी कीमत हमें मिलती. किसानों को लाभ होता. किसान आगे बढ़ते पर अब तक इसकी अनदेखी की गयी है.

फुलसू गांव निवासी मो मोइन ने कहा कि कई बार सॉस प्लांट के लिए जिला प्रशासन व विधायक-सांसद को आवेदन दिये गये, बावजूद इस पर काम नहीं हो पाया. दूसरे प्रदेश के व्यापारी औने-पौने दाम में यहां से टमाटर ले जाते हैं. स्थिति यह है कि मेहनत करके भी हमारे खर्च से ज्यादा मुनाफा व्यापारी कमाते हैं.

क्षेत्रीय विधायक प्रकाश राम ने कहा कि कहा कि मैंने अपने वायदे के 90 फीसदी काम पूरे किये हैं. बारियातू में टमाटर कैचअप प्लांट लगाना हमारी प्राथमिकता में से एक है. उसके लिये भी प्रक्रिया पूरी कर ली गयी है. कोल्ड स्टोरेज निर्माण की प्रक्रिया भी जारी है. सिंचाई सुविधाओं पर भी काम हुआ है. आने वाले दिनों में किसानों को इसका भरपूर लाभ मिलेगा.

    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें