29.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

हलुदबनी के ग्रामीणों ने अवैध शराब भट्ठियों को तोड़ा

संचालकों पर केस नहीं होने पर ग्रामीणों में आक्रोश

वरीय संवाददाता, जमशेदपुर

‘दलमा में पेड़ों की अंधाधुंध कटाई, दर्जनों भट्ठियों में अवैध शराब की चुलाई’ शीर्षक से विगत 31 मई को ‘प्रभात खबर’ ने समाचार को प्रमुखता से छापा था. इसके बाद दलमा से सटे आसपास के गांव के ग्रामीणों ने शराब भट्ठियाें को बंद करने का फैसला लिया. इसके बाद दलमा से हलुदबनी गांव के ग्रामीणों ने आसपास के शराब भट्ठियों को तोड़-फोड़कर तहस-नहस कर दिया. साथ ही फॉरेस्टर जितेंद्र मुर्मू से आग्रह किया कि जिन लोगों की शराब भट्ठी है, उन पर अविलंब केस दर्ज किया जाये. वहीं दो सप्ताह बीत जाने के बाद भी शराब भट्ठियों के संचालकों पर मामला दर्ज नहीं हुआ, जिससे ग्रामीणों में आक्रोश है. ग्रामीणों ने बताया कि शायद फॉरेस्टर मामले की लीपापोती में लगे हैं. अब ग्रामीण जल्द ही जिले के उपायुक्त, वन विभाग के अधिकारी से जाकर मिलेंगे और लिखित शिकायत कर शराब भट्ठियों के संचालक पर केस करने की मांग करेंगे.

फदलोगोड़ा क्षेत्र में अभी भी शराब भट्ठियों का हो रहा संचालन

शराब भट्ठियों के संचालकों का हौसला अभी भी बुलंद है. अखबार में समाचार छपने के बाद एक सप्ताह तक शराब उत्पादन को ठप रखा गया. इसके बाद फिर बदस्तुर शराब भट्ठियों का संचालन शुरू हो गया है. फिर पेड़ों की अंधाधुंध कटाई हो रही है और अवैध शराब भट्ठियों का संचालन हो रहा है. ग्रामीणों ने बताया कि शराब भट्ठियों के संचालक जमशेदपुर शहर के अंदर के रहने वाले हैं. गांव के एक-दो ग्रामीण को शराब भट्ठियों को देखरेख में रखे हुए हैं. वे सारा काम संचालक की इशारे पर ही करते हैं.

फॉरेस्टर के बोल –

मुझे हाथ में चोट लगी है. इस वजह से शराब भट्ठियों के संचालकों पर केस दर्ज नहीं हो पाया है. शराब भट्ठियों के संचालकों को चिह्नित कर लिया गया है. एक सप्ताह के अंदर सभी शराब भट्ठियों के संचालकों पर मामला दर्ज किया जायेगा. ग्रामीणों को निराश होने की जरूरत नहीं है.

– जितेंद्र मुर्मू, फॉरेस्टर, वन विभाग

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें