जमशेदपुर : जंगल में गलत होता देख थाना ले गयी पुलिस, डीएसपी ने भी किया दुष्कर्म

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
जमशेदपुर : मानगो सहारा सिटी अपार्टमेंट में नाबालिग से दुष्कर्म मामले में गुरुवार को एडीजे-5 की अदालत में पीड़िता की गवाही शुरू हुई. गवाही में पीड़िता ने अपने साथ हुए घटनाक्रम की जानकारी दी.
पीड़िता ने 18 लोगों का नाम उसके साथ गलत करने के लिए लिया. पीड़िता ने बताया कि वह मुंह बोले चाचा के घर रहती है. उनके घर का काम करती है. चाचा ही उसका लालन-पालन करते हैं. एक दिन वे बाहर गये थे तो घर की लाइट चली गयी थी. उन्होंने शिव कुमार को लाइट ठीक करने के लिए भेजा था. शिव कुमार ने अकेला पाकर उसके साथ गलत किया व वीडियो बना लिया.
पीड़िता ने गवाही में बताया कि उसके साथ घटनाक्रम की शुरुआत नोट बंदी के आसपास हुई थी. शिव कुमार से जानकारी इंद्रपाल सिंह सैनी को मिली तो उसने भी उसके साथ गलत किया और वीडियो बनाकर ब्लैकमेल किया.
उसे एमजीएम थाना क्षेत्र के एक जंगल में ले गया, जहां कुछ लोगों ने उसके साथ गलत किया. वहां पुलिस ने उसे पकड़ा और एमजीएम थाना लेकर आयी. थाने में इंस्पेक्टर और डीएसपी ने भी उसके साथ गलत काम किया. इसके बाद एक महिला उसकी चाची बनकर आयी और उसे छुड़ा कर ले गयी.
इस घटना के बाद उसे एनएच-33 स्थित कई होटलों में ले जाया गया, जहां कई लोगों ने उसके साथ दुष्कर्म किया व वीडियो बनाया. वह जिस अपार्टमेंट में रहती थी, वहां के फ्लैट में भी ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया गया. उसे टेल्को भी ले जाया गया. उसके चाचा बार-बार कहते थे कि उनके घर में गलत हो रहा है, लेकिन वह सैनी के डर से उन्हें कुछ नहीं बताती थी. गवाही की अगली तिथि 23 नवंबर निर्धारित की गयी है.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें