1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. hazaribagh
  5. fake news against chattibariatu rozgar sevak of hazaribagh went viral on social media defamation claim of 50 lakhs rupees smj

हजारीबाग के चट्टीबारियातु रोजगार सेवक के खिलाफ सोशल मीडिया में वायरल हुआ फर्जी खबर, 50 लाख का मानहानि का दावा

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
हजारीबाग के चट्टीबारियातु रोजगार सेवक ने फर्जी खबर चलाने को लेकर 50 लाख का मानहानि का किया दावा.
हजारीबाग के चट्टीबारियातु रोजगार सेवक ने फर्जी खबर चलाने को लेकर 50 लाख का मानहानि का किया दावा.
प्रतीकात्मक तस्वीर.

Jharkhand News (केरेडारी, हजारीबाग) : झारखंड के हजारीबाग जिला अंतर्गत केरेडारी प्रखंड के चट्टीबारियातु पंचायत में रोजगार सेवक के खिलाफ सोशल मीडिया पर फर्जी खबर चलाया गया. इससे आहत होकर रोजगार सेवक नंदकिशोर राम ने केरेडारी थाना में मानहानि का दावा ठोंका है. राेजगार सेवक श्री राम पर 15 हजार रुपये घूस लेते ACB की टीम द्वारा गिरफ्तार करने की फर्जी खबर सोशल मीडिया पर चलाया गया था.

क्या है मामला

केरेडारी प्रखंड अंतर्गतज चट्टीबारियातु पंचायत के रोजगार सेवक नंदकिशोर राम ने केरेडारी सीओ सह बीडीओ राकेश तिवारी और केरेडारी थाना प्रभातरी अमित द्विवेदी को लिखित आवेदन दिया है. इस आवेदन में उसने सोशल मीडिया में फर्जी खबर चलाने का जिक्र है. बताया गया कि सोशल मीडिया के व्हाट्स एप ग्रुप में फर्जी खबर चलाया गया.

खबर में बताया गया कि मुझे ACB की टीम ने 15 हजार रुपये बतौर घूस लेते गिरफ्तार किया है. जबकि यह खबर पूरी तरह से गलत है. फर्जी खबर चलाये जाने से मानसिक और शारीरिक रूप से परेशान रहा. इसी को लेकर व्हाट्स एप ग्रुप के ग्रुप एडमिन के खिलाफ 50 लाख रुपये का मानहानि का दावा किया गया. साथ ही आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने की भी मांग की गयी.

पीड़ित नंदकिशोर राम ने कहा कि बदनाम करने के उद्देश्य से बुधवार की रात उक्त आरोपियों ने सोशल साइट के व्हाट्स एप ग्रुप में मेरे द्वारा 15 हजार रुपये घूस लेते ACB की टीम द्वारा रंगेहाथ पकड़ने की फर्जी खबर चला दी. इस बात की जानकारी मुझे ग्रामीणों द्वारा मिली. जानकारी मिलते ही खबर की जांच की गयी और खबर को सही पाया. इस बीच मैं काफी परेशान हो गया. लोग बार-बार फोन कर पूछने लगे, जिससे परेशान होकर पुलिस प्रशासन के शरण में गया.

फर्जी मैसेज भेजने वालों पर होगी कार्रवाई : बीडीओ

इस संबंध में केरेडारी सीओ सह बीडीओ राकेश तिवारी ने कहा कि फर्जी मैसेज चलाना कानूनन अपराध है. मामला संज्ञान मेें आया है. केरेेड़ारी पुलिस को फर्जी मैसेज भेजने वाले आरोपी व ग्रुप एडमिन पर कानूनी कार्रवाई का निर्देश दिया गया. वहीं, केरेडारी थाना प्रभारी अमित द्विवेदी ने कहा कि पीड़ित नंदकिशोर राम की ओर से थाना में आवेदन मिला है. मामला दर्ज कर आरोपियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जायेगी.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें